BREAKING NEWS

मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों की समिति की हुई बैठक, CDS बिपिन रावत की मौत के बारे में अवगत कराया गया◾CDS जनरल बिपिन रावत की मृत्यु के चलते सोनिया गाँधी ने जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया◾जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी के निधन पर राष्ट्रपति कोविंद समेत इन नेताओ ने शोक व्यक्त किया ◾CDS बिपिन रावत के निधन पर PM मोदी समेत सभी बड़े नेताओं ने शोक प्रकट किया ◾CDS जनरल बिपिन रावत के निधन पर योगी आदित्यनाथ समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने शोक व्यक्त किया◾केंद्र की राज्यों को कड़ी नसीहत, कहा- 'ओमिक्रोन' मामलों का इलाज केवल निर्धारित कोविड अस्पतालों में ही किया जाए◾हेलीकॉप्टर क्रैश : CDS बिपिन रावत समेत 12 लोगों की मौत, वायुसेना ने की पुष्टि ◾एंजेला मर्केल की जगह जर्मनी के नए चांसलर बने ओलाफ शोल्ज, नई सरकार के समक्ष कई चुनौतियां ◾देश के पहले CDS बिपिन रावत का कैसा रहा 42 साल लंबा सैन्य सफर, जानें उनके बारे में बेहद खास बातें ◾Mi-17 चौपर : बेहद अत्याधुनिक होने के बावजूद रहा है खतरनाक रिकॉर्ड, कई बार हो चुका है भीषण क्रैश◾सीडीएस बिपिन रावत के हेलिकॉप्टर क्रैश पर राहुल गांधी, नितिन गडकरी समेत कई नेताओं ने जताया दुःख◾कुन्नूर हेलीकॉप्टर हादसे पर संसद में राजनाथ सिंह देंगे बयान, 11 लोगों के शव बरामद,रेस्क्यू ऑपरेशन जारी ◾सदन नहीं चलने देना चाहती केंद्र, खड़गे का दावा- महंगाई समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा से बच रही सरकार ◾राज्यसभा के निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्षी नेताओं का समर्थन जारी, संसद परिसर में दिया धरना ◾UP विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने जारी किया 'महिला घोषणापत्र', नौकरियों में 40% आरक्षण समेत कई बड़े वादे◾CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी को ले जा रहा सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, कुन्नूर में हुआ हादसा ◾मोदी के बयान पर अखिलेश का करारा जवाब- लाल रंग भावनाओं का प्रतिक, हार का डर ला रहा भाषा में बदलाव ◾महंगाई, बेरोज़गारी और कृषि संकट की वजह सरकार की विफलता है, राहुल गांधी ने केंद्र पर लगाया आरोप ◾'पाकिस्तानी-खालिस्तानी' बुलाये जाने पर फारूक अब्दुल्ला ने जताया खेद, बोले- गांधी का भारत लाए वापस◾लालू के घर बजेंगी शहनाई, तेजस्वी यादव की शादी हुई पक्की, दिल्ली में आज या कल होगी सगाई ◾

दिल्ली में वायु गुणवत्ता पर असर डालने वाले पदूषकों की पहचान के लिए होगा अध्ययन

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण में उतार-चढ़ाव की निगरानी तथा विशिष्ट प्रदूषकों की पहचान के लिए एक जाने माने थिंक टैंक के साथ मिलकर प्रयोग के तौर पर एक अध्ययन करेगी ताकि प्रदूषण में आकस्मिक वृद्धि की स्थिति में जरुरी उपाय तैयार किया जा सके।

सेंटर फॉर साइंस एंड इनवायरोनमेंट (सीएसई) के उपमहानिदेशक चंद्रभूषण ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर में परिवेशी वायु स्रोत अनुपात अध्ययन में जापानी उपकरण कंपनी होरिबा द्वारा प्रदत्त उपकरण का इस्तेमाल किया जाएगा । यह उपकरण राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण स्तर की समयोचित निगरानी कर सकता है।

इस अध्ययन का उद्देश्य दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के विभिन्न स्रोतों की पहचान करना और उच्च प्रदूषण संभावित चुनिंदा स्थलों पर स्रोतों के उदगम का ब्योरा जुटाना है।

पीयूष गोयल को वित्त, कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया

चंद्र भूषण ने कहा, ‘‘तीन महीने के इस अध्ययन के दौरान दिल्ली एनसीआर के विभिन्न स्थानों के मूलाधार आंकड़े जुटाये जाएंगे। इसकी स्वतंत्र अध्ययन की योजना तैयार की गयी है जिसमें एक्सआरएफ और बीटा रे शमन प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया जाएगा।’’

उन्होंने कहा कि प्रदूषण के विभिन्न स्रोतों के मूलाधारों का पता चलने के बाद समय से उनका विश्लेषण हो पाएगा और नियमाकों को शीघ्र ही सुधार के उपाय करने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रदूषण की स्थिर निगरानी से काम नहीं चलेगा। हमें यथाशीघ्र कदम उठाने के लिए गतिशील निगरानी की जरुरत है।’’

डीपीसीसी के वायु गुणवत्ता संभाग के प्रमुख मोहन जी जॉर्ज ने कहा कि प्रदूषण स्तर में आकस्मिक वृद्धि के बारे में भिन्न भिन्न समझ है और इस अध्ययन से उसकी हमारी समझ सुधरेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें आशा है कि उसकी समझ में सुधार आने से अनुक्रमित जवाबी कार्ययोजना को और प्रभावी तरीके से लागू करना संभव होगा। ’’