BREAKING NEWS

बिहार: BJP ने अपनाया 'आक्रामक' रुख, NDA में बढ़ रही रार, जानें क्या नीतीश की कुर्सी तक आ जाएगी बात? ◾दिल्ली : स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले- आज राजधानी में संक्रमण के 4-5 हजार कम केस आने की उम्मीद◾UP चुनाव: जिस दल को मिला पूर्वांचल का साथ... उसके सिर सजा जीत का ताज, जानें अब तक कैसा रहा इतिहास ◾SP-RLD को समर्थन के बाद नरेश टिकैत ने लिया यूटर्न, अब बालियान से की मुलाकात, अटकलों का बाजार गर्म ◾योगी को गोरखपुर से टिकट देना दर्शाता है कि BJP कमजोर हुई : नवाब मलिक◾अखिलेश से लोगों को उम्मीदें, जिंदा लोग BJP को नहीं देंगे वोट : संजय राउत ◾भाजपा ने किया दावा- यूपी में 10 फरवरी से ही शुरू हो जाएगा जीत का सफर, अंतिम चरण तक रहेगा कायम◾UP चुनाव : पीएम मोदी कल अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भाजपा के कार्यकर्ताओं से वर्चुअली करेंगे बातचीत ◾गोवा में कांग्रेस और BJP के बीच मुकाबला, AAP-TMC कर रही गैर-भाजपा मतों को 'विभाजित' करने का काम ◾रावत के निष्कासन पर बोले CM धामी-वंशवाद से दूर और विकास के साथ चलने वाली पार्टी है BJP◾कांग्रेस में शामिल हुए बिना भी कांग्रेस के लिए करूंगा काम : हरक सिंह रावत◾Corona Cases in India : पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2 लाख 58 हजार से अधिक केस दर्ज◾पंजाब में चुनाव टालने की मांग पर आज विचार करेगा निर्वाचन आयोग◾UP विधानसभा चुनाव : निषाद पार्टी ने UP की 15 सीटों पर ठोंका दावा, BJP ने अभी नहीं की पुष्टि ◾PM मोदी आज करेंगे दावोस शिखर सम्मेलन को संबोधित, कोविड समेत कई वैश्विक मुद्दों पर कर सकते हैं बात◾राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में शीतलहर का कहर जारी, जानें कब तक रहेगा ऐसा मौसम◾Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾

बीमारियों को निमंत्रण दे रही घास से अटी ड्रेन

निसिंग: बरसात का मौसम शुरू हो चुका है। कभी कभी मौसम में होने वाली अधिक बरसात बाढ़ का रूप भी धारण कर लेती है। जिससे जानमाल व फसलों में नुकासान हो जाता है। जिनसे बचाव के लिए बनाई गई ड्रेन समुचित देखरेख के अभाव में महज नाम की बनकर रह गई है। सफाई के अभाव में ड्रेन अनावश्यक घास से अटी पड़ी है। जिसमें से पानी की निकासी हो पाना सफेद हाथी के समान बना हुआ है,लेकिन संबंधित विभाग की ओर से समय पर ड्रेन की सफाई नही करवाई गई,तो  सफाई के अभाव में ड्रेन के किनारें बसने वाले विभिन्न गांवों के क्षेत्र वासियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। समस्या किसी विशेष गांव की नही है अपितु क्षेत्र में ड्रेन के आसपास बसने वाले सभी गांवों में समान बनी हुई है।

जिनकी सफाई की ओर नहरी एवं सिचाई विभाग के अधिकारियों का कोई ध्यान नही दे रहे, ध्यान दे भी रहे है तो नाममात्र दिखावा किया जा रहा है। क्षेत्र वासी ग्रामीण शमशेर सिंह, सुभाष, सुरेश, ईशवर, महाबीर, रोशन लाल, दुलाराम, रामपाल, रवि व रामपाल सहित अन्य का कहना है कि शहर के तीन छोर से गुजरती ड्रेन में गंदे नालों व राईस मिलों का बिना ट्रीट किया गया गंदा बदबूदार पानी डाला जा रहा है। ड्रेन में अनावश्यक घास फूस का साम्राज्य होने के कारण जमा गंदे पानी की निकासी नही हो पाती। जिस कारण ड्रेन के किनारें बनी बस्ती व आसपास में गंदे पानी की बदबू का आलम है। जिससे लोगों में बीमारीयां फैलने का अंदेशा बना हुआ है।

बदबू के कारण बस्ती के लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर बने हुए है। इतना ही नही ड्रेन में जमा घास व गंदे पानी में बारह महीने मच्छर पनपते है। गर्मी के मौसम में बस्ती के लोगों को ड्रेन में पनपने वाले सांप जैसे विषैले कीटों के घर में घुसने व काटने का भी भय बना रहता है। जिस कारण ड्रेन के आसपास बसने वाले लोग डर के साये में जीने पर विवश है। ड्रेन के आसपास की बस्तियों में समस्या बारह महीने बनी रहती है। बस्ती के लोगों ने प्रशासनिक व संबंधित विभाग के अधिकारियों से ड्रेन की जल्द सफाई करने की मांग की है। ताकि उन्हें गंदे पानी की निकासी के अभाव में होने वाली परेशानियों से निजात मिल सके।

(रामपाल)