BREAKING NEWS

आज का राशिफल ( 22 मई 2022)◾DC vs MI (IPL 2022) : मुंबई से हारकर दिल्ली आईपीएल से बाहर , आरसीबी प्लेआफ में◾मेघालय के बाद अरुणाचल प्रदेश और असम के बीच सीमा विवाद सुलझेगा : शाह◾ ऑस्ट्रेलिया के PM मॉरिसन ने मानी चुनावी हार, 9 साल बाद लेबर पार्टी सत्ता संभालने को तैयार◾ महंगाई से त्रस्त जनता के लिए खुशखबरी, पेट्रोल 9.5 रुपए तो डीजल 7 रुपए हुआ सस्ता◾ MI vs DC: मुंबई इंडियंस ने टॉस जीतकर किया गेंदबाजी का फैसला, यहां देखें दोनों टीमों प्लेइंग XI◾ डीयू के प्रोफेसर रतन लाल को मिली जमानत, ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने पर किया था आपत्तिजनक पोस्ट◾'जब बड़ा पेड़ गिरता है, तो धरती हिलती है...', राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर अधीर रंजन का ट्वीट ◾ मोदी है तो मुश्किल है। GDP पाताल में महंगाई आसमान में है...,सीएम KCR की बेटी का PM पर निशाना ◾ हरियाणा के पूर्व CM ओपी चौटाला भ्रष्टाचार के मामले में हुए दोषी करार, इस दिन होगा सजा का ऐलान ◾ श्रीलंका सरकार ने देश में आपातकाल हटाने का किया ऐलान, लेकिन प्रशासन के खिलाफ लोगो में अब भी गुस्सा◾राउत ने किया राहुल की ‘केरोसिन’ वाली टिप्पणी का समर्थन, बोले-हमने भी अलग शब्दों में यही बात कही ◾ भारत में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA.4 का दूसरा मामला दर्ज ,तमिलनाडु में पाया गया◾ फव्वारा 2700 साल पुराना है....,ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग के दावे पर फिर भड़के ओवैसी◾ सिख दंगों में देश ने देखी है कांग्रेस की नफरत की राजनीति...,राहुल के बयान पर BJP का पलटवार◾ज्ञानवापी विवाद : मौलाना तौकीर रजा का आह्वान, हर जिले में 2 लाख मुसलमान दें गिरफ्तारी ◾ज्ञानवापी शिवलिंग विवाद : DU प्रोफेसर की गिरफ्तारी को लेकर छात्रों का हंगामा◾NSE Co-Location Case : मुंबई-दिल्ली समेत 10 ठिकानों पर CBI का एक्शन◾नफरत की राजनीति कर रही है BJP, राहुल गांधी के बयान को AAP का समर्थन◾नवनीत राणा को BMC का नोटिस, 7 दिन में जवाब नहीं दिया तो होगी कार्रवाई◾

हरियाणा पुलिस ने किया मानसिक रूप से विकृत किलर को पकड़ने का दावा

फरीदाबाद पुलिस ने एक खूखांर बलात्कारी और हत्या के मामले में आरोपित को अपनी गिरफ्त में किया है। सीरीयल किलर ने  फरीदाबाद पुलिस की  पूछताछ  यह बताकर चौंका दिया कि पिछले दो साल में उसने तीन अन्य लड़कियों के साथ बलात्कार करके उनकी हत्या की है। जिसे सुन पुलिसकर्मियों की रूह कांप उठी।  

फरीदाबाद के सेक्टर 16 के एक निजी अस्पताल में सुरक्षा गार्ड के तौर पर काम करने वाले आरोपी की पहचान जसाना गांव के रहने वाले सिंहराज नागर (54) के रूप में की गयी है। इसे 36 साल पहले दो रिश्तेदारों की हत्या का दोषी ठहराया गया था।

पुलिस ने उसके बारे में सोमवार को बताया कि नागर लड़कियों या युवतियों के साथ बलात्कार करता था और गला घोंटकर उनकी हत्या कर देता था। उन्होंने बताया कि वह उनके शवों को आगरा नहर में फेंक देता था। उन्होंने बताया कि नहर में शव के बहने के बाद पुलिस को कोई सुराग नहीं मिलता था। उन्होंने बताया कि हालांकि, चौथे मामले में शव झाड़ियों में फंस गया।

जनवरी के पहले सप्ताह में, 21 वर्षीय महिला की कथित तौर पर हत्या करने और उसके शव को नहर में फेंकने के दो दिन बाद, नागर को पता चला कि शव झाड़ियों में फंस गया है। इसके बाद उसने अपने गांव में महिला की दादी को फोन किया और हत्या करने की बात कबूल कर ली।

महिला की दादी ने पुलिस को नागर के बारे में सूचित किया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया । नागर ने पुलिस को बताया कि उसने 2019 से अब तक तीन नाबालिग लड़कियों का बलात्कार किया और उनकी हत्या की है।

फरीदाबाद पुलिस उपायुक्त (अपराध) नरेंद्र कादियां ने बताया, “नागर चौथी पीड़िता और स्नातक अंतिम वर्ष की छात्रा से कुछ सालों से परिचित था। 31 दिसंबर को वह उसे साइकिल से फरीदाबाद से करीब 16 किलोमीटर दूर अपने गांव जसाना ले गया जहां उसने दो दिन तक उसे एक कमरे में रखा और उसके साथ दुष्कर्म किया। अंत में, उसने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी और उसके शव को आगरा नहर में फेंक दिया।’’

पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिसंबर 2019 में, नागर ने एक चाय विक्रेता की 15 वर्षीय बेटी को बहला-फुसलाकर अस्पताल में अपने कमरे में ले गया जहां उसने उसके साथ कथित तौर पर बलात्कार किया था और जब उसने शोर मचाने की कोशिश की तो उसने उसका गला घोंट दिया था और बाद में शव को नहर में फेंक दिया था।

उन्होंने बताया कि इसके बाद, अगस्त 2020 में, उसने अस्पताल में एक हाउसकीपिंग स्टाफ की नाबालिग बहन के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया और उसकी हत्या करके शव को नहर में फेंक दिया। डीसीपी ने कहा कि जून 2021 में उसने एक और नाबालिग के साथ इसी तरह का जघन्य कृत्य किया।

अधिकारी के मुताबिक पुलिस ने अभी तक सिर्फ 21 साल की युवती का ही शव बरामद किया है। डीसीपी ने कहा, ‘‘हमारी टीम उससे पूछताछ कर रही है और हमें उम्मीद है कि कुछ अन्य मामले भी सुलझ जाएंगे।’’

अधिकारी ने कहा कि 1986 में नागर ने अपने दो रिश्तेदारों की हत्या कर दी थी और इस मामले में उसे दोषी ठहराया गया था।