BREAKING NEWS

चीन के साथ 1962 के युद्ध ने विश्व मंच पर भारत की स्थिति को काफी नुकसान पहुंचाया : जयशंकर ◾झारखंड में रघुबर दास नहीं, मोदी-शाह करेंगे चुनाव प्रचार का नेतृत्व ◾भारत ने अयोध्या, कश्मीर पर पाकिस्तानी दुष्प्रचार का दिया करारा जवाब◾शी चिनफिंग और मोदी के बीच वार्ता ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना में विलगाव ने कांग्रेस-राकांपा को किया है एकजुट ◾गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को जायेंगे सीआरपीएफ के मुख्यालय ◾झारखंड : भाजपा ने 15 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की ◾JNU में विवेकानंद की प्रतिमा के चबूतरे पर आपत्तिजनक संदेश◾राफेल की कीमत, ऑफसेट के भागीदारों के मुद्दों पर सरकार के निर्णय को न्यायालय ने सही करार दिया : सीतारमण ◾झारखंड चुनाव के पहले चरण के लिए कांग्रेस के 40 स्टार प्रचारकों की सूची जारी ◾आतंकवाद के कारण विश्व अर्थव्यवस्था को 1,000 अरब डॉलर का नुकसान : PM मोदी◾महाराष्ट्र गतिरोध : कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना में बातचीत, सोनिया से मिल सकते हैं पवार ◾मोदी..शी की ब्राजील में बैठक के बाद भारत, चीन अगले दौर की सीमा वार्ता करने पर हुए सहमत ◾कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान ने भारत से किसी भी समझौते से किया इनकार ◾राफेल के फैसले से JPC की जांच का रास्ता खुला : राहुल गांधी ◾राफेल पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद देवेंद्र फड़णवीस बोले- राहुल गांधी को अब माफी मांगनी चाहिए ◾नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा- शुद्ध हवा सुनिश्चित करने के लिए प्रधानमंत्री को ठोस कदम उठाने चाहिए◾TOP 20 NEWS 14 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾RSS-भाजपा को सबरीमाला पर न्यायालय का फैसला मान लेना चाहिए : दिग्विजय सिंह ◾महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को लेकर CM ममता ने राज्यपाल कोश्यारी पर साधा निशाना ◾

हरियाणा

10 दिन की न्यायिक हिरासत में हनीप्रीत, दिवाली जेल में ही कटेगी

पंचकूला : डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की गोद ली बेटी हनीप्रीत की दिवाली अंबाला जेल में बीतेगी। पंचकूला की अदालत ने उसे 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। पुलिस रिमांड समाप्त होने के बाद हनीप्रीत को शुक्रवार शाम अदालत में पेश किया गया। अदालत ने हनीप्रीत के साथ गिरफ्तार की गई सुखदीप कौर को भी न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। दोनों को 23 अक्‍टूबर तक अंबाला की सेंट्रल जेल में रखा जाएगा। हनीप्रीत को दो बार पुलिस रिमांड में दिया गया था। उसे पहली बार छह दिनों के पुलिस रिमांड पर दिया गया था। इसके बाद पुलिस ने उस पर पूछताछ में सहयोग ना करने का आरोप लगाया। इस पर अदालत ने उसे तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। आज तीन दिन के रिमांड के समाप्त होने के बाद दिन में करीब साढ़े चार बजे फिर अदालत में पेश किया गया। पुलिस ने पेशी के दौरान उसका रिमांड नहीं मांगा और अदालत ने हनीप्रीत व उसके साथ गिरफ्तार की गई सुखदीप कौर को 23 अक्‍टूबर तक न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया। उसे और सुखदीप कौर को अंबाला की सेंट्रल जेल में रखा जाएगा। दोनों को 3 अक्‍टूबर को चंडीगढ़ के पास जीरकपुर से गिरफ्तार किया गया था।
हनीप्रीत का मोबाइल मिला, लंबी पूछताछ के बाद विपासना इंसा ने पुलिस को सौंपा
हनीप्रीत इंसां का मोबाइल फोन आखिर पंचकूला पुलिस के कब्जे में आ गया है। विपासना इंसां ने 9 घंटे की पूछताछ के बाद हनीप्रीत का मोबाइल फोन पंचकूला पुलिस की एसआईटी को सौंप दिया है। पुलिस के तीसरे नोटिस पर पंचकूला के चंडीमंदिर थाने पहुंची विपासना से नौ घंटे तक पूछताछ चली। पुलिस ने विपासना को हनीप्रीत के सामने बिठाकर पूछताछ की। पूछताछ के बाद विपासना को रात करीब 8 बजे थाने से छोड़ा गया। माना जा रहा है कि विपासना ने पुलिस को कई चीजें वेरिफाई की हैं। सूत्रों के मुताबिक विपासना इंसां से 9 घंटे की मैराथन पूछताछ के दौरान उसने एसआईटी के समक्ष कई अहम खुलासे किए हैं।फिलहाल हनीप्रीत इंसां के मोबाइल फोन की जांच में जुटी है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक हनीप्रीत के मोबाइल फोन में कुछ भड़काऊ वीडियो हो सकते हैं। हनीप्रीत पर इल्जाम है कि उसने डेरा के लोगों द्वारा दिए गए भड़काऊ भाषण मंगवाकर उनको सोशल मीडिया पर वायरल किया था। हनीप्रीत इंसां ने इस मोबाइल फोन का इस्तेमाल 26 अगस्त तक किया था और उसने इसी दिन इस मोबाइल फोन को डेरा सच्चा सौदा प्रबंधन समिति की चेयरपर्सन विपासना इंसां को सौंप दिया था। फिलहाल पुलिस मोबाइल फोन का रिकॉर्ड खंगालने में जुट गई है और उन भड़काऊ वीडियो क्लिप्स को हासिल करना चाहती है, जो हनीप्रीत ने कथित तौर पर सोशल मीडिया के जरिए वायरल किए थे। पुलिस इस मोबाइल फोन से डिलीट किए गए डेटा को भी रिकवर करने की कोशिश में है। इसके लिए कुछ तकनीशियनों की मदद भी ली जाएगी।
 कई सवालों का अभी मिलना है जवाब

आखिर हनीप्रीत इंसां ने अपना मोबाइल फोन विपासना को क्यों सौंपा था? क्या उसके पास सिर्फ एक ही मोबाइल फोन था और फिर 38 दिनों की फरारी के दौरान आखिर उसने कौन-सा फोन इस्तेमाल किया? हनीप्रीत इंसान ने 17 सिम कार्ड और व्हाट्सऐप का इस्तेमाल कौन-से फोन के जरिए किया? विपासना इंसां ने हनीप्रीत का मोबाइल पुलिस को सौंपने के अलावा उसका लैपटॉप और सीक्रेट डायरी भी सौंपी है या नहीं? फिलहाल इन बातों का खुलासा नहीं हो पाया है। शुक्रवार को 8 घंटे की पूछताछ के बाद विपासना इंसां वापस सिरसा लौट गई। उसे 16 अक्टूबर के दिन फिर से पंचकूला के सेक्टर 23 थाना में पूछताछ के लिए बुलाया गया है।