BREAKING NEWS

दिल्ली और तमिलनाडु में ‘अनलॉक’ प्रक्रिया को मिली गति, दूसरे राज्यों में भी प्रतिबंधों में छूट◾राहुल ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - Modi सरकार में झूठ और खोखले नारों का मंत्रालय सबसे कुशल◾गोवा सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 21 जून तक बढ़ाया गया कर्फ्यू◾मिल्खा सिंह की पत्नी का कोरोना से निधन, अंतिम संस्कार में नहीं हो पाए शामिल◾मुख्यमंत्री पद 5 साल के लिए शिवसेना के पास ही रहेगा, नहीं हो सकता कोई समझौता : राउत◾अगर किसी को भाजपा में रहना है तो उसे बलिदान देना होगा : दिलीप घोष◾राम जन्मभूमि ट्रस्ट पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप, 'AAP' ने की सीबीआई व ईडी से जांच कराने की मांग◾कांग्रेस जड़ता की स्थिति में नहीं, यह दिखाने के लिये पार्टी में व्यापक सुधार की जरूरत : कपिल सिब्बल◾कोटकपूरा गोलीकांड : SIT ने पंजाब के पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल को किया तलब◾महाराष्ट्र : संजय राउत का बड़ा आरोप- पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में शिवसेना के साथ किया जाता था ‘गुलामों’ की तरह व्यवहार ◾अगले 3 दिनों में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 4 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन मिलेगी ◾केजरीवाल का ऐलान- कल से खुलेंगे मॉल और बाजार, 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मिली रेस्तरां खोलने की अनुमति ◾उत्तराखंड : कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश का निधन, दिल्ली में ली अंतिम सांस◾अमित मित्रा के आरोपों पर बोले अनुराग ठाकुर-वित्त मंत्री ने कभी अनसुनी नहीं की किसी की बात◾कोरोना आंकड़ों पर राहुल गांधी ने उठाए सवाल, पूछा- भारत सरकार का सबसे कुशल मंत्रालय कौन सा है◾यमुना एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, ट्रक में जा घुसी कार, 3 की मौत ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 80834 नए मामलों की पुष्टि, 3303 लोगों ने गंवाई जान ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 17.55 करोड़ से अधिक ◾जी-7 नेताओं से अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ने किया अनुरोध, कहा- चीन के वैश्विक अभियान के साथ करें प्रतिस्पर्धा◾ एक साल में कोवैक्सीन की सुरक्षा और प्रभावकारिता पर नौ सर्च प्रकाशित किए : भारत बायोटेक ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

इजरायली एम्बेसी विस्फोट में क्या है इस अधजले कपड़े का रहस्य, धमाके वाली जगह पहुंची NSG की टीम

इजराइली दूतावास के पास शुक्रवार शाम हुए कम तीव्रता के धमाके में सुरक्षा बलों को अब तक “कुछ ठोस” नहीं मिला है क्योंकि घटना के वक्त विस्फोट स्थल के पास लगे अधिकतर सीसीटीवी कैमरे “काम नहीं कर रहे” थे। इस बीच एनएसजी की टीम धमाके वाली जगह पहुंची है। ये टीम विस्फोटक का विश्लेषण करेगी। वहीं मिली जानकारी के मुताबिक इजरायली दूतावास के बाहर ब्लास्ट वाले जगह से गुलाबी रंग का आधा जला हुआ एक दुपट्टा मिला है। इस दुपट्टे का क्या रहस्य है, इसका पता लगाया जा रहा है।

गौरतलब है कि सूत्रों ने कहा कि दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ (स्पेशल सेल) के जांच दल ने दिन में दूतावास के निकट स्थित विस्फोट स्थल का और साक्ष्य जुटाने के उद्देश्य से दौरा किया। उन्होंने कहा कि उन्हें इलाके के कुछ सीसीटीवी कैमरों की फुटेज हासिल हो गई है। एक आधिकारिक सूत्र ने कहा, “हमें कुछ सीसीटीवी फुटेज बरामद हुई है लेकिन अब तक कुछ ठोस नहीं मिला है क्योंकि दूतावास के पास स्थित इलाके में अधिकतर सीसीटीवी कैमरे काम नहीं कर रहे थे।”

सूत्रों ने कहा कि सीसीटीवी कैमरे से हासिल की गई फुटेज में विस्फोट से ठीक पहले एक गाड़ी संदिग्ध अवस्था में दूतावास के पास नजर आ रही है। एक अन्य सूत्र ने कहा कि फोरेंसिक विशेषज्ञों ने मौका-ए-वारदात से कुछ नमूने भी एकत्र किये हैं और इससे कम तीव्रता वाले इस विस्फोट में इस्तेमाल रसायनों के बारे में जानकारी हासिल की जा सकेगी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि विस्फोटक बनाने में इस्तेमाल होने वाले बाल बेयरिंग के हिस्से जमीन पर बिखरे पड़े मिले और विस्फोट का असर स्थल के 20 से 25 मीटर के दायरे में महसूस किया गया।

दिल्ली के लुटियंस इलाके में औरंगजेब रोड पर स्थित इजराइली दूतावास के निकट शुक्रवार शाम कम तीव्रता का आईईडी विस्फोट हुआ था। इस विस्फोट में कोई हताहत नहीं हुआ था। सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि विस्फोट स्थल पर जांचकर्ताओं को इजराइली दूतावास का पता लिखा एक लिफाफा मिला है। इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और दिल्ली पुलिस का विशेष प्रकोष्ठ इसकी जांच कर रहा है।

सूत्रों ने शुक्रवार को कहा कि शुरुआती जांच में खुलासा हुआ कि आईईडी को इजराइली दूतावास के बाहर एपीजे अब्दुल कलाम रोड पर जिंदल हाउस के निकट एक गमले में रखा गया था। फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) की 10 सदस्यीय टीम ने शुक्रवार को विस्फोट स्थल का दौरा किया था और धातुओं एवं बॉल बेयरिंग समेत वहां मौजूद अन्य अवशेष एकत्र किए थे।

दिल्ली के पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव भी शुक्रवार शाम को मौके का मुआयना करने पहुंचे थे। एक सूत्र ने कहा कि मौके से जब्त की गई सभी सामग्री दिल्ली पुलिस के जांच अधिकारी को सौंपी गई है। एफएसएल के सूत्रों ने कहा, ‘‘हमें घटनास्थल से एकत्रित किए गए नमूने अभी नहीं मिले हैं। जब जांच अधिकारी नमूने भेज देंगे, तो हम उन्हें अपने विस्फोटक पदार्थ संबंधी विशेषज्ञ दल को भेजेंगे। केवल रासायनिक जांच के जरिए ही नमूनों की संरचना पता चल पाएगी।’’

यह विस्फोट उस समय हुआ था, जब वहां से कुछ किलोमीटर दूर गणतंत्र दिवस समारोहों के समापन के तौर पर होने वाला 'बीटिंग रीट्रिट' कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वैकेंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे। यह विस्फोट जिस दिन हुआ, उस दिन भारत और इजराइल के कूटनीतिक संबंधों की स्थापना की 29वीं वर्षगांठ थी।

इजरायली दूतावास के बाहर CCTV फुटेज में दिखी कैब, मौके पर मिले पत्र में लिखा था यह धमाका बस एक 'ट्रेलर'