BREAKING NEWS

कोरोना वायरस से निपटने के लिए PM मोदी की माता जी ने दिए 25 हजार रुपये◾Covid-19 को लेकर प्रियंका का ट्वीट , कहा - कांग्रेस सरकारों का इंतजाम शानदार ◾गृह मंत्रालय का बयान - इस साल तबलीगी गतिविधियों के लिये 2100 विदेशी भारत आए◾कोविड-19 के देशभर मे फैलने की आशंका, निजामुद्दीन से जुड़े संदिग्ध मामलों की देशभर में तलाश शुरू◾ITBP के जवानों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए पीएम राहत कोष में दिया एक दिन का वेतन ◾सरकार ने विदेशी तब्लीगी कार्यकर्ताओं को पर्यटन वीजा देने पर लगाई रोक ◾Covid 19 का कहर जारी : देश में कोरोना के 227 नये मामले आये सामने, पिछले 24 घंटों में तीन और मौतें◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 82 नए मामले आये सामने , मरीज़ों की तादाद 300 के पार◾निजामुद्दीन मुद्दे पर योगी सरकार एक्शन में ,तबलीगी जमात के 157 लोगों में से 95 प्रतिशत की हुई पहचान ◾तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा ने भी प्रधानमंत्री राहत कोष में दी सहायता राशि, PM को पत्र लिख कर दिया समर्थन ◾कोरोना का कहर : यूपी में संक्रमितों की संख्या 100 के पार, नोएडा में सबसे अधिक पॉजिटिव मरीज◾कोरोना तबाही : दुनियाभर में सख्ती से लॉकडाउन लागू, मरने वालों का आंकड़ा 39 हजार के पार ◾निजामुद्दीन मरकज मामले में प्रबंधन के खिलाफ FIR दर्ज, जांच के लिए मामला अपराध शाखा को सौंपा गया ◾मरकज पर CM केजरीवाल ने दिखाई सख्ती, कहा- लापरवाही होने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा◾निजामुद्दीन मरकज मामले में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- यह समय कमियां खोजने का नहीं बल्कि कार्रवाई करने का है◾कोरोना वायरस : मध्य प्रदेश में 17 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों की संख्या 64 हुई◾दिल्ली : मोहल्ला क्लिनिक के एक और डॉक्टर में कोरोना संक्रमण की पुष्टि, प्रशासन ने चस्पा किए नोटिस◾प्रवासी मजदूरों के पलायन पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को कमेटी बनाने का दिया निर्देश◾तबलीगी जमात के मरकज में शामिल होने वाले विदेशियों के वीजा में मंत्रालय ने पाई गड़बड़ियां◾तबलीगी जमात के मरकज में आए 24 लोगों में कोरोना की पुष्टि, 1500 से 1700 लोग हुए थे शामिल◾

टूटा रेलवे रोड दे रहा हादसों को निमंत्रण

कैथल/कलायत: कलायत नगर का रेलवे रोड़ बदहाली की हालत में है। जगह जगह से टूटा रोड़ अपनी कहानी स्वयं ही ब्यां कर रहा है। पंजाब को हरियाणा से जोडऩे वाला मुख्य मार्ग व्यापारिक दृष्टि से अपना अलग महत्व रखता है। टूटने के साथ साथ अनाज मंडी के पास सीवरेज के कारण सड़क बैठ गई है। मात्र थोड़े समय अंतराल में सडक का टूटना व बैठ जाना किसी गोलमाल की ओर इंगित करता है। खंड के दर्जनों गांव इसी मार्ग के माध्यम से अनाज मंडी से जुड़े हैं तथा फसलों को लाने ले जाने के लिए एकमात्र इस मार्ग का प्रयोग करते हैं।

परन्तु अधिकारियों की लापरवाही के चलते यह मार्ग आज दयनीय हालत में है। सड़क के बीचों बीच बड़े बड़े खड्डे जानमाल के नुकसान का कारण बन रहे हैं। वाहनों की ज्यादा आवाजाही के चलते हर वक्त दुर्घटना का अंदेशा बना रहता ही है वहीं आने जाने वाले राहगीरों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। पहले भी अनेकों बार कई लोग इनकी वजह से चोटिल हो चुके हैं। बरसात के मौसम में तो स्थिति ओर भी खराब हो जाती है। पानी के कारण छोटे खड्डों ने बड़ा रूप धारण कर लिया है।

(मनोज वर्मा)