नए पासपोर्ट कार्यालय की पंजाब की मांग सुषमा स्वराज ने स्वीकार की

0
27

नयी दिल्ली : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पंजाब में एक और पासपोर्ट कार्यालय खोलने पर राजी हो गई हैं। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अप्रवासी भारतीयों की सुविधा के लिए राज्य में एक और पासपोर्ट कार्यालय खोलने का अनुरोध किया था।

सिंह के साथ बैठक के दौरान सुषमा ने विदेशों में बसे काली सूची में शामिल सिखों के मुद्दे पर विचार करने का आश्वासन दिया।

सुषमा स्वराज के गुर्दा प्रत्यारोपण के बाद अमरिंदर उनका हालचाल जानने पहुंचे थे, जिसके दौरान इन मुद्दों पर चर्चा हुई।
इस शिष्टाचार मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा चिंता जताए जाने पर सुषमा ने विदेश में रह रहे पंजाबी और सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए केंद, सरकार की ओर से हर संभव प्रयास करने का वायदा किया।

बैठक के बाद पंजाब सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि नवांशहर में प्रस्तावित पासपोर्ट कार्यालय पटियाला के पासपोर्ट कार्यालय के अतिरिक्त होगा जिसे हाल ही में मंजूरी दी गई है और जिसका जल्द ही उद्घाटन होने वाला है।

सरकार की काली सूची में शामिल ‘विध्वंसक तथा भारत विरोधी गतिविधियों” में कथित तौर पर लिप्त रह चुके सिख युवाओं के नामों को इसमें से हटाने की प्रक्रिया में विलंब पर मुख्यमंत्री ने चिंता जताई।

भारतीय मूल के इन सिख युवाओं के भारत आने पर प्रतिबंध है, ऐसा इसलिए है क्योंकि इनका नाम काली सूची में शामिल है।

सुषमा ने कहा कि वह यह मुद्दा गृह मंत्रालय के समक्ष उठाएंगी, जो इस सूची से छंटनी की प्रक्रिया चला रहा है।

– भाषा

LEAVE A REPLY