BREAKING NEWS

कुमारस्वामी ने राज्यपाल वजूभाई वाला को सौंपा अपना इस्तीफा ◾BJP के शीर्ष नेताओं से सलाह के बाद राज्यपाल से मिलूंगा : येदियुरप्पा ◾अब 5 राज्यों-केंद्रशासित प्रदेशों में ही बची कांग्रेस की सरकार ◾अब से विकास के नये युग की होगी शुरुआत : येदियुरप्पा◾‘किंगमेकर’ माने जाने वाले कुमारस्वामी बने ‘किंग’, लेकिन राजगद्दी जल्दी ही हाथ से निकली ◾कर्नाटक में गिरी कुमारस्वामी सरकार, विश्वास प्रस्ताव के पक्ष पड़े 99 वोट , BJP पेश करेगी सरकार बनाने का दावा ◾येदियुरप्पा के शपथ लेने के बाद मुम्बई से लौटेंगे कर्नाटक के बागी विधायक◾कश्मीर के बारे में ट्रंप के प्रस्ताव पर भारत की प्रतिक्रिया से चकित हूं : इमरान खान ◾खुशी से पद छोड़ने को तैयार हूं : कुमारस्वामी ◾बोरिस जॉनसन बने ब्रिटेन के नए PM, यूरोपीय संघ से देश को बाहर निकालना होगी बड़ी चुनौती◾कश्मीर मुद्दे पर नरेंद्र मोदी और इमरान खान को मिलकर करनी चाहिए पहल - फारुख अब्दुल्ला◾Top 20 News 23 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾भाजपा ने ट्रंप के दावे पर विपक्ष के रूख को गैर जिम्मेदाराना बताया ◾कर्नाटक संकट: भाजपा ने कुमारस्वामी पर करदाताओं का पैसा बर्बाद करने का लगाया आरोप◾गृह मंत्रालय ने घटाई लालू यादव, चिराग पासवान समेत कई बड़े नेताओं की सुरक्षा◾SC ने NRC प्रकाशन की समय सीमा बढ़ाई, 20 फीसदी नमूनों के पुन: सत्यापन का अनुरोध ठुकराया◾PM मोदी देश को बताएं कि उनकी ट्रंप से क्या बात हुई थी : राहुल गांधी◾SC ने आम्रपाली समूह का रेरा पंजीकरण किया रद्द, NBCC को लंबित परियोजनाएं पूरी करने का निर्देश◾ट्रंप के दावे पर लोकसभा में विपक्षी सदस्यों का हंगामा, PM से जवाब देने की मांग की◾ट्रंप के बयान पर संसद में हंगामा, जयशंकर ने कहा- मोदी ने नहीं की मध्यस्थता की बात◾

हरियाणा

कांग्रेस हाईकमान का अशोक तंवर को झटका

चंडीगढ़ : हरियाणा कांग्रेस में छिड़ी कलह में अब हाईकमान भी कूद गई है। महज चार दिन पहले कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जिस इलैक्शन प्लानिंग एवं मैनेजमेंट कमेटी का गठन किया था आज हाईकमान ने उसपर रोक लगा दी है। यह रोक खुद पार्टी प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने लगाई है। हुड्डा ओर तंवर गुट में आपसी खींचतान के चलते आज हरियाणा में कांग्रेस पार्टी करीब आधा दर्जन गुटों में बदल चुकी है। हुड्डा खेमा पिछले पांच साल में अशोक तंवर को हटवाने के लिए अब तक आठ बार हाईकमान को शिकायत भेज चुका है। यही नही हुड्डा खुद तो पर्दे के पीछे रहे लेकिन उनके गुट के विधायक अक्सर हाईकमान पर दबाव बनाते रहे हैं। 

इसके बावजूद तंवर अपने स्तर न केवल बैठके कर रहे हैं बल्कि गत दिवस तंवर ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए इलैक्शन प्लानिंग एवं मैनेजमेंट कमेटी का गठन किया था। तंवर ने इस कमेटी की बागडोर हालही में अपनी पार्टी समस्त भारतीय पार्टी का कांग्रेस में विलय करने वाले दुबई के प्रसिद्ध कारोबारी सुदेश अग्रवाल को सौपते हुए कहा था कि हुड्डा, कुलदीप, किरण चौधरी समेत तमाम बड़े नेताओं को इस कमेटी का सदस्य बनने का इशारा किया था। तंवर द्वारा गठित इस कमेटी को हरियाणा के किसी भी नेता ने स्वीकार नही किया। 

अब हाईकमान ने भी तंवर द्वारा गठित कमेटी को खारिज कर दिया है। कांग्रेस पार्टी में हरियाणा मामलों के प्रभारी गुलाम नबी आज़ाद ने आज साफ किया कि पीसीसी को इस तरह की कमेटी का गठन करने का कोई अधिकार नहीं है। यह अधिकार सिर्फ राष्ट्रीय समिति के पास है। राष्ट्रीय समिति जब भी इस तरह की कमेटी बनाती है तो सभी की सहमति से बनाती है। आज़ाद ने तंवर द्वारा बनाई कमेटी को एक घर मे बैठकर बनाई कमेटी करार देते हुए कहा कि इस कमेटी में हाईकमान की कोई सहमति नहीं है। 

इसका गठन करने से पहले तंवर द्वारा किसी को भी भरोसे में नही लिया गया। आज़ाद ने कहा कि कांग्रेस में अध्यक्ष पद को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर अभी तक कोई फैसला नहीं हुआ है। राष्ट्रीय स्तर पर अध्यक्ष नामजद होने के बाद जिस जिस राज्य में बदलाव की जरूरत होगी या उस राज्य में बदलाव किया जाएगा। जो नेता इस्तीफा दे चुके हैं उनके बारे में भी फैसला अभी पेंडिंग है।