BREAKING NEWS

भ्रष्टाचार के मामले में 180 देशों में 80वें स्थान पर भारत◾अमित शाह ने केजरीवाल पर लगाया दिल्ली में दंगा भड़काने का आरोप ◾मैंने अपना भगवा रंग नहीं बदला है : उद्धव ठाकरे◾राज की मनसे ने अपनाया भगवा झंडा, घुसपैठियों को बाहर करने के लिए मोदी सरकार को समर्थन◾भाजपा नेता ने मोदी को चेताया, देश बढ़ रहा है दूसरे विभाजन की तरफ◾पासवान से मिला ब्राजील का प्रतिनिधिमंडल, एथेनॉल प्रौद्योगिकी साझेदारी पर बातचीत◾हिंदू समाज में साधु-संतों को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती : अखिलेश◾पदाधिकारी पार्टी के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने से बचें : ठाकरे◾दिल्ली की जनता तय करे, कर्मठ सरकार चाहिए या धरना सरकार चाहिए : शाह◾वन्य क्षेत्रों में अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित नहीं किया जा सकता : दिल्ली सरकार◾मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा है कांग्रेस नेतृत्व : नड्डा◾निर्भया के दोषियों से पूछा : आखिरी बार अपने-अपने परिवारों से कब मिलना चाहेंगे , तो नहीं दिया कोई जवाब !◾विपक्ष की तुलना पाकिस्तान से करना भारत की अस्मिता के खिलाफ : कांग्रेस◾ब्राजील के राष्ट्रपति 24-27 जनवरी तक भारत यात्रा पर रहेंगे, गणतंत्र दिवस परेड में होंगे मुख्य अतिथि◾उत्तर प्रदेश : किसानों के मुद्दे पर सड़क पर उतरेगी कांग्रेस ◾कश्मीर मुद्दे पर विदेश मंत्रालय ने कहा-किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं◾निर्भया मामले में आरोपियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी करने वाले जज का हुआ ट्रांसफर◾CM नीतीश की चेतावनी पर पवन वर्मा बोले- मुझे चिट्ठी का जवाब नहीं मिला◾भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले- देश हित में लिए प्रधानमंत्री के फैसलों से देश में नई ऊर्जा एवं उत्साह पैदा हुआ◾नेताजी ने हिंदू महासभा की विभाजनकारी राजनीति का विरोध किया था : ममता बनर्जी◾

गठबंधन सरकार कर रही है किसान जन आंदोलन को विवश : अभय चौटाला

सिरसा : ऐलनाबाद से इनेलो विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि प्रदेश की गठबंधन सरकार किसानों को ‘किसान जन-आंदोलन’ करने की लिए विवश कर रही है क्योंकि हिसार से ‘हरियाणा किसान मंच’ ने चेतावनी दी है कि अगर प्रदेश सरकार ने किसानों के लिए नहरी पानी की समस्या का हल नहीं किया तो उन्हें फिर से विवश होकर जन-आंदोलन करना पड़ेगा। 

उन्होंने कहा कि पिछले दो वर्षों से पानी की विकट समस्या के बावजूद भी सरकार ने कोई सशक्त कदम नहीं उठाए हैं क्योंकि विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा और जजपा ने किसानों को आश्वासन दिया था कि उनकी सरकार में भागीदारी होते ही प्रदेश की सभी नहरों में दो सप्ताह तक का नहरी पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। 

इनेलो नेता ने बताया कि सरकार द्वारा नहरी पानी तो क्या उपलब्ध करवाना था, उल्टा धान की बिजाई के दौरान नहरों में जो बरसाती-मोघे लगाए हुए थे, वह भी गठबंधन सरकार ने बंद करवाने की बजाय किसानों द्वारा खुद के पैसों से लगवाई हुई पाइपें ही तुड़वा दी हैं और गठबंधन सरकार का यह कार्य उनकी किसान विरोधी नीति को भी दर्शाता है।उन्होंने बताया कि धमतान साहब-नहर में बुर्जी नम्बर- 35500 पर गांव सजूमा, कुराड़, खेड़ी लांबा और कोलेखां आदि में लगे तमाम मोघे सरकार ने बंद करवाकर भविष्य में धान की बिजाई न करने का संकेत दिया है। 

उन्होंने बताया कि ये तमाम बरसाती-मोघे हर वर्ष धान की बिजाई के लिए जुलाई माह से लेकर सितंबर तक खोले जाते हैं। इसके बाद इन मोघों के आगे बनी पक्की हौदी में मिट्टी भर कर बंद किया जाता था ताकि अगली बार फिर इन्हें सिंचाई के लिए इस्तेमाल किया जा सके। उन्होंने बताया कि जहां सिंचाई के लिए पानी की किल्लत होती है, ये बरसाती- मोघे उन्हीं क्षेत्रों में लगाए जाते हैं ताकि किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी धान की फसल के लिए उपलब्ध करवाया जा सके। 

इनेलो नेता ने अफसोस जताते हुए कहा कि गठबंधन सरकार ने इन मोघों की पाइपों को तुड़वाकर साबित कर दिया है कि अगली बार किसान धान की बिजाई ही न कर सकें। यूं तो गठबंधन सरकार किसान हितैषी होने के दावे वांगबुलंद कर रही है लेकिन किसान विरोधी फैसले लेने में भी पीछे नहीं है।