त्रिवेंद्र सिंह ने अपनी प्राथमिकतायें तय की

0
53

देहरादून : उत्तराखंड के नवनियुक्त मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज अपनी प्राथमिकतायें गिनाते हुए कहा कि रोजी-रोटी की तलाश में पहाड़ों से हो रहे पलायन को रोकने के लिये एक कठोर नीति बनायी जायेगी। मुख्यमंत्री बनने के बाद अपने पहले संवाददाता सम्मेलन में रावत ने कहा, ”राज्य के रणनीतिक महत्व को देखते हुए सीमावर्ती गांवों से होने वाला पलायन चिंता का विषय है। सीमावर्ती गांवों से बड़ी मात्रा में पलायन न हो, इसे सुनिश्चित करने के लिये जरूरी कदम उठाये जायेंगे।

पहाड़ों से पलायन को रोकने के लिये एक ठोस नीति बनायी जायेगी।” हाल के वर्षों में प्रदेश में कई औद्योगिक इकाइयों के बंद होने पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि नयी सरकार इसके पीछे के कारकों पर विचार करेगी और उद्योगों को पुनर्जीवित करने के लिये काम करेगी। रावत ने यह भी कहा कि उनकी सरकार पूर्ववर्ती भाजपा सरकार द्वारा पारित गौवंश संरक्षण कानून को पुनर्जीवित करने के अलावा गंगा नदी की सफाई और उसके अविरल प्रवाह को सुनिश्चित करने के लिये नमामि गंगे मिशन को मजबूत करेगी।

सुबह ही अपने कैबिनेट सहयोगी मदन कौशिक के साथ हरिद्वार में हर की पौड़ी पर गंगा नदी के तट पर सफाई अभियान चलाने वाले मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा सफाई और उसके अविरल प्रवाह के बारे में कड़ा संदेश देने का उनका तरीका है।
सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत, प्रकाश पंत और सुबोध उनियाल समेत उनके अन्य मंत्रिमंंडलीय सहयोगी भी प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर इसी प्रकार के सफाई अभियानों में शामिल हुए।

– भाषा

LEAVE A REPLY