BREAKING NEWS

मूडीज ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाया, आसमान छू रही महंगाई पर जताई चिंता◾ Tamil Nadu: चेन्नई पहुंचे PM मोदी ,हुआ जोरदार स्वागत, रोड शो में उमड़ी हजारों की भीड़◾तेलंगाना के CM चंद्रशेखर राव ने एच डी देवेगौड़ा से की मुलाकात, जानें- किन मुद्दों पर हुई चर्चा◾J&K News: सुंजवां हमले में शामिल एक आतंकवादी को NIA ने किया गिरफ्तार, जैश ए मोहम्मद से जुड़े थे तार◾Monkeypox Virus: कनाडा में मंकीपॉक्स ने दी दस्तक! यहां देखें- कितने मामले सामने आए◾यासीन मलिक को उम्रकैद की सजा सुनाने के बाद फेंके थे पत्थर, लेकिन अब पुलिस के सामने पकड़े कान◾सुप्रीम कोर्ट ने वेश्यावृत्ति को माना प्रोफेशन, पुलिस को दी हिदायत... जारी हुए सख्त निर्देश, जानें क्या कहा ◾ गवर्नर की जगह अब CM होंगी स्टेट यूनिवर्सिटी की चांसलर, ममता बनर्जी कैबिनेट की बैठक में हुआ फैसला◾नवजोत सिंह सिद्धू का पटियाला जेल में बज गया बैंड, मिला क्लर्क का काम, जानें कितना होगा वेतन ◾ Gyanvapi Masjid: यहां जानें 2 घंटे चली वाराणसी जिला कोर्ट की बहस में क्या हुआ, अब सोमवार तक टली सुनवाई◾पाकिस्तान को 'मॉडर्न देश' बनाना चाहते हैं जरदारी! भारत और अन्य देशों से जारी संघर्षों पर कही यह बात ◾Bharat Biotech की कोवैक्सीन को जर्मनी ने दी मंजूरी, टूरिस्ट को मिली बड़ी राहत◾ US और चीन को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दिया ये बयान, जानें मोदी सरकार को क्या दी नसीहत◾UP बजट 2022 : मायावती ने बताया घिसा-पिटा, अखिलेश बोले- कुछ बढ़ा नहीं, सब कुछ घटा है◾Navneet Rana News: सांसद नवनीत राणा ने दर्ज करवाई FIR, फोन पर मिल रही थी जान से मारने की धमकी ◾पूर्व मंत्री ने पूछा, क्या पाठ्यपुस्तकों में जिन्ना का पाठ किया जाए शामिल? हेडगेवार को लेकर कही यह बात ◾BJP के 8 वर्ष पुरे होने पर सुरजेवाला ने बोला हमला, कहा- अहंकारी सत्ता में डायन महंगाई बन गई है घर जमाई◾ तेलंगाना के हैदराबाद में पीएम मोदी की हुंकार ,बोले- युवाओं से मौके छीन लेता है परिवारवाद....◾केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही BJP, शिवसेना बोली- परब के खिलाफ ED की छापेमारी....◾सरकार ने वाहनों के थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के दामों में किया इजाफा, जानिए कब से लागू होंगे नए रेट ◾

भारत सरकार के खिलाफ कोर्ट पहुंचा WhatsApp, कहा-नए IT नियमों से खत्म होगी प्राइवेसी

भारत सरकार के खिलाफ वॉट्सऐप ने दिल्ली हाई कोर्ट का रुख किया है। वॉट्सऐप ने सरकार के खिलाफ शिकायत की है, जिसमें उसने आज से लागू होने वाले नए आईटी नियमों को रोकने की मांग की है। वॉट्सऐप का कहना है कि नए नियमों से यूजर्स की प्राइवेसी प्रभावित होगी। नए नियमों के तहत सरकार ने वॉट्सऐप को प्राइवेसी रूल्स से पीछे हटने को कहा है। 

दरअसल, केंद्र सरकार ने 25 फरवरी 2021 को भारत के इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय की तरफ से डिजिटल कंटेंट को रेग्यूलेट करने के लिए 3 महीने के भीतर कंप्लायंस अधिकारी, नोडल अधिकारी आदि को नियुक्त करने के निर्देश दिए थे। इन सभी का कार्यक्षेत्र भारत में होना जरूरी है। सरकार द्वारा दिए गए आदेश के तहत कंपनियों को कंप्लायंस अधिकारी को नियुक्त करना होगा और उनका नाम और कॉन्टैक्ट एड्रेस भारत का होना अनिवार्य है।

क्या भारत में बंद हो जाएंगी FB, ट्विटर और Instagram जैसी सोशल मीडिया कंपनियां?

वॉट्सऐप ने अपनी शिकायत में दिल्ली हाईकोर्ट से कहने के लिए कहा गया है कि नए नियमों में से एक भारत के संविधान के तहत दिए गए गोपनीयता के अधिकार का उल्लंघन है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस नियम के मुताबिक, जब सरकारें मांग करें तो सोशल मीडिया कंपनियों को किसी सूचना को सबसे पहले साझा करने वाले की पहचान करनी पड़ती है। 

कानून के मुताबिक वॉट्सऐप को सिर्फ उन लोगों की पहचान बतानी है, जिनपर गलत जानकारी साझा करने का विश्वसनीय आरोप है लेकिन वॉट्सऐप का कहना है कि वह यह नहीं कर सकती। वॉट्सऐप के मुताबिक, उसके मेसेज एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड यानी कूट भाषा में होते हैं। उसका कहना है कि नए नियम का पालन करने के लिए उसे मेसेज प्राप्त करने वालों के लिए और मेसेज को सबसे पहले शेयर करने वालों के लिए इस एन्क्रिप्शन को ब्रेक करना पड़ेगा। 

व्हाट्सएप वॉट्सऐप का भारत सरकार के खिलाफ ये केस मंगलवार, 25 मई को फाइल किया गया। इस मामले में कब से सुनवाई होगी ये अभी साफ़ नहीं है। मामले के जानकारों ने इसकी संवेदनशीलता को देखते हुए अपनी पहचान जाहिर करने से भी इनकार कर दिया है।