BREAKING NEWS

अमेरिका के दबाव के आगे झुका चीन , कोरोना की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए WHO टीम को दी अनुमति ◾मोदी सरकार 'आत्मनिर्भर भारत अभियान' को तेजी से बढ़ा रही आगे , पर कांग्रेस गैरजिम्मेदार विपक्ष: भाजपा◾राहुल ने PM मोदी पर साधा निशाना, कहा- 'सच के लिए लड़ने वालों को धमकाया नहीं जा सकता◾कानपुर : मुखबिरी के आरोप में चौबेपुर थाने के पूर्व SO विनय तिवारी और बीट प्रभारी केके शर्मा गिरफ्तार◾कैबिनेट बैठक में गरीब कल्याण अन्न योजना और EPF सुविधा की अवधि बढ़ाने की दी गई मंजूरी◾पाकिस्तान का दावा, कुलभूषण जाधव ने रिव्यू पिटीशन दायर करने से किया इनकार◾MSME और बैंकों की स्थिति को लेकर राहुल ने BJP पर साधा निशाना, कहा- पहले ही दी थी चेतावनी◾कानपुर एनकाउंटर : हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर इनाम राशि को बढ़ाकर किया गया 5 लाख रुपए◾राजीव गांधी फाउंडेशन समेत तीन ट्रस्ट की फंडिंग की जांच के लिए MHA ने बनाई कमेटी◾विकास दुबे के खिलाफ पुलिस का एक्शन सख्त, 25 हजार का इनामी बदमाश श्यामू बाजपेयी गिरफ्तार ◾चीनी सैनिकों की वापसी का सिलसिला जारी, लद्दाख में 3 प्वाइंट्स पर पीछे हटी चीन◾देश में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े सात लाख के करीब, 20 हजार 500 से अधिक लोगों की मौत ◾World Corona : दुनियाभर में लगभग साढ़े पांच लाख लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 17 लाख के पार ◾कानपुर एनकाउंटर : गैंगस्टर विकास दुबे का करीबी अमर दुबे मुठभेड़ में मारा गया◾आर्थिक कुप्रबंधन लाखों लोगों को कर देगा तबाह, अब यह त्रासदी स्वीकार नहीं : राहुल गांधी◾योगी सरकार का बड़ा फैसला : डीआईजी एसटीएफ अनंत देव का हुआ ट्रांसफर◾ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो पाए गए कोरोना पॉजिटिव◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 224 लोगों की मौत, 5134 नये मामले ◾दिल्ली में कोरोना का कोहराम जारी, बीते 24 घंटे में 2008 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1,02,831 तक पहुंचा◾पश्चिम बंगाल: कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते कोलकाता में फिर से लग सकता है लॉकडाउन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हरियाणा की खट्टर सरकार ने कोरोना वायरस को राज्य में महामारी किया घोषित

चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस ने भारत के कई राज्यों में दस्तक दें दी है। वायरस के चलते सरकार सभी लोगों से सावधानी बरतने की अपील कर रही है। इसी बीच हरियाणा सरकार ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया गया है। इस बात की जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने गुरुवार को यह जानकारी दी। 

इसके साथ ही अब हरियाणा के हर स्कूल, कॉलेज, नर्सिग होम, अस्पतालों एवं अन्य शिक्षण संस्थानों में ऐसे व्यक्ति ढूंढे जा रहे हैं, जिन्होंने बीते 14 दिन के अंदर विदेश यात्रा की है। सरकार ने ऐसे तमाम लोगों से स्वयं को अगले 14 दिन तक घर के अंदर खुद को अलग-थलग रखने की अपील की है। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा, "राज्यपाल ने कोरोनावायरस को लेकर नई रेगुलेशंस जारी की है। राज्यपाल द्वारा जारी किए गए इस आदेश को हरियाणा महामारी कोविड-19 रेगुलराइजेशन 2020 नाम दिया गया है।" 

हरियाणा सरकार के इस निर्णय के साथ ही हर जिले में कोरोनावायरस की पड़ताल की जा रही है। प्रत्येक जिले के जिला अधिकारी, एसडीएम, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मुख्य सर्जन व सिविल सर्जन अधिकारियों को कोरोना वायरस की रोकथाम की जिम्मेदारी दी गई है। हरियाणा के राज्यपाल ने अपने आदेश में कहा, "राज्य के प्रत्येक प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों के पास संदिग्ध रोगियों की स्क्रीनिंग की पूरी व्यवस्था होनी चाहिए ताकि रोगियों को तुरंत उपचार मुहैया कराया जा सके।" 

भोपाल पहुंचने से पहले फाड़े गए सिंधिया के पोस्टर, फेंकी गई स्याही

हरियाणा के सभी अस्पतालों को अलर्ट जारी करते हुए कहा गया है कि अस्पताल में आने वाले संदिग्ध रोगियों का पूरा डाटा बेस तैयार किया जाए। ऐसे व्यक्तियों की पहचान की जाए जो विदेश से आए किसी संदिग्ध रोगी के संपर्क में आए थे अथवा कोरोना वायरस से प्रभावित देशों से लौटे किसी व्यक्ति के संपर्क में आए थे। ऐसे सभी व्यक्तियों को स्वयं अपने घरों में बाकी सभी से पृथक रहने के निर्देश दिए गए हैं। 

वहीं ऐसे व्यक्ति जिनमें रोग के लक्षण हैं या वे स्वयं कोरोनावायरस से ग्रस्त देशों की यात्रा करके लौटे हैं, उन्हें अस्पतालों में 14 दिन के लिए पृथक रखने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। गौरतलब है कि हरियाणा, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटा हुआ राज्य है। खास बात यह है कि हरियाणा से हर दिन लाखों लोग दिल्ली में नौकरी करने आते हैं। इसके अलावा हरियाणा से हजारों व्यक्ति ट्रेनों व ट्रकों में दूध एवं अन्य खाद्य सामग्री लेकर दिल्ली पहुंचते हैं। इसके अलावा दिल्ली से भी बड़ी तादाद में लोग हरियाणा के गुड़गांव, फरीदाबाद जैसे औद्योगिक शहरों में नौकरी के लिए जाते हैं।