BREAKING NEWS

दिल्ली हिंसा सोनिया समेत विपक्षी नेताओं के भड़काने का नतीजा : BJP ◾रॉ के पूर्व चीफ एएस दुलत ने फारूक अब्दुल्ला से की मुलाकात◾दिल्ली हिंसा : AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर को किया गया सील, SIT करेगी हिंसा की जांच◾दिल्ली HC में अरविंद केजरीवाल, सिसोदिया के निर्वाचन को दी गई चुनौती◾दिल्ली हिंसा की निष्पक्ष जांच हो, दोषियों को मिले कड़ी से कड़ी सजा -पासवान◾CAA पर पीछे हटने का सवाल नहीं : रविशंकर प्रसाद◾बंगाल नगर निकाय चुनाव 2020 : राज्य निर्वाचन आयुक्त मिले पश्चिम बंगाल के गवर्नर से◾दिल्ली हिंसा : आप पार्षद ताहिर हुसैन के घर से मिले पेट्रोल बम और एसिड, हिंसा भड़काने की थी पूरी तैयारी ◾TOP 20 NEWS 27 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾T20 महिला विश्व कप : भारत ने लगाई जीत की हैट्रिक, शान से पहुंची सेमीफाइनल में ◾पार्षद ताहिर हुसैन पर लगे आरोपों पर बोले केजरीवाल : आप का कोई कार्यकर्ता दोषी है तो दुगनी सजा दो ◾दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार को 10-10 लाख का मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार◾दिल्ली में हुई हिंसा का राजनीतिकरण कर रही है कांग्रेस और आम आदमी पार्टी : प्रकाश जावड़ेकर ◾दिल्ली हिंसा : केंद्र ने कोर्ट से कहा-सामान्य स्थिति होने तक न्यायिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं ◾ताहिर हुसैन को ना जनता माफ करेगी, ना कानून और ना भगवान : गौतम गंभीर ◾सीएए हिंसा : चांदबाग इलाके में नाले से मिले दो और शव, मरने वालो की संख्या बढ़कर 34 हुई◾दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन, गृह मंत्री को हटाने की हुई मांग◾न्यायधीश के तबादले पर बोले रणदीप सुरजेवाला : भाजपा की दबाव और बदले की राजनीति का हुआ पर्दाफाश ◾दिल्ली हिंसा : दंगाग्रस्त इलाकों में दुकानें बंद, शांति लेकिन दहशत का माहौल ◾जज मुरलीधर के ट्रांसफर पर बोले रविशंकर- कोलेजियम की सिफारिश पर हुआ तबादला ◾

जेएनयू में ‌फिल्म की स्क्री‌निंग को लेकर दो गुटों में मारपीट

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में शुक्रवार को एक फिल्म की स्क्रीनिंग को लेकर छात्रों के दो गुट आपस में भिड़ गए। लव जेहाद पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'In the name of love' को लेकर जेएनयू कैंपस अखाड़ा बन गया। इस फिल्म में केरल में लव जेहाद के नाम पर हिन्दू लड़कियों के धर्मांतरण का मुद्दा उठाया गया है। फिल्म की स्क्रीनिंग के विरोध में जेएनयू स्टूडेंट यूनियन और लेफ्ट विंग के छात्र यहां प्रदर्शन कर रहे थे, इसी दौरान राइट विंग और लेफ्ट विंग के गुटों में तकरार शुरू हो गई और देखते ही देखते ही छात्रों के दोनों गुट मारपीट पर उतर आए।

एबीवीपी के छात्रों ने लेफ्ट विंग पर मारपीट और माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया जबकि लेफ्ट विंग के छात्रों का आरोप है कि एबीवीपी के लोग मारपीट और गाली-गलौज के साथ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे। बता दें कि एबीवीपी और विवेकानंद विचारधारा मंच की तरफ से प्रोग्राम को ऑर्गेनाइज किया गया था। फिलहाल दोनों की पक्षों की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

छात्रों का आरोप था कि ये डॉक्यूमेंट्री सामाजिक सौहार्द को लेकर नकारात्मक भावना को भड़काने वाली है । विरोध करते हुए छात्रों ने हाथ में बैनर लेकर प्रदर्शन भी शुरू कर दिया जिसके बाद से आरोप है कि ऑर्गनाइजर्स ने उनके साथ मारपीट की इस मारपीट में कई लोग जख्मी भी हुए। जेएनयू से पीएचडी कर रहे हैं प्रदीप नारवाल का आरोप है कि एबीवीपी के लोग मारपीट के साथ-साथ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल और गाली-गलौज भी कर रहे थे। यहां तक की उन्होंने जान से मारने तक की धमकी दे डाली जिसके बाद से इसके खिलाफ वसंत कुंज नॉर्थ थाने में शिकायत दी गई है।

हालांकि इस पूरे मामले में एबीवीपी लेफ्ट विचारधारा के छात्रों पर माहौल को बिगाड़ने और मारपीट करने का आरोप लगा रहा है। एबीवीपी के मुताबिक जैसा आरोप लगाया जा रहा है इस फिल्म में वैसा कुछ भी नहीं था। बहरहाल दोनो पक्षों की शिकायत पर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। पुलिस के मुताबिक जांच में पता चलेगा कि पहले झगड़ा किसने शुरू किया या इस बिगड़े हालात के जिम्मेदार कौन लोग हैं।

  अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।