BREAKING NEWS

इतिहास रचा, भारत में अब कोविड से लड़ने का मजबूत सुरक्षा कवच है : PM मोदी◾स्मृति ईरानी एवं हेमा मालिनी पर टिप्पणी कों लेकर EC से कांग्रेस की शिकायत◾उप्र विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है भाजपा, हो सकता है भारत का विघटन : फारूक अब्दुल्ला◾एनसीबी के सामने पेश हुईं अभिनेत्री अनन्या पांडे, कल सुबह 11 बजे फिर होगा सवालों से सामना ◾सिद्धू का अमरिंदर सिंह पर पलटवार - कैप्टन ने ही तैयार किये है केन्द्र के तीन काले कृषि कानून◾हिमाचल के छितकुल में 13 ट्रैकरों की हुई मौत, अन्य छह लापता◾कांग्रेस का PM से सवाल- जश्न से जख्म नहीं भरेंगे, ये बताएं 70 दिनों में 106 करोड़ टीके कैसे लगेंगे ◾केरल - वरिष्ठ माकपा नेता पर बेटी ने ही लगाया बच्चा छीनने का आरोप, मामला दर्ज ◾‘विस्तारवादी’ पड़ोसी को सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब, संप्रभुता से कभी समझौता नहीं करेगा भारत : नित्यानंद राय ◾कोरोना वैक्सीन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार होने पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने गीत और फिल्म जारी की◾केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन धारकों को दीपावली का तोहफा, महंगाई भत्ते में 3 प्रतिशत वृद्धि को मिली मंजूरी◾SC की सख्ती के बाद गाजीपुर बॉर्डर से किसान हटाने लगे टैंट, कहा- हमने कभी बन्द नहीं किया था रास्ता ◾नेहरू के जन्मदिन पर महंगाई के खिलाफ अभियान शुरू करेगी कांग्रेस, कहा- भारी राजस्व कमा रही है सरकार ◾ देश में टीकाकरण का आंकड़ा 100 करोड़ के पार, WHO प्रमुख ने PM मोदी और स्वास्थ्यकर्मियों को दी बधाई ◾आर्यन केस : शाहरुख के घर मन्नत में जांच के बाद निकली NCB टीम, अब अनन्या पांडे से होगी पूछताछ ◾जम्मू-कश्मीर में जारी है आतंकवादी गतिविधियां, बारामूला में टला बड़ा हादसा, आईईडी किया गया निष्क्रिय ◾SC की किसानों को फटकार- विरोध करना आपका अधिकार, लेकिन सड़कों को अवरुद्ध नहीं किया जा सकता◾100 करोड़ टीकाकरण पर थरूर बोले- 'आइए सरकार को श्रेय दें', पहले की विफलताओं के प्रति केंद्र जवाबदेह◾देश के पास महामारी के खिलाफ 100 करोड़ खुराक का ‘सुरक्षात्मक कवच’, आज का दिन ऐतिहासिक : PM मोदी◾ड्रग्स केस : बॉम्बे HC में आर्यन खान की जमानत याचिका पर 26 अक्टूबर को होगी सुनवाई◾

कोरोना पर काबू पाने के लिए सक्रिय रणनीति अपना रहे हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्टर

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ग्रामीण इलाकों पर ध्यान केंद्रित करने के साथ परीक्षण बढ़ाकर राज्य में कोरोनावायरस के प्रसार को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के लिए सक्रिय रणनीति अपना रहे हैं। वह खासतौर पर गांवों में ध्यान केंद्रित करना चाह रहे हैं, जहां हाल के दिनों में कोरोना मामलों में वृद्धि हुई है। मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार, पिछले आठ दिनों में उन्होंने व्यवस्थाओं की समीक्षा करने के लिए 17 जिलों की यात्रा की है। आने वाले दिनों में वह बाकी पांच जिलों का भी दौरा करेंगे।

मुख्यमंत्री ने विशेषज्ञों का हवाला देते हुए कहा है कि मामलों में संभावित वृद्धि की उम्मीद है और इसलिए सभी उपायुक्तों को विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में आक्रामक तरीके से निगरानी, आंकड़े नियंत्रण और केंद्रित नैदानिक प्रबंधन के साथ मिलकर तैयारियों को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है।

प्रशासनिक सचिवों के साथ समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए, मुख्यमंत्री ने गहन निगरानी इकाइयों और ऑक्सीजन से सुसज्जित बेड की उपलब्धता के अलावा, तैयारियों की निगरानी करने और ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए उन्हें प्रत्येक जिले के प्रभारी के रूप में प्रतिनियुक्त किया है।

मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा है, अस्पतालों में ऑक्सीजन, बेड और दवाओं की उपलब्धता की नियमित ऑडिटिंग की जानी चाहिए, ताकि भविष्य और वर्तमान की मांग और आपूर्ति के बारे में रणनीति पहले से बनाई जा सके। हर अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति और मांग की निगरानी के लिए जल्द से जल्द एक जिला स्तरीय टीम गठित होनी चाहिए।

उन्होंने उपायुक्त से ऑक्सीजन की मांग और आपूर्ति की निगरानी करने और जल्द से जल्द ऑक्सीजन टैंकरों की आवक या अनलोडिंग सुनिश्चित करने को कहा है। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक तेजी से एंटीजन टेस्ट कराने और स्वास्थ्य जांच और जागरूकता शिविर आयोजित करने पर जोर दिया जाना चाहिए।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि वर्तमान में राज्य का ऑक्सीजन कोटा 257 मीट्रिक टन (एमटी) है और केंद्र सरकार से इस कोटे को बढ़ाकर 300 एमटी करने का अनुरोध किया गया है। मुख्यमंत्री ने सरकारी और निजी दोनों अस्पतालों को निर्देश जारी किए कि वे भर्ती मरीजों की संख्या, ऑक्सीजन सपोर्ट पर मरीजों और छुट्टी दे चुके रोगियों के बारे में दैनिक अपडेट दें। ग्रामीण क्षेत्रों में मामलों में वृद्धि पर चिंता व्यक्त करते हुए, मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि प्रत्येक गांव में विशेष स्क्रीनिंग शिविर लगाए जाएं।