BREAKING NEWS

PNB धोखाधड़ी मामला: इंटरपोल ने नीरव मोदी के भाई के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस फिर से किया सार्वजनिक ◾कोरोना संकट के बीच, देश में दो महीने बाद फिर से शुरू हुई घरेलू उड़ानें, पहले ही दिन 630 उड़ानें कैंसिल◾देशभर में लॉकडाउन के दौरान सादगी से मनाई गयी ईद, लोगों ने घरों में ही अदा की नमाज ◾उत्तर भारत के कई हिस्सों में 28 मई के बाद लू से मिल सकती है राहत, 29-30 मई को आंधी-बारिश की संभावना ◾महाराष्ट्र पुलिस पर वैश्विक महामारी का प्रकोप जारी, अब तक 18 की मौत, संक्रमितों की संख्या 1800 के पार ◾दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर किया गया सील, सिर्फ पास वालों को ही मिलेगी प्रवेश की अनुमति◾दिल्ली में कोविड-19 से अब तक 276 लोगों की मौत, संक्रमित मामले 14 हजार के पार◾3000 की बजाए 15000 एग्जाम सेंटर में एग्जाम देंगे 10वीं और 12वीं के छात्र : रमेश पोखरियाल ◾राज ठाकरे का CM योगी पर पलटवार, कहा- राज्य सरकार की अनुमति के बगैर प्रवासियों को नहीं देंगे महाराष्ट्र में प्रवेश◾राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने हॉकी लीजेंड पद्मश्री बलबीर सिंह सीनियर के निधन पर शोक व्यक्त किया ◾CM केजरीवाल बोले- दिल्ली में लॉकडाउन में ढील के बाद बढ़े कोरोना के मामले, लेकिन चिंता की बात नहीं ◾अखबार के पहले पन्ने पर छापे गए 1,000 कोरोना मृतकों के नाम, खबर वायरल होते ही मचा हड़कंप ◾महाराष्ट्र : ठाकरे सरकार के एक और वरिष्ठ मंत्री का कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव◾10 दिनों बाद एयर इंडिया की फ्लाइट में नहीं होगी मिडिल सीट की बुकिंग : सुप्रीम कोर्ट◾2 महीने बाद देश में दोबारा शुरू हुई घरेलू उड़ानें, कई फ्लाइट कैंसल होने से परेशान हुए यात्री◾हॉकी लीजेंड और पद्मश्री से सम्मानित बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन◾Covid-19 : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 54 लाख के पार, अब तक 3 लाख 45 हजार लोगों ने गंवाई जान ◾देश में कोरोना से अब तक 4000 से अधिक लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 39 हजार के करीब ◾पीएम मोदी ने सभी को दी ईद उल फितर की बधाई, सभी के स्वस्थ और समृद्ध रहने की कामना की ◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- निजामुद्दीन मरकज की घटना से संक्रमण के मामलों में हुई वृद्धि, देश को लगा बड़ा झटका ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सबरीमला मामले में हमारा न्यायपालिका से कोई टकराव नहीं : अमित शाह 

इंदौर : उच्चतम न्यायालय के सबरीमला मंदिर संबंधी फैसले पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के हालिया बयान का बचाव करते हुए सत्तारूढ़ पार्टी ने सोमवार को कहा कि उसका न्यायपालिका से कोई टकराव नहीं है और वह आस्था के इस विषय को ‘बेहद विनम्रतापूर्वक’ उठा रही है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा से यहां संवाददाता सम्मेलन में पूछा गया था कि क्या सबरीमला मामले में शाह का बयान न्यायपालिका से उनकी पार्टी के टकराव की ओर इशारा करता है। जवाब में पात्रा ने कहा, ‘‘(न्यायपालिका से) कहीं किसी टकराव की स्थिति नहीं है।

भाजपा का बड़ी स्पष्टता से मानना है कि आस्था एक ऐसा विषय है जिसका हम सबको सम्मान करना चाहिये। भाजपा प्रवक्ता ने कहा, सबरीमला मंदिर हो या शिवलिंग, ये हमारी आस्था के केंद्र हैं। हम बहुत ही विनम्रता और प्रेम के साथ अपनी आस्था के लिये खड़े हुए हैं। सबरीमला मंदिर को सभी आयु वर्ग की महिलाओं के लिये खोलने के उच्चतम न्यायालय के आदेश के खिलाफ प्रदर्शनों की भाजपा और आरएसएस द्वारा अगुवाई करने के बीच पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने हाल ही में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा था, ‘‘सरकारों और अदालतों को ऐसे आदेश पारित करने चाहिये जिनका पालन हो सके। इन्हें ऐसे आदेश पारित नहीं करने चाहिये जो लोगों की आस्था को तोड़ने का काम करें।’’ यह पूछे जाने पर क्या नरेंद्र मोदी सरकार अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने के लिये संतों की मांग के मुताबिक कानून बनायेगी इस पर भाजपा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘राम मंदिर मामला फिलहाल अदालत में विचाराधीन है।

हिन्दुस्तान की राजनीति का बड़ा धड़ा इस मामले की अदालती सुनवाई टलवाने की कोशिश करता रहा है। लेकिन भाजपा संवैधानिक तरीके से अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण चाहती है।’’ राफेल घोटाले को लेकर मोदी सरकार पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के तीखे हमलों पर पात्रा ने कहा, ‘‘अगर इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष के पास वास्तविक तथ्य और दस्तावेज हैं, तो वह अदालत का दरवाजा क्यों नहीं खटखटाते। वह लगातार झूठी बयानबाजी करते हुए राफेल-राफेल कह रहे हैं। लेकिन झूठ को बार-बार दोहराने से यह सच नहीं हो जाता।’’

पात्रा ने राफेल का संधि विच्छेद करते हुए इसे ‘राहुल + फेल’ बताया और आरोप लगाया कि कांग्रेस की अगुवाई वाली पूर्ववर्ती संप्रग सरकार के राज में देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया गया था। ‘देश का चौकीदार चोर है’ के जुमले का बार-बार इस्तेमाल किये जाने पर क्या भाजपा राहुल के खिलाफ प्रधानमंत्री की मानहानि का अदालती मुकदमा दायर करेगी, इस सवाल पर भाजपा प्रवक्ता ने जवाब दिया, ‘‘हमें राहुल पर मानहानि का मुकदमा दायर करने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि कांग्रेस नेताओं द्वारा प्रधानमंत्री के खिलाफ अपशब्दों के इस्तेमाल पर पिछले विधानसभा चुनावों में खुद जनता उनकी पार्टी को करारा जवाब दे चुकी है। इस तरह की गाली-गलौच वाली भाषा के बूते राजनीति में कभी आगे नहीं बढ़ा जा सकता।