BREAKING NEWS

राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾कोविड-19 पर सरकार ने जारी किया परामर्श, चेहरे और मुंह के बचाव के लिए घर में बने सुरक्षा कवर का करे प्रयोग◾जानिये क्यों, पीएम की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील के बाद अलर्ट मोड पर है बिजली विभाग की कंपनियां◾तबलीगी जमातियों पर भड़के राज ठाकरे,कहा- ऐसे लोगों को गोली मार देनी चाहिए ◾PM मोदी ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता को शेयर करते हुए कहा- आओ दीया जलाएं◾देश में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, गौतम बुद्ध नगर में वायरस के 5 नए मामले आए सामने ◾PM मोदी की दीया अपील पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया, कहा- दोबारा सोचने की है जरुरत ◾बिजनौर के आइसोलेशन वार्ड में रखे गए जमातियों ने किया हंगामा, अंडे और बिरयानी की फरमाइश की◾दिल्ली : कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए गंगाराम अस्पताल के 108 स्वास्थ्यकर्मियों को किया गया क्वारनटीन◾प्रियंका ने किया योगी सरकार पर वार, कहा- स्वास्थ्यकर्मियों को सबसे ज्यादा सहयोग की है जरूरत◾देश में 2900 से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित, अब तक 68 की मौत◾कोविड-19 : अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 1,480 लोगों की मौत, इराक में 820 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि◾राजस्थान : कोरोना संक्रमित 60 वर्षीय महिला की मौत, संक्रमण के 191 मामलों की पुष्टि◾जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों ने मुठभेड़ में 2 आतंकवादियों को मार गिराया, ऑपरेशन जारी◾कर्नाटक में कोरोना वायरस से 75 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 4 हुई ◾कोरोना वायरस दिल्ली में नहीं फैला, घबराने की जरूरत नहीं: केजरीवाल ◾कोविड-19 : राज्यों में संक्रमण के 500 से ज्यादा मामले आये सामने , इसके साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या 3,000 पार ◾दुनिया भर के 180 से ज्यादा देशों में कोरोना का कहर जारी, अब तक 53448 लोगों की मौत, करीब 1015191 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित◾देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के तेजी से बढ़ने का सिलसिला जारी, भारत में मौत का आंकड़ा 60 के पार◾गृह मंत्रालय का एक्शन, तबलीगी जमात से जुड़े 360 विदेशियों को ब्लैकलिस्ट में डालने की प्रक्रिया शुरू की ◾

कांग्रेस के विकास कार्यों का श्रेय लेना भाजपा का कार्य: दीपेन्द्र

फरीदाबाद: रोहतक से सांसद दीपेन्द्र सिंह हुडडा ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी केवल ढोल पीटने का काम करती है इनका काम करने में कोई विश्वास नहीं बल्कि दूसरे के किए गए कामों का श्रेय लेने की कोशिश करना ही इनका काम है। यह बातें रविवार को रोहतक के सांसद दीपेंद्र हुड्डा एनआईटी विधानसभा के सैक्टर-55 स्थित वरिष्ठ कांग्रेसी नेता जगन डागर के कार्यालय पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहीं। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता जगन डागर, कांग्रेसी नेता विजय प्रताप सिंह ,युवा कांग्रेस के जिला महासचिव सतेन्द्र डागर, सागर डागर ने सांसद दीपेन्द्र सिंह हुडडा का भव्य स्वागत किया। इस मौके पर दीपेंद्र हुड्डा ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा उन्होंने कहा की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने जिस तरह बराला के बेटे का नाम सामने आने पर पीडि़ता के चरित्र हनन की कोशिश की वह भारतीय जनता पार्टी के नेताओं का चरित्र दिखाता है।

उनके मुताबिक लड़की के बराला पर आरोप लगाए जाने के बाद से उसे बदनाम किए जाने की लगातार कोशिश की गई। आमतौर पर ऐसे मामलों में लड़कियां सामने नहीं आती है पर जो लड़की हिम्मत कर कर सामने आए उसका भी चरित्र गिराने की कोशिश करके भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने बता दिया कि आखिर उनकी वास्तव में सोच क्या है। दीपेंद्र हुड्डा ने सरकार पर सवाल करते हुए का खड़े करते हुए कहा कि सरकार बताए आखिर किसके दबाव में पुलिस ने बार.बार बयान और धाराएं बदली। उन्होंने कहा कि जिस तरह से इस मामले में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे का नाम सामने आया उसके बाद उन्हें नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। वही पलवल में आज जुनैद हत्याकांड की तर्ज पर एक युवक की ट्रेन में हुई हत्या के मामले में कहा कि सरकार अपने नागरिकों की रक्षा करने में पूरी तरह फेल है।

ट्रेन में पहले भी इसी तरह से एक युवक की हत्या की गई ,बावजूद इसके उस घटना से कोई सबक नहीं लिया गया । उन्होंने कहा कि इस मामले में सरकार को सख्त से सख्त कार्यवाही करनी चाहिए। वहीं उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बच्चों की मौत के मामले पर बोलते हुए दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि ऑक्सीजन की कमी से गोरखपुर में हुई बच्चों की मौत बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि मात्र कुछ पैसों के अभाव में इतने बच्चों की जान चली गई। दीपेंद्र ने इस मामले में जिम्मेदार अधिकारियों और मंत्रियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की बात कही। उन्होंने कहा कि सरकार को इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए और शास्त्री जी से सीखना चाहिए जिन्होंने एक हादसे के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वही केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र सिंह के हरियाणा में शिक्षा के गिरते स्तर पर उन्होंने समर्थन करते हुआ की वीरेंद्र सिंह के दिल का दर्द हम जानते हैं पर उनका इलाज हमारे पास नहीं है। उन्होंने कहा कि इरच सरकार आने के बाद प्रदेश में शिक्षा का स्तर गिरा है ए यहां तक की बेटियों को भी पढऩे के लिए भूख हड़ताल पर बैठना पड़ा , वही स्कूलों को अपग्रेड करने की बजाय डाउनग्रेड कर दिया गया।

- राकेश देव