रेवाड़ी : बीती देर रात्रि रोहतक हाइवे पर गंगायचा टोल के निकट बारात की एक अनियंत्रित कार सामने से आ रहे ट्राला से जा टकराई। इस हादसे में दूल्हे के पिता व तीन बच्चों समेत पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि दो गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए दिल्ली व रोहतक रेफर कर दिया गया है।

शनिवार को सदर थाना पुलिस ने सभी शवों का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। गमगीन माहौल में तड़के वर-वधु ने फेरे लिए। जानकारी के अनुसार झज्जर जिला के कस्बा बेरी निवासी राजेंद्र सैनी अपने पुत्र जितेंद्र की बारात लेकर रेवाड़ी जिले के गांव गोकलगढ़ आ रहे थे। करीब दस वाहनों से 150 बाराती रेवाड़ी के लिए निकले थे।

राजेंद्र सिंह अपने दामाद, तीन बच्चों व चालक के साथ एक कार में सवार होकर आ रहे थे। बताया जा रहा है कि रोहतक हाइवे पर गंगायचा टोल के निकट कार डिवाइडर को तेज गति से कूदती हुई दूसरी लेन में आ गई तथा सामने से आ रहे ट्रक से उसकी जोरदार भिडंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के परखच्चे उड़ गए।

मौके पर मौजूद लोगों ने बड़ी मशक्कत के बाद कार में फंसे सभी लोगों को बाहर निकाला। जिसमे से राजेंद्र सैनी, चालक पीपेंद्र, जींद निवासी दस वर्षीय दक्ष, बच्ची प्राची व एक अन्य बच्चे काकू की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में दामाद संजय व एक बच्चा भी गंभीर रूप से घायल हो गया। जिन्हें ट्रामा सेंटर में प्राथमिक उपचार के उपरांत दिल्ली एवं रोहतक रेफर कर दिया गया। मृतक बच्चे राजेंद्र सैनी के नवासे व नवासी थे। हादसे की सूचना के उपरांत सभी बाराती ट्रामा सेंटर में पहुंच गए।

हादसे की सूचना जैसे ही वधु पक्ष को लगी तो आनन-फानन में वह सभी ट्रामा सेंटर की ओर दौड़ पड़े। देखते ही देखते खुशियां की शहनाई क्रुंदन में तबदील हो गई। कुछ समय पहले तक जहां डीजे बज रहा था तथा भारी संख्या में लोग बारात का इंतजार कर रहे थे, वहां अब सन्नाटा पसरा हुआ था। दोनों पक्षों के बड़े-बुजुर्गों की सलाह के उपरांत तड़के वर-वधु को गमगीन माहौल में फेरे दिलाए गए। शनिवार को काफी संख्या में मृतकों के परिजन भी रेवाड़ी ट्रामा सेंटर पहुंच गए।

यहां सदर थाना पुलिस ने शवों के पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिए। शनिवार सुबह जिस किसी को भी इस हादसे की सूचना मिली, वह सन्न रह गया। गांव गोकलगढ़ में भी माहौल गमगीन बना रहा। गांव के पूर्व सरपंच रामकिशन ने बताया कि गांव में अन्य पांच-छह शादियां भी थी। लेकिन जैसे ही यह दुखद समाचार पहुंचा तो सभी शादियों में डीजे व बैंड-बाजे बंद कर दिए गए। उन्होंने कहा कि विवाह की रस्मों की मात्र औपचारिकताएं पूरी की गई हैं। सदर थाना के प्रभारी भगवान दास ने कहा कि ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

– शशि सैनी