BREAKING NEWS

आज का राशिफल ( 28 मई 2022)◾आर्यन खान ड्रग्स मामला : NCB ने क्रूज मामले की बेहद ढीली जांच की - SIT◾RR vs RCB ( IPL 2022) : बटलर के चौथे शतक से राजस्थान रॉयल्स फाइनल में , 29 मई को गुजरात से होगा मुकाबला ◾राजनाथ ने भारतीय नौसेना के पोत आईएनएस घड़ियाल के चालक दल से बात की◾केंद्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने राहुल गाँधी पर साधा निशाना◾CBI ने ‘वीजा रिश्वत’ मामले में कार्ति चिदंबरम से आठ घंटे पूछताछ की◾मंकीपॉक्स की चपेट में आए 20+ देश! जानें कैसे फैल रही यह बिमारी.. WHO ने दी अहम जानकारियां ◾ Ladakh News: लद्दाख दुर्घटना को लेकर देशवासियों को लगा जोरदार झटका, पीएम मोदी समेत कई बड़े नेताओं ने जताया दुख◾ UCC लागू करने की दिशा में उत्तराखंड सरकार ने बढ़ाया कदम, CM धामी बताया कब से होगा लागू◾UP News: योगी पर प्रहार करते हुए अखिलेश यादव बोले- यूपी को किया तहस नहस! शिक्षा व्यवस्था पर भी कसा तंज◾ Gyanvapi Case: सोमवार को हिंदू और मुस्लिम पक्ष को मिलेंगी सर्वे की वीडियो और फोटो◾ RR vs RCB ipl 2022: राजस्थान ने टॉस जीतकर किया गेंदबाजी का फैसला, यहां देखें दोनों टीमों की प्लेइंग XI◾नेहरू की पुण्यतिथि पर राहुल गांधी का मोदी पर प्रहार, बोले- 8 सालों में भाजपा ने लोकतंत्र को किया कमजोर◾Sri Lanka crisis: आर्थिक संकट के चलते श्रीलंका में निजी कंपनियां भी कर सकेगी तेल आयात◾ नजर नहीं है नजारों की बात करते हैं, जमीं पे चांद सितारों की बात करते...शायराना अंदाज में योगी का विपक्ष पर निशाना ◾Ladakh Accident News: लद्दाख के तुरतुक में हुआ खौफनाक हादसा, सेना की गाड़ी श्योक नदी में गिरी, 7 जवानों की हुई मौत◾ कर्नाटक में हिन्दू लड़के को मुस्लिम लड़की से प्यार करने की मिली सजा, नाराज भाईयों ने चाकू से गोदकर की हत्या◾कांग्रेस को मझदार में छोड़ अब हार्दिक पटेल कर रहे BJP के जहाज में सवारी की तैयारी? दिए यह बड़े संकेत ◾RBI ने कहा- खुदरा महंगाई पर दबाव डाल सकती है थोक मुद्रास्फीति की ऊंची दर◾ SC से सपा नेता आजम खान को राहत, जौहर यूनिवर्सिटी के हिस्सों को गिराने की कार्रवाई पर रोक◾

गठबंधन सरकार कर रही है किसान जन आंदोलन को विवश : अभय चौटाला

सिरसा : ऐलनाबाद से इनेलो विधायक चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि प्रदेश की गठबंधन सरकार किसानों को ‘किसान जन-आंदोलन’ करने की लिए विवश कर रही है क्योंकि हिसार से ‘हरियाणा किसान मंच’ ने चेतावनी दी है कि अगर प्रदेश सरकार ने किसानों के लिए नहरी पानी की समस्या का हल नहीं किया तो उन्हें फिर से विवश होकर जन-आंदोलन करना पड़ेगा। 

उन्होंने कहा कि पिछले दो वर्षों से पानी की विकट समस्या के बावजूद भी सरकार ने कोई सशक्त कदम नहीं उठाए हैं क्योंकि विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा और जजपा ने किसानों को आश्वासन दिया था कि उनकी सरकार में भागीदारी होते ही प्रदेश की सभी नहरों में दो सप्ताह तक का नहरी पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। 

इनेलो नेता ने बताया कि सरकार द्वारा नहरी पानी तो क्या उपलब्ध करवाना था, उल्टा धान की बिजाई के दौरान नहरों में जो बरसाती-मोघे लगाए हुए थे, वह भी गठबंधन सरकार ने बंद करवाने की बजाय किसानों द्वारा खुद के पैसों से लगवाई हुई पाइपें ही तुड़वा दी हैं और गठबंधन सरकार का यह कार्य उनकी किसान विरोधी नीति को भी दर्शाता है।उन्होंने बताया कि धमतान साहब-नहर में बुर्जी नम्बर- 35500 पर गांव सजूमा, कुराड़, खेड़ी लांबा और कोलेखां आदि में लगे तमाम मोघे सरकार ने बंद करवाकर भविष्य में धान की बिजाई न करने का संकेत दिया है। 

उन्होंने बताया कि ये तमाम बरसाती-मोघे हर वर्ष धान की बिजाई के लिए जुलाई माह से लेकर सितंबर तक खोले जाते हैं। इसके बाद इन मोघों के आगे बनी पक्की हौदी में मिट्टी भर कर बंद किया जाता था ताकि अगली बार फिर इन्हें सिंचाई के लिए इस्तेमाल किया जा सके। उन्होंने बताया कि जहां सिंचाई के लिए पानी की किल्लत होती है, ये बरसाती- मोघे उन्हीं क्षेत्रों में लगाए जाते हैं ताकि किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी धान की फसल के लिए उपलब्ध करवाया जा सके। 

इनेलो नेता ने अफसोस जताते हुए कहा कि गठबंधन सरकार ने इन मोघों की पाइपों को तुड़वाकर साबित कर दिया है कि अगली बार किसान धान की बिजाई ही न कर सकें। यूं तो गठबंधन सरकार किसान हितैषी होने के दावे वांगबुलंद कर रही है लेकिन किसान विरोधी फैसले लेने में भी पीछे नहीं है।