BREAKING NEWS

PM मोदी को श्रीकृष्ण आयोग की रिपोर्ट पर कार्रवाई करनी चाहिए : ओवैसी ◾हिन्दू समाज पार्टी के नेता की दिनदहाड़े हत्या : SIT करेगी जांच◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : राजनाथ ने डीजीपी, डीएम से आरोपियों को तत्काल पकड़ने को कहा◾सपा-बसपा ने सत्ता को बनाया अराजकता और भ्रष्टाचार का पर्याय : CM योगी◾FBI के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल◾करतारपुर गलियारा : अमरिंदर सिंह ने 20 डॉलर का शुल्क न लेने की अपील की ◾प्रफुल्ल पटेल 12 घंटे तक चली पूछताछ के बाद ईडी कार्यालय से निकले ◾फडनवीस के नेतृत्व में फिर बनेगी गठबंधन सरकार : PM मोदी◾प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के आसपास कोई भी नेता नहीं : सर्वेक्षण ◾मोदी का विपक्ष पर वार : कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकारों ने केवल घोटालों की उपज काटी है◾ISIS के निशाने पर थे कमलेश तिवारी, सूरत से निकला ये कनेक्शन◾अमित शाह ने राहुल गांधी से पूछा, आदिवासियों के लिए आपके परिवार ने क्या किया ◾पायलट ने निकाय प्रमुखों के चुनाव संबंधी फैसले पर खड़े किये सवाल ◾राम मंदिर पर हिंदुओं के पक्ष में निर्णय की आशा : RSS ◾TOP 20 NEWS 18 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾FATF ने पाक को ‘ग्रे सूची’ में कायम रखा, कार्रवाई की चेतावनी दी ◾दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को कोर्ट ने सुनाई 6 महीने की सजा, मिली जमानत◾महेंद्रगढ़ रैली में राहुल का प्रधानमंत्री पर वार, बोले-मोदी को नहीं है अर्थव्यवस्था की कोई समझ◾मोदी को डर, 'घेराबंदी' हटने पर कश्मीर में होगा खूनखराबा : इमरान खान◾हिसार में बोले PM मोदी-कांग्रेस ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में पहले ही मान ली है हार◾

हरियाणा

हरियाणा विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता का केंद्र बिंदु : राम बिलास शर्मा

चंडीगढ : हरियाणा के शिक्षा, पर्यटन एवं पुरातत्व विभाग के मंत्री राम बिलास शर्मा ने कहा कि हरियाणा विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता का केंद्र बिंदु है। उन्होंने कहा कि अब हड़प्पा-मोहनजोदड़ो की सभ्यता को विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता माना जाता रहा है लेकिन हिसार की राखीगढ़ी में की गई खुदाई से ऐसे अवशेष मिले है जो सिंधु सभ्यता से भी 900 वर्ष पुराने हैं। श्री शर्मा आज पुरातत्व विभाग हरियाणा द्वारा पंचकूला में आयोजित पांच दिवसीय कार्यशाला के चौथे दिन प्रतिभागियों को संबोधित कर रहे थे। 

कल 2 अगस्त के दिन सभी प्रतिभागियों को पंचकूला से जुड़े मोनुमैंटस का भ्रमण करवाया जायेगा। पुरातत्व मंत्री ने कहा कि यह विभाग छोटा होने के बावजूद इसका कार्य क्षेत्र बहुत ही विस्तृत है। उन्होंने कहा कि खंडहर कहे जाने वाले भवनों और स्थानों में भारतीय संस्कृति और सभ्यता की अमूल्य धरोहर छिपी है और इस पर शोध करके इसे सार्वजनिक किया जाना जरूरी हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा सरस्वती नामक ऐतिहासिक और पवित्र नदी की खोज के लिये गंभीरतापूर्वक प्रयास किये जा रहे है और इसरो द्वारा इन तथ्यों को प्रामाणित किया जा चुका है कि यमुनानगर के आदिबद्री से लेकर सिरसा तक, हनुमानगढ़ से लेकर जैसलमेर, गुजरात में कच्छ से लेकर प्रयाग संगम तक इस नदी के बहने का भौगोलिक इतिहास मौजूद है। 

उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश में 20 नलकूपों के माध्यम से और राजस्थान में भाजपा सरकार के कार्यकाल में 40 नलकूलों के माध्यम से निकाले गये जल से सरस्वती नदी का भू तल में होना प्रमाणित हो चुका है। उन्होनें कहा कि भारत के प्राचीन इतिहास से प्रमाणित है कि भारत विश्वगुरु रहा हैं और प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से पुन: विश्वगुरु बनने की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि इग्लैंड और कनाडा जैसे देशों में भारतीय मूल के नागरिकों ने अपना राजनैतिक वर्चस्व बनाया है और अब पूरा विश्व भारत की हैसियत को स्वीकार करने लगा है। 

पुरातत्व, कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती धीरा खंडेलवाल ने इस अवसर पर बताया कि इस पांच दिवसीय कार्यशाला में हरियाणाा के अलावा आसाम, तमिलनाडू, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, दिल्ली, चंडीगढ़ सहित देश के अन्य राज्यों के विद्यार्थी और प्रतिनिधि भाग ले रहे है। इस कार्यशाला में देश के विख्यात संस्थानों से जुड़े विशेषज्ञों ने पुरातत्व से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। इस कार्यक्रम में पुरातत्व विभाग के निदेशक श्री रवि प्रकाश गुप्ता सहित विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।