पूर्वी दिल्ली : न्यू अशोक नगर इलाके में पिता द्वारा रुपए न देने और काम करने के लिए कहने पर एक 17 वर्षीय किशोर इस कदर आग बबूला हो गया कि उसने अपने पिता के सीने में ही चाकू घोंप दिया। 42 वर्षीय घायल शख्स को उनकी पत्नी लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल लेकर गईं, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

डीसीपी ईस्ट पंकज कुमार सिंह का कहना है कि पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद मृतक का शव परिजनों के हवाले कर दिया है। साथ ही हत्या का केस दर्ज कर किशोर को हिरासत में लेकर जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में पेश किया गया, जहां से उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। पुलिस के मुताबिक, मृतक अपनी पत्नी व बेटे के साथ न्यू अशोक नगर इलाके में रहते थे। वह नोएडा की एक कंपनी में काम करते थे। रविवार रात सभी घर पर थे।

उसी दौरान बेटे ने अपने पिता से डेढ़ सौ रुपए मांगे। पिता ने रुपए देने से इंकार कर दिया। साथ ही बेटे को कुछ काम न करने पर डांटना शुरू कर दिया। इस पर दोनों के बीच बहस शुरू हो गई। उस दौरान बेटे ने गुस्से में उठकर घर में रखा चाकू अपने पिता के सीने में घोंप दिया। इसके बाद मौके से फरार हो गया। मृतक की पत्नी खून से लथपथ पति को अस्पताले लेकर पहुंची।

जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर हमलावर बेटे को भी दबोच लिया। बताया गया है कि पिता और बेटे के बीच काफी समय से तनातनी चल रही थी। पिता बेटे के कुछ काम न करने की बात से नाराज रहते थे। बेटा आए​ दिन रुपयों की मांग करता था।