BREAKING NEWS

Yasin Malik News: टेरर फंडिंग मामले में यासीन मलिक को हुई उम्रकैद की सजा! 10 लाख का लगाया गया जुर्माना◾यासिन मलिक को उम्रकैद की सजा मिलने के बाद घाटी में मचा कोहराम! हिंसा की वजह से बंद हुआ इंटरनेट ◾ओडिशा में दुर्घटना को लेकर मोदी बोले- इस घटना से काफी दुखी हूं, जल्द स्वस्थ होने की करता हूं कामना◾वहीर पारा को जमानत मिलने पर महबूबा मुफ्ती बोलीं- मैं आशा करती हूं वह जल्द ही बाहर आ जाएंगे◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 26 मई को महिला जनप्रतिनिधि सम्मेलन-2022 का उद्घाटन करेंगे◾UP विधानसभा में भिड़े केशव मौर्य और अखिलेश यादव.. जमकर हुई तू-तू मैं-मैं! CM योगी को करना पड़ा हस्तक्षेप◾सपा का हाथ थामने पर जितिन प्रसाद ने कपिल सिब्बल पर किया कटाक्ष, कहा- कैसा है 'प्रसाद'?◾Chinese visa scam: कार्ति चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें! धन शोधन के मामले में ED ने दर्ज किया मामला ◾ज्ञानवापी मामले को लेकर फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई, दायर हुई नई याचिका पर हुआ बड़ा फैसला! ◾यासीन मलिक की सजा पर कुछ देर में फैसला, NIA ने सजा-ए-मौत का किया अनुरोध◾Sri Lanka Crisis: राष्ट्रपति गोटबाया ने नया वित्त मंत्री नियुक्त किया, पीएम रानिल विक्रमसिंघे को सोपी यह कमान ◾पाकिस्तान में बन रहे गृह युद्ध के हालात... इमरान खान पर लटक रही गिरफ्तारी की तलवार, जानें पूरा मामला ◾SP के टिकट पर राज्यसभा जाएंगे कपिल सिब्बल.. नामांकन दाखिल! डैमेज कंट्रोल में जुटे अखिलेश? ◾पेरारिवलन से MK स्टालिन की मुलाकात पर बोले राउत-ये हमारी संस्कृति और नैतिकता नहीं◾यूक्रेन के मारियुपोल में इमारत के भूतल में मिले 200 शव, डोनबास में जारी है पुतिन की सेना के ताबड़तोड़ हमले ◾हिंदू पक्ष ने Worship Act 1991 को बताया असंवैधानिक...., SC में नई याचिका हुई दायर, जानें क्या कहा ◾J&K : बारामूला मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने ढेर किए 3 पाकिस्तानी आतंकी, पुलिस का 1 जवान शहीद ◾बिहार में फिर कहर बनकर टूटी जहरीली शराब, गया और औरंगाबाद में अब तक 11 की मौत◾राज्यसभा के लिए SP ने फाइनल किए नाम, सिब्बल के जरिए एक तीर से दो निशाने साधेंगे अखिलेश?◾केंद्रीय मंत्री के ट्विटर से गायब हुए मुख्यमंत्री... नीतीश संग जारी मतभेद पर RCP ने कही यह बात, जानें मामला ◾

वाह भाई वाह... Mrs. Nanda

आज जैसे सारा भय का वातावरण विश्व भर में छाया है। सभी अपनी क्षमता के अनुसार काम कर रहे हैं। वरिष्ठ नागरिक के सदस्य भी अपनी क्षमता के अनुसार एक-दूसरे का हौसला बढ़ा रहे हैं। मैं उनके आगे हमेशा हाथ जोड़ती हूं, हमेशा घर में रहो, सेफ रहो, स्वस्थ रहो। 

जैसे कि मैंने पिछले बुधवार को भी एक बेटे की बात बताई थी कि वो अपने पिता (डी.एन. कथूरिया फरीदाबाद के ब्रांच हैड) को कैसे रोकते हैं परन्तु उनके जीवन में उनके डी.एन.ए. में सेवाभाव छुपे हैं, जो रोके नहीं रुकते। ऐसे ही हमारे बहुत से सदस्य हैं जिनकी अच्छी बातें मैं आपसे समय-समय पर शेयर करूंगी। 

ऐसे ही हमारी राजमाता थीं जो अगर आज होतीं तो उन्होंने भी रुकना नहीं था। उनकी बातें, उनका प्यार मेरे दिल में हमेशा रहता है। वो हम सबकी रोल मॉडल थीं, जो अपने अन्दर बहुत से दुख समेटे दुनिया के दु:ख-दर्द बांटती थीं। 

ऐसे ही हमारे विजय खुराना भाई जो हमारी पंजाबी बाग की को-हैड रुबी खुराना के पति थे, जिनको कोविड ने हमसे छीन लिया। वो भी हर पल सेवा के लिए तैयार रहते थे। ऐसे ही महाशय जी जो पहले दिन से साथ जुड़े थे और कभी इंकार नहीं किया। ऐसे ही विक्रमजीत साहनी जो हमेशा सेवा करते हैं और अब कोरोना के समय लोगों की दिल खोलकर सहायता और सेवा कर रहे हैं।

ऐसे ही हमारी माडल टाऊन शाखा की श्रीमती नंदा जी हैं, जिनके डीएनए में सेवा भरी हुई है, वो खाली नहीं बैठ सकतीं, उनमें और उनकी बेटियां रचना (सिंगापुर) और अर्चना में बहुत ही सेवा भाव है। अच्छे समय पर भी वो रुकती नहीं थीं। कभी जरूरतमंद बुजुर्गों के लिए रजाइयां, कभी खाना, कभी थैले बनाकर लाना, कभी कोई उनके जरूरत का सामान देना शामिल है, यही नहीं जब हम 150 बुजुर्गों को सिंगापुर लेकर गए थे इनकी बेटी रचना और दामाद ने वहां सबकी बहुत ही मदद की। यही नहीं इनकी दोती बेटी की बेटी राधिका भी माडल टाऊन ब्रांच में आकर सेवा देती हैं। कभी कोरियोग्राफी भी करती हैं, कहने का भाव है उनके जीन्स और डीएनए में सेवा है।

आज भी वो रुक नहीं रहीं। कभी पोटलियां बनाकर भेजती हैं, कभी कोविड पीडि़तों के घर खाना भेज रही हैं, कभी फ्रंट वारियर के लिए डबलरोटी, आचार भेजती हैं, समय-समय पर अपनी सेवा की खुशी मेरे से बांटती रहती हैं, क्योंकि मैं बहुत व्यस्त रहती हूं, उनका फोन नहीं उठा पाती तो मुझे वीडियो मैसेज और फोटो भेजती हैं। मुझे भी अपनी तीसरी बेटी की तरह मानती हैं। मेरे दु:ख-सुख बांटती हैं। उनकी दोनों बेटियां बहुत खुश होती हैं और उन्हें उत्साहित भी करती रहती हैं। मुझे भी ऐसे एहसास कराती हैं कि मैं उनके परिवार का हिस्सा हूं। कहीं वो कम पड़ती है तो उनकी बेटियां उनको कहती हैं चलो आपका दिल कर रहा है तो करो, यह मेरी तरफ से वाह क्या बात है। जब जड़ (श्रीमती नंदा) में इतना सेवा-भाव है तो उनकी टहनियों, पत्तों में तो होना स्वाभाविक है।

यह तो एक उदाहरण है। बहुत से हमारे सदस्य हैं जो वह और उनके परिवार घर में बैठकर काम कर रहे हैं। ईस्ट दिल्ली के ब्रांच हैड कमल खन्ना और अशोक खन्ना जी लोगों को आक्सीजन सिलैंडर भरवा कर सेवा कर रहे हैं। वाह भाई वाह घर पर रहकर Safe रहिये ॥ Healthy रहिए।