BREAKING NEWS

दिल्ली में 445 लोग COVID-19 से संक्रमित, और बढ़ सकते हैं मामलें : CM केजरीवाल◾तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद ने क्राइम ब्रांच को भेजा जवाब, कहा- अभी सेल्फ क्वारनटीन में हूं, बाकी सवाल बाद में◾स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान : देश के कुल कोरोना संक्रमित मामलों में 30 फीसदी तबलीगी जमात के लोग◾राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾कोविड-19 पर सरकार ने जारी किया परामर्श, चेहरे और मुंह के बचाव के लिए घर में बने सुरक्षा कवर का करे प्रयोग◾जानिये क्यों, पीएम की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील के बाद अलर्ट मोड पर है बिजली विभाग की कंपनियां◾तबलीगी जमातियों पर भड़के राज ठाकरे,कहा- ऐसे लोगों को गोली मार देनी चाहिए ◾PM मोदी ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता को शेयर करते हुए कहा- आओ दीया जलाएं◾देश में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, गौतम बुद्ध नगर में वायरस के 5 नए मामले आए सामने ◾PM मोदी की दीया अपील पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया, कहा- दोबारा सोचने की है जरुरत ◾बिजनौर के आइसोलेशन वार्ड में रखे गए जमातियों ने किया हंगामा, अंडे और बिरयानी की फरमाइश की◾दिल्ली : कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए गंगाराम अस्पताल के 108 स्वास्थ्यकर्मियों को किया गया क्वारनटीन◾प्रियंका ने किया योगी सरकार पर वार, कहा- स्वास्थ्यकर्मियों को सबसे ज्यादा सहयोग की है जरूरत◾देश में 2900 से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित, अब तक 68 की मौत◾कोविड-19 : अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 1,480 लोगों की मौत, इराक में 820 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि◾राजस्थान : कोरोना संक्रमित 60 वर्षीय महिला की मौत, संक्रमण के 191 मामलों की पुष्टि◾जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों ने मुठभेड़ में 2 आतंकवादियों को मार गिराया, ऑपरेशन जारी◾कर्नाटक में कोरोना वायरस से 75 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 4 हुई ◾कोरोना वायरस दिल्ली में नहीं फैला, घबराने की जरूरत नहीं: केजरीवाल ◾कोविड-19 : राज्यों में संक्रमण के 500 से ज्यादा मामले आये सामने , इसके साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या 3,000 पार ◾

शाहीनबाग : तीसरे दिन भी नहीं निकला हल, लेकिन बातचीत में सुरक्षा को लेकर बनी सहमति

शाहीनबाग में तीसरे दिन वार्ताकार और प्रदर्शनकारियों की बातचीत में सुरक्षा का मुद्दा अहम रहा है और जब सुरक्षा को लेकर बात रखी गई तो प्रदर्शनकारियों ने कहा कि दिल्ली पुलिस लिखित में आश्वासन दे। 

उन्होंने कहा कि सुरक्षा को लेकर हमें भरोसा नहीं है और अगर कुछ घटना होती है तो कमिश्नर से लेकर बीट कॉन्स्टेबल को जिम्मेदार माना जाए और बर्खास्त किया जाए। 

साधना रामचंद्रन ने कहा, 'एक बात बतायें दूसरी तरफ की सड़क किसने घेरी है?' तो प्रदर्शनकारियों की तरफ से आवाज आई हमने नहीं घेरी। इसके बाद वार्ताकार रामचंद्रन ने कहा कि अच्छा आप ये कहना चाहती हैं कि सड़क पुलिस ने घेरी है आपने नहीं!

 

इसके बाद एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि जब पुलिस ने सड़क ही आगे से बंद कर रखी है तो हमने इसे फिर अपनी सुरक्षा की वजह से बंद कर दी। वार्ताकार साधना ने अपनी बात तो आगे बढ़ाते हुए कहा कि अगर पुलिस के द्वारा बंद रास्ते खुल जाएंगे तो क्या रास्ते की दिक्कतें खत्म हो जाएगी? तो प्रदर्शनकारियों की तरफ से कहा गया कि पुलिस द्वारा बंद रास्ते खुलते हैं तो रास्ते का समाधान निकल जाएगा। 

वार्ताकारों ने प्रशासन के अधिकारियों को सबके सामने बुलाया और प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा की बात पूछी जिसके बाद प्रशासन की तरफ से कहा गया कि हम प्रदर्शनकारियों को सुरक्षा देंगे अगर एक रोड खुलता है तो साथ ही हम बेरिकेडिंग लगा देंगे और पुलिस के जवानों को भी खड़ा करेंगे। एक महिला प्रदर्शनकारी ने कहा कि जब पुलिस की मौजूदगी में गोली चल सकती है तो बाद में क्या होगा? हमें पुलिस पर भरोसा नहीं।

उसके बाद प्रदर्शनकारी ने अपनी बात को आगे रखते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस लिखित में हमें आश्वाशन दे कि सुरक्षा मिलेगी और अगर यहां किसी तरह की कोई घटना होती है तो कमिश्नर, डीसीपी, एसएचओ और बीट कॉन्स्टेबल जिम्मेदार हो।

 

शाहीनबाग में प्रदर्शनकारियों से वातार्कार रामचंद्रन ने सवाल पूछते हुए कहा कि क्या आप मानते हैं कि हम सब नागरिक हैं और क्या आप मानते हैं कि संविधान में हम सबका हक है तो फिर हल भी हम सबको मिलकर निकालना चाहिए। 

उन्होंने आगे सवाल करते हुए पूछा कि क्या यह रास्ता खुलना नहीं चाहिए? आपकी आवाज भी बुलंद और बरकरार रहनी चाहिए। एक छोटा सा हल हमें निकालना है कि रोड भी खुल जाए जिससे लोग रोड इस्तमाल कर सकें।