BREAKING NEWS

अयोध्या के विवादित ढांचा को ढहाए जाने के मामले में कल्याण सिह को समन जारी◾‘Howdy Modi’ के लिए ह्यूस्टन तैयार, 50 हजार टिकट बिके ◾‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए PM मोदी पहुंचे ह्यूस्टन◾प्रधानमंत्री का ह्यूस्टन दौरा : भारत, अमेरिका ऊर्जा सहयोग बढ़ाएंगे ◾क्या किसी प्रधानमंत्री को ऐसे बोलना चाहिए : पाक को लेकर मोदी के बयान पर पवार ने पूछा◾कश्मीर पर भारत की निंदा करने के लिये पाकिस्तान सबसे ‘अयोग्य’ : थरूर◾राजीव कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज ◾AAP ने अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने में देरी पर ‘धोखा दिवस’ मनाया ◾ शिवसेना, भाजपा को महाराष्ट्र चुनावों में 220 से ज्यादा सीटें जीतने का भरोसा◾आधारहीन है रिहाई के लिए मीरवाइज द्वारा बॉन्ड पर दस्तखत करने की रिपोर्ट : हुर्रियत ◾TOP 20 NEWS 21 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामदास अठावले ने किया दावा - गठबंधन महाराष्ट्र में 240-250 सीटें जीतेगा ◾कृषि मंत्रालय से मिले आश्वासन के बाद किसानों ने खत्म किया आंदोलन ◾फडणवीस बोले- भाजपा और शिवसेना साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, मैं दोबारा मुख्यमंत्री बनूंगा◾चुनावों में जनता के मुद्दे उठाएंगे, लोग भाजपा को सत्ता से बाहर करने को तैयार : कांग्रेस◾चुनाव आयोग का ऐलान, महाराष्ट्र-हरियाणा के साथ इन राज्यों की 64 सीटों पर भी होंगे उपचुनाव◾महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग, 24 को आएंगे नतीजे◾ISRO प्रमुख सिवन ने कहा - चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर अच्छे से कर रहा है काम◾विमान में तकनीकी खामी के चलते जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में रुके PM मोदी, राजदूत मुक्ता तोमर ने की अगवानी◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन◾

हरियाणा

चार पूर्व विधायक जजपा में शामिल

चंडीगढ़ : हरियाणा में पिछले कई माह से इनेलो में रहकर जननायक जनता पार्टी का समर्थन कर रहे चार निवर्तमान विधायकों ने शुक्रवार को औपचारिक रूप से जजपा का दामन थाम लिया। चारों विधायकों ने विधानसभा स्पीकर द्वारा दलबदल मामले में सुनवाई किए जाने के दौरान अपने पद से इस्तीफा दिया था। उधर निवर्तमान विधायकों द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद इनेलो ने पलटवार करते हुए इस्तीफे की खबरों को निराधार बताया है। 

पिछले साल गोहाना रैली के बाद इनेलो के दो फाड़ होने के बाद जननायक जनता पार्टी के अस्तित्व में आने के बाद सबसे पहले इनेलो विधायक नैना सिंह चौटाला, अनूप धानक, पिरथी सिंह नंबरदार तथा राजदीप फौगाट ने जजपा के साथ मंच साझा किया था। चारों विधायकों ने पिछले एक साल के दौरान इनेलो के साथ कोई सहमति नहीं दिखाई। जिसके चलते अभय चौटाला ने स्पीकर के समक्ष दलबदल के तहत कार्रवाई की मांग को लेकर केस दायर किया था। इस केस पर फैसले से पहले चारों विधायकों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। 

आज चारों निवर्तमान विधायकों ने जजपा संयोजक एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में औपचारिक रूप से जजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। चारों विधायकों ने दावा किया कि दो दिन पहले विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद गुरूवार को इनेलो से भी इस्तीफा दे दिया। अब चारों विधायक औपचारिक रूप से जजपा के बैनर तले ही काम करेंगे। 

दूसरी तरफ इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष बीरबल दास ढालिया ने चारों पूर्व विधायकों द्वारा इनेलो की प्राथमिक सदस्यता से कथित त्यागपत्र की खबरों को निरर्थक और निराधार बताते हुए कहा कि अक्तूबर 2018 से ही यह चारों विधायक अपने आपको इनेलो पार्टी की गतिविधियों से न केवल अलग कर चुके थे और जजपा में शामिल हो चुके थे। अक्तूबर के बाद से ही चारों पूर्व विधायकों ने पहले जींद उपचुनाव और फिर लोकसभा चुनावों में भी जजपा का समर्थन करते हुए इनेलो का विरोध किया था।