पानीपत : पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि आज प्रदेश के किसानों को जातिवाद से उपर उठकर अपने हकों के लिए एकजुट होकर संघर्ष करने की जरूरत है और जब सभी जातियों के किसान एकजुट होकर अपनी मांग उठाएंगे तो कोई भी ताकत उन्हें उनके हक देने से नहीं रोक सकती।

किसान मसीहा चौ. छोटू राम भी किसानों को अपने व पराये की पहचान करके हकों के लिए आवाज उठाने के लिए बोलते थे और आज भी वैसे ही हालात किसानों के सामने है। इसलिए देश व प्रदेश के कमेरे वर्ग को एक होना होगा। चौ. छोटू राम किसानों के लिए बहुत बड़ा नेतृत्व थे और कोई भी नेता उनकी बराबरी नहीं कर सकता लेकिन मैंने भी प्रदेश में 10 साल किसानों के हित में कार्य करते हुए चौ.छोटू राम के चरणों तक पहुंचने का प्रयास किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा रविवार को किसान भवन में आयोजित चौ. छोटू राम जयंती पर बतौर मुख्य अतिथि किसानों को संबोधित कर रहे थे। जयंती समारोह में पहुंचने पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सबसे पहले किसान भवन में चौ. छोटू राम की मुर्ति पर माल्यापर्ण किया। उसके उपरांत किसान यूनियन के प्रधान सुरेश दहिया, प्रताप माजरा, बिंटू मलिक, आजाद मलिक, कृष्ण देशवाल आदि पदाधिकारियों ने भूपेंद्र हुड्डा का पगड़ी पहनाकर व स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया।

वहीं इस मौके पर किसान यूनियन की और से विशिष्ट अतिथि के तौर पर पहुंचे पूर्व विधायक धर्म सिंह छौक्कर, राजरानी पुनम, बुल्ले शाह, धर्मपाल गुप्ता,जितेंद्र अहलावत, डा. कर्ण सिंह कादियान, सरोज सांगवान, शशी लूथरा, सुरेंद्र दहिया, धमेंद्र अहलावत, बलबीर बाल्मीकि, किसान नेता स. गुरनाम चंढूनी आदि का शाल भेंटकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा छोटे किसानों को 6 हजार रूपये सालाना देने की घोषणा करने से किसानों को भला नहीं हो सकता। यदि भाजपा सरकार किसानों को 5 हजार रूपये मासिक पेंशन देती तो वे उनके फैसले का स्वागत करते।

हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार की नीति व नीयत ऐसी है कि वह कभी भी किसान व मजदूर हितैषी नहीं हो सकती। हुड्डा ने कहा कि देश के किसानों को आज कर्ज मुक्त करने की जरूरत है और सक्ष्म बनाने के लिए किसानों को उनकी फसल की लागत पर सी टू फार्मुले के तहत 50 फीसदी लाभ देना होगा।

वहीं हुड्डा ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार आने पर किसानों को आधे रेट पर फूल बिजली मिलेगी। वहीं पानीपत शुगर मिल पर उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार अपने करीब सवा चार साल के कार्यकाल में गांव डाहर में शुगर मिल भी नहीं लगा पाई। किसान यूनियन के जिला प्रधान सुरेश दहिया ने जयंती समारोह में पहुंचने पर सभी का आभार व्यक्त किया।

इस मौके पर किसान यूनियन की तरफ से पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा को किसानों की समस्याओं को लेकर मांग पत्र सौंपा गया, जिसे भूपेंद्र हुड्डा ने कांग्रेस सरकार आने पर सभी समस्याओं व मांगों के समाधान करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर पूर्व मेयर सुरेश वर्मा,पूर्व प्रधान जयकरण कादियान, खुशी राम जागलान, दीपचंद फूलिया, कर्मचंद पुनम, सुरेंद्र कादियान एडवोकेट, विरेंद्र मान, सुनील वर्मा,संदीप मलिक, गुल्लू चौहान सहित जिलाभर से आए किसान व गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।