BREAKING NEWS

आज का राशिफल (11 अगस्त 2022)◾हर घर तिरंगा अभियान : शौर्य चक्र से सम्मानित सिपाही औरंगजेब की मां ने अपने घर पर फहराया 'तिरंगा'◾दिल का दौरा पड़ने के बाद राजू श्रीवास्तव एम्स में भर्ती , वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखे गए◾माकपा ने 'मुफ्त उपहार' वाले बयान को लेकर PM मोदी पर निशाना साधा◾कांग्रेस ने महाराष्ट्र मंत्रिमंडल में संजय राठौर को शामिल किए जाने को लेकर BJP पर साधा निशाना◾High Court में जनहित याचिका : याददाश्त खो चुके हैं सत्येंद्र जैन, विधानसभा और मंत्रिमंडल से अयोग्य घोषित किया जाए◾केजरीवाल ने गुजरात में सत्ता में आने पर महिलाओं को 1000 रुपये मासिक भत्ता देने का किया ऐलान ◾ISRO ने गगनयान से जुड़ा LEM परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा किया◾Corbevax Corona Vaccine : केंद्र सरकार ने वयस्कों को कॉर्बेवैक्स की बूस्टर खुराक देने को दी मंजूरी ◾भारत के अतीत, वर्तमान के लिए प्रतिबद्धता और भविष्य के सपनों को झलकाता है तिरंगा : PM मोदी◾ हिमाचल में भी खिसक सकती हैं भाजपा की सरकार ! कांग्रेस ने विधानसभा में लाया अविश्वास प्रस्ताव ◾काले कपड़ों में कांग्रेस के प्रदर्शन पर PM मोदी ने कसा तंज, कहा- जनता भरोसा नहीं करेगी...◾जब नीतीश कुमार ने कहा था - येन केन प्रकारेण सत्ता प्राप्त करूंगा, लेकिन अच्छा काम करूंगा◾न्यायमूर्ति यू यू ललित होंगे सुप्रीमकोर्ट के नए प्रधान न्यायधीश ◾दिग्गज कारोबारी अडानी को जेड प्लस सिक्योरिटी, आईबी ने दिया था इनपुट◾शपथ लेने के बाद नीतीश की गेम पॉलिटिक्स शुरू, मोदी के खिलाफ कर सकते हैं ये बड़ा काम ◾नुपूर को सुप्रीम राहत, जांच पूरी न होने तक नहीं होगी गिरफ्तारी, सभी एफआईआर को एक साथ जोड़ा ◾ ‘‘नीतीश सांप है, सांप आपके घर घुस गया है।’’, भाजपा नेता गिरिराज ने याद की लालू की पुरानी बात ◾ सुनील बंसल का बीजेपी में बढ़ा कद, बनाए गए पार्टी महासचिव◾पिता जेल में तो संभाली पार्टी की कमान, 75 सीट जीतकर किया धमाकेदार प्रदर्शन, जानिए तेजस्वी के संघर्ष की कहानी ◾

प्रदर्शनकारियों से बात करने शाहीन बाग पहुंचे वार्ताकार, कहा- आप की तरह दूसरों को भी है अधिकार

देश की सबसे बड़ी अदालत (सुप्रीम कोर्ट) द्वारा नियुक्त वार्ताकार वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े और साधना राम चंद्रन प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिये बुधवार को शाहीन बाग पहुंचे। दोनों वार्ताकार जब शाहीन बाग के प्रदर्शन मंच पर पहुंचे, तो लोगों ने तालियां बजाकर स्वागत किया।

वार्ताकार संजय हेगड़े ने सबसे पहले प्रदर्शकारियों को कोर्ट के फैसले को पढ़कर अंग्रेजी में सुनाया उसके बाद श्रीमती रामचंद्रन ने दोबारा हिंदी में फैसले के बारे मे विस्तार से बताया। श्रीमती रामचंद्रन ने सर्वोच्च अदालत का फैसला पढ़ते हुए कहा की विरोध प्रदर्शन करना आपका अधिकार है लेकिन इससे दूसरे के अधिकार में बाधा उत्पन्न न हो और सार्वजनिक सुविधा पर सभी का बराबर हक है। 

सड़क पर यहां से प्रतिदिन गुजरने वालों का भी बराबर का अधिकार है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के हिसाब से हम सब मिलकर समाधान निकालना चाहते हैं। उन्हें विश्वास है कि हम ऐसा हल निकालेंगे की पूरी दुनिया में मिसाल बन जाये। श्रीमती रामचंद्रन ने कहा कि हम आपस में बात करना चाहते है मीडिया के सामने बात नहीं की जाएगी। इस पर कुछ लोगों ने एतराज जताया। 

हेगड़ ने कहा कि आपस की बात मीडिया के सामने नहीं हो सकती है। उन्होंने मीडिया के सामने बात करने को लेकर लोगों से राय मांगी। इस पर राय बंटी नजर आई। अंतत: बातचीत की बीच से मीडिया को हटाने के निर्णय लिया गया और कहा कि बातचीत के बात मीडिया को पूरी जानकारी दी जाएगी। 

प्रदर्शनकारियों और वार्ताकार के बीच बातचीत शुरू हो गई है लेकिन यहां बैठे लोग सीएए की वापसी, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लागू नहीं करने से पहले यहां से हटने को राजी नहीं है। गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को वहां से हटने को राजी कराने के लिए सोमवार को वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़ को वार्ताकार नियुक्ति किया तथा मामले की सुनवाई 24 फरवरी तक के लिए टाल दी थी।