BREAKING NEWS

कांग्रेस ने महाराष्ट्र मंत्रिमंडल में संजय राठौर को शामिल किए जाने को लेकर BJP पर साधा निशाना◾High Court में जनहित याचिका : याददाश्त खो चुके हैं सत्येंद्र जैन, विधानसभा और मंत्रिमंडल से अयोग्य घोषित किया जाए◾केजरीवाल ने गुजरात में सत्ता में आने पर महिलाओं को 1000 रुपये मासिक भत्ता देने का किया ऐलान ◾ISRO ने गगनयान से जुड़ा LEM परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा किया◾Corbevax Corona Vaccine : केंद्र सरकार ने वयस्कों को कॉर्बेवैक्स की बूस्टर खुराक देने को दी मंजूरी ◾भारत के अतीत, वर्तमान के लिए प्रतिबद्धता और भविष्य के सपनों को झलकाता है तिरंगा : PM मोदी◾ हिमाचल में भी खिसक सकती हैं भाजपा की सरकार ! कांग्रेस ने विधानसभा में लाया अविश्वास प्रस्ताव ◾काले कपड़ों में कांग्रेस के प्रदर्शन पर PM मोदी ने कसा तंज, कहा- जनता भरोसा नहीं करेगी...◾जब नीतीश कुमार ने कहा था - येन केन प्रकारेण सत्ता प्राप्त करूंगा, लेकिन अच्छा काम करूंगा◾न्यायमूर्ति यू यू ललित होंगे सुप्रीमकोर्ट के नए प्रधान न्यायधीश ◾दिग्गज कारोबारी अडानी को जेड प्लस सिक्योरिटी, आईबी ने दिया था इनपुट◾शपथ लेने के बाद नीतीश की गेम पॉलिटिक्स शुरू, मोदी के खिलाफ कर सकते हैं ये बड़ा काम ◾नुपूर को सुप्रीम राहत, जांच पूरी न होने तक नहीं होगी गिरफ्तारी, सभी एफआईआर को एक साथ जोड़ा ◾ ‘‘नीतीश सांप है, सांप आपके घर घुस गया है।’’, भाजपा नेता गिरिराज ने याद की लालू की पुरानी बात ◾ सुनील बंसल का बीजेपी में बढ़ा कद, बनाए गए पार्टी महासचिव◾पिता जेल में तो संभाली पार्टी की कमान, 75 सीट जीतकर किया धमाकेदार प्रदर्शन, जानिए तेजस्वी के संघर्ष की कहानी ◾बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव◾शपथ लेते ही BJP पर बरसे नीतीश, कहा-2014 में जीतने वालों को 2024 की करनी चाहिए चिंता ◾60 वर्ष से अधिक उम्र की बहनों और माताओं के लिए बसों में निःशुल्क यात्रा योजना जल्द आएगी : CM योगी ◾ गुजरात भाजपा में फूट के संकेत ! मतभेद की खबर पकड़ रही हैं जोर◾

'शक' जिंदगी पर पड़ा भारी!

पूर्वी दिल्ली : लक्ष्मी नगर इलाके में सोमवार रात महिला द्वारा अपने दो बच्चों को छत से नीचे फेंकने के बाद खुद भी नीचे कूदकर खुदकुशी का प्रयास करने के पीछे का कारण शक बताया जा रहा है। दरअसल अब तक की जांच में पुलिस को पता चला है कि पति को शक था कि उसकी गैर मौजूदगी में उसके घर कोई शख्स आता है। इसी बात को लेकर पति-पत्नी के बीच अक्सर तनातनी रहती है। वारदात से कुछ मिनट पहले भी दोनों के बीच फोन पर झड़प हुई थी। इसके बाद ही महिला ने ये खौफनाक कदम उठाया।

फिलहाल पुलिस ने आलिया (34) के खिलाफ पुलिस ने बच्चों की हत्या करने व खुदकुशी का प्रयास करने का केस दर्ज कर लिया है। खबर लिखे जाने तक आलिया बयान देने की स्थिति में नहीं थी। उसका अस्पताल में उपचार जारी है। मुम्बई में रहने वाले आलिया के माइके वालों को बुलाया गया है। पुलिस पति मुनव्वर और इलाके के लोगों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। जानकारी के मुताबिक, आलिया मूल रूप से मुंबई की रहने वाली है।

मुनव्वर बिहार के सहरसा जिला का रहने वाला है उसका भाई अपने परिवार के साथ शास्त्री पार्क इलाके में रहता था। वर्ष 2010 में मुनव्वर और आलिया की शादी हुई थी। इसके बाद वह लक्ष्मी नगर इलाके में रहने लगा था। दोनों की एक बेटी महक और बेटा आफान था। सोमवार रात आलिया ने बच्चों को छत से नीच फेंकने के बाद खुद भी छलांग लगा दी थी। जिस कारण दोनों बच्चों की मौत हो गई, जबकि आलिया का अस्पताल में उपचार जारी है।

शनिवार को भी हुआ था झगड़ा इलाके के लोगों की माने तो पति-पत्नी के बीच बीते शनिवार को भी काफी लड़ाई हुई थी। बात पुलिस तक पहुंच गई थी। आलिया ने मामले की सूचना पुलिस को दे दी थी। पुलिस उनके घर भी आई थी। हालांकि उनको ये जानकारी नहीं कि आखिर महिला ने पुलिस को शिकायत दी थी और फिर उसमें आगे क्या हुआ।

आलिया ने पहले खाई थी नींद की गोलियां एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सोमवार रात करीब आठ बजे आलिया और मुनव्वर के बीच फोन पर कुछ कहासुनी हुई थी। साथ ही उन्हें आलिया की मेडिकल रिपोर्ट से पता चला है कि उसने काफी संख्या में नींद की गोलिया खाई थी। अब सवाल ये है कि क्या महिला ने भी बच्चों को गोलियां खिलाई थी। इसका खुलासा बच्चों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगा। बुधवार को दोनों बच्चों का पोस्टमार्टम मेडिकल बोर्ड से करवाया जाएगा।

इसलिए था पत्नी पर शक एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें इलाके के लोगों से पता चला है कि मुनव्वर की गैर मौजूदगी में उसके घर कोई शख्स आता है। ये बात लोगों ने भी मुनव्वर को भी बताई थी। यही नहीं ये भी पता चला है कि आलिया के पास तीन मोबाइल हैं। जिन पर वह पासवर्ड लगाकर रखती है। ये बात भी मुनव्वर को हजम नहीं होती है और दोनों के बीच कलेश रहता है।

जानकार ने संभाला कुत्ता... मुनव्वर के घर में एक पालतू कुत्ता भी है। वारदात के बाद जब पुलिस टीम उसके फ्लैट पर पहुंची तो कुत्ता वहीं था। मुनव्वर अस्पताल और कानूनी कार्रवाई में व्यस्त हैं। इस कारण उनका कुत्ता पड़ोसी को सौंपा​ दिया गया। पड़ोसी ने एक दिन कुत्ते को संभालने के बाद इलाके में कपड़ों को प्रेस करने का काम करने वाले शख्स को सौंप दिया। अब कुत्ता प्रेस करने वाले के एक रिश्तेदार के घर पर है।

मां ने बेटा-बेटी को छत से नीचे फेंका