BREAKING NEWS

PM मोदी आज सुबह 11 बजे रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के जरिए देश को करेंगे संबोधित ◾विश्व में कोरोना मरीजों का बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के पार◾महाराष्ट्र में लॉकडाउन बढ़ाए जाने के बाद शरद पवार ने CM उद्धव ठाकरे से की मुलाकात ◾दिल्ली में कोविड-19 के 1163 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 18 हजार को पार◾देशभर में 30 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, 8 जून से रेस्टोरेंट, मॉल और धार्मिक स्थल खोलने की मिली अनुमति ◾लॉकडाउन, अनुच्छेद 370 खत्म करना, राम मंदिर ट्रस्ट बड़ी उपलब्धियों में शामिल : गृह मंत्रालय ◾हिन्दुस्तान में बहुत सारे लोग कष्ट में हैं और भाजपा सरकार जश्न मना रही है : प्रियंका गांधी वाड्रा ◾लद्दाख सीमा तनाव पर रक्षामंत्री बोले- चीन से डिप्लोमैटिक और मिलिट्री लेवल पर चल रही है बातचीत ◾लॉकडाउन 5.0 लागू करने पर पीएमओ में महामंथन, गृहमंत्री अमित शाह ने की पीएम मोदी से मुलाकात◾कोरोना के बढ़ते केसों से घबराएं नहीं, महामारी से चार कदम आगे है आपकी सरकार : CM केजरीवाल◾मोदी सरकार 2.0 की पहली वर्षगांठ पर कांग्रेस ने कसा तंज, ‘बेबस लोग, बेरहम सरकार’ का दिया नारा ◾मोदी जी की इच्छा शक्ति की वजह से सरकार ने साहसिक लड़ाई लड़ी एवं समय पर निर्णय लिये : नड्डा ◾कोविड-19 पर पीएम मोदी का आह्वान - 'लड़ाई लंबी है लेकिन हम विजय पथ पर चल पड़े हैं'◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को लेकर कांग्रेस, भाजपा के निशाने पर केजरीवाल सरकार◾राम मंदिर , सीएए, तीन तलाक, धारा 370 जैसे मुद्दों का हल दूसरे कार्यकाल की प्रमुख उपलब्धियां : PM मोदी ◾बीस लाख करोड़ रूपये का आर्थिक पैकेज ‘आत्मनिर्भर भारत’ की दिशा में बड़ा कदम : PM मोदी◾Coronavirus : दुनियाभर में वैश्विक महामारी का खौफ जारी, संक्रमितों की संख्या 60 लाख के करीब ◾कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए◾कोविड-19 : देश में अब तक 5000 के करीब लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 73 हजार के पार ◾मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक वर्ष पूरे होने पर अमित शाह, नड्डा सहित कई नेताओं ने दी बधाई◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हरियाणा, महाराष्ट्र के बाद अब झारखंड ने भाजपा को सबक सिखा दिया : हुड्डा

रोहतक : नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विपक्ष पर हिंसा करने के जो आरोप लगाए है, वह सही नहीं है। कांग्रेस पार्टी कभी भी हिंसा की पक्षधर नहीं रही है, यह पार्टी महात्मा गांधी द्वारा दिए गए अहिंसा के सिद्धांत से निकल बनी है। केन्द्र सरकार को इस कानून को लेकर आरोप लगाने की बजाए लोगों के मन में जो संशय है, उनको दूर कर केन्द्र सरकार को जबाव देना चाहिए। 

पूर्व सीएम ने झांरखड चुनावों के आए नतीजों को लेकर कहा कि हरियाणा, महाराष्ट्र व झारखड ने देश में भाजपा को उसकी स्थिति से अवगत करा दिया और लगातार भाजपा का ग्राफ गिर रहा है। सोमवार को नेता प्रतिपक्ष भूपेन्द्र सिंह हुड्डा रोहतक पहुंचे और अपने आवास पर कार्यकत्र्ताओं से मुलाकात की। बाद में पत्रकारो से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर केन्द्र सरकार विपक्षी दलो को हिंसा व आगजनी का जिम्मेदार मान रही है, जबकि भाजपा को अपने अंदर झांकना चाहिए और देश की स्थिति को समझना चाहिए। 

पूर्व मुख्यमंत्री ने संशोधन कानून को लेकर जो आगजनी व हिंसा हुई है उसकी निंदा की और कहा कि भाजपा को भी सोचना चाहिए कि आखिर इतने बडे स्तर पर जो विरोध हो रहा है, उसके पीछे क्या कारण है। देश की जनता को इस कानून को लेकर केन्द्र सरकार ने अपनी बात रखनी चाहिए और स्पष्ट करे कि आखिर इस बिल का विरोध क्यों हो रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस तो हमेशा से ही अहिंसावादी पार्टी रही है। 

हिंसा करना कांग्रेस की संस्कृति नहीं है। देश की जनता को पता है कि यह पार्टी महात्मा गांधी के अहिंसा के सिद्धांत से निकली हुई है। इसके अलावा उन्होंने प्रदेश की गठबंधन सरकार पर भी निशाना साधा और कहा कि यह सरकार न तो किसानों की है और न ही आम आदमी की। उन्होंने कहा कि आज किसानों को न्यूनतम मूल्य तक नहीं मिल रहा है और आने वाली गेहूं की फसल को लेकर भी सरकार कोटा तय करने में जुटी है, जो किसान के हित में नहीं होगा। 

प्रदेश में हुई बेमौसम बारिश ने पहले ही किसानों की हालत खस्ता कर दी है, काफी जमीन पर तो गेहूं की फसल की बुआई तक नहीं हो पाई है और सिर्फ विशेष गिरदावरी करवाने के दावे किए जा रहे है, जबकि धरातल पर तो कुछ नहीं है। उन्होंने कहा कि पांच साल प्रदेश में भाजपा की सरकार रही, लेकिन इस दौरान बेरोजगारी व क्राइम के मामले में हरियाणा नंबर एक पर पहुंच गया है। 

यही नहीं 2012 में कांग्रेस शासनकाल के दौरान हरियाणा में बेरोजगारी की दर हरियाणा में लगभग तीन प्रतिशत थी, लेकिन अब वह बेरोजगारी की दर 28 प्रतिशत तक पहुंच गई है। वहीं उन्होंने डीप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को लेकर भी कहा कि वे बखूबी जानते हैं के विपक्ष के नेता के तौर पर उन्हें अपनी ड्यूटी किस तरह से निभानी है। दुष्यंत चौटाला केवल अपना काम देखें।