BREAKING NEWS

UP: हाथरस पीड़ित का परिवार नहीं लड़ेगा विधानसभा चुनाव, कहा- पहले हमें इंसाफ दिलाओ◾UP चुनाव में JDU को नहीं मिला BJP का साथ, केसी त्यागी ने किया पार्टी के अकेले मैदान में उतरने का ऐलान ◾UP विधानसभा चुनाव: नेताओं को रिझाने के लिए कांग्रेस कर रही तरह-तरह के जतन ◾अखिलेश के चुनाव लड़ने पर BJP का तंज, नक़वी बोले-जुगाड़ से चल रही है विपक्ष का चौधरी बनने की जंग◾विश्व में कहीं खत्म नहीं हुआ कोरोना का आतंक, WHO ने ओमीक्रॉन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें क्या कहा? ◾World Corona: कोविड के वैश्विक मामलों में वृद्धि का दौर जारी, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 33.35 करोड़ के पार◾BJP ने मुलायम परिवार में लगाई बड़ी सेंध, भगवा दल में शामिल हुईं अपर्णा यादव ◾उत्तराखंड और गोवा चुनाव: BJP की CEC बैठक में उम्मीदवारों के नामों पर लगेगी मुहर, सीटों पर होगी चर्चा ◾कोविड 19 के गहराते संकट से जल्द मिलेगी राहत! कोरोना की तीसरी लहर को लेकर SBI के शोध में बड़ा दावा◾UP Assembly Election : सपा प्रमुख अखिलेश यादव लड़ेंगे विधानसभा चुनाव◾today's corona case: बीते 24 घंटों में कोविड के मामलों में हुई वृद्धि, सामने आए 2 लाख 82 हजार से ज्यादा नए मरीज◾UP : कोरोना गाइडलाइंस उल्लंघन मामले में सपा को राहत, चुनाव आयोग ने हिदायत देकर छोड़ा◾कोरोना ने डाला गणतंत्र दिवस समारोह पर असर, जानिए कौन होगा इस बार मुख्य अतिथि? ◾उत्तर भारत में अभी ठंड से ठिठुरन का सिलसिला रहेगा जारी, तो दिल्ली-UP समेत इन राज्यों में बारिश की संभावना◾उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में SP के लिए प्रचार करेंगी ममता बनर्जी◾भाजपा का दामन थाम सकती हैं मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव - सूत्र◾गणतंत्र दिवस झांकी विवाद : राजनाथ ने ममता को बंगाल की झांकी न होने की बताई ये वजह !◾पंजाब : कांग्रेस के 4 नेताओं ने मंत्री को पार्टी से निकालने की मांग की, सोनिया गांधी को लिखा पत्र ◾विधानसभा चुनावों में डिजिटल माध्यम से रैलियां करेगी BJP◾केरल : कोविड के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पाबंदियों पर बृहस्पतिवार को फैसला लेगी राज्य सरकार ◾

अदालत ने पुलिस को शर्जिल के आवाज का नमूना लेने की इजाजत दी

नयी दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार शर्जिल इमाम के आवाज का नमूना लेने की इजाजत बुधवार को पुलिस को दे दी। अदालत ने यह इजाजत इसलिए दी ताकि उसकी आवाज का मिलान उस वीडियो क्लिप की आवाज से किया जा सके जिसमें वह कथित तौर पर नफरत फैलाने वाला भाषण देते और सरकार को निशाना बनाते दिख रहा है। 

मुख्य मेट्रो पॉलिटन मजिस्ट्रेट पुरुषोत्तम पाठक ने यह आदेश दिल्ली पुलिस की एक अर्जी पर पारित किया और निर्देश दिया कि आरोपी को सीएफएसएल में 13 फरवरी को पेश किया जाए जो कि वर्तमान में न्यायिक हिरासत में है। न्यायाधीश ने कहा कि ‘‘मामले के तथ्यों और परिस्थितियों’’ और जांच अधिकारी द्वारा नमूना लेने के लिए उच्चतम न्यायालय के फैसले को उल्लेखित करने के मद्देनजर वह आरोपी के आवाज का नमूना लेने की अर्जी को स्वीकार कर रहे हैं। 

अदालत ने दिल्ली पुलिस की इस दलील पर गौर किया कि इमाम ने ‘‘सरकार के खिलाफ भाषण दिया जिसे सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया’’ और वह उसकी आवाज का मिलान वीडियो क्लिप की आवाज से करना चाहती है।भारतीय दंड संहिता की धारा 124ए के तहत तीन वर्ष से लेकर आजीवन कारावास तक की सजा हो सकती है। अदालत ने गत छह फरवरी को जेएनयू से पीएचडी कर रहे इमाम को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। इमाम को यहां जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय और अलीगढ़ में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने के लिए गत 28 जनवरी को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया था। इमाम को अगले दिन दिल्ली लाया गया था।