BREAKING NEWS

अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड◾उपभोक्ता खर्च के आंकड़े छिपाने के आरोपों में चिदंबरम का केंद्र सरकार पर निशाना◾प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वास्तविक मुद्दों पर फोकस करने का दिया निर्देश ◾सर्वदलीय बैठक में बोले PM मोदी- सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार ◾गोताबेया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका के राष्ट्रपति का चुनाव, PM मोदी ने दी बधाई◾उन्नाव में किसानों का प्रदर्शन, UPSIDC के अधिकारियों और वाहनों पर किया हमला ◾संसद के शीतकालीन सत्र से पहले प्रहलाद जोशी ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, कई नेता हुए शामिल◾राउत और उद्धव ने बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, फडणवीस ने ट्वीट कर लिखा-स्वाभिमान की मिली सीख◾बैंकॉक में अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर और राजनाथ सिंह के बीच हुई द्विपक्षीय बैठक◾दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में हुआ सुधार, नोएडा और गुरुग्राम में स्थिति फिलहाल गंभीर◾दिल्ली : ITO में लगे BJP सांसद गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर◾वसीम रिजवी बोले- बगदादी और ओवैसी में कोई अंतर नहीं◾अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾

हरियाणा

खट्टर ने अर्थव्यवस्था के बचाव में गिनवाईं उपलब्धियां

चंडीगढ़ : हरियाणा में आर्थिक मंदी व बेरोजगारी की खबरों को निराधार बताते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि पड़ोसी राज्य पंजाब के मुकाबले हरियाणा के आर्थिक हालात काफी मजबूत हैं। पिछले पांच साल के दौरान हरियाणा में एक बार भी ऐसा नहीं हुआ है जब कर्मचारियों को समय पर तनख्वाह या पेंशन भोगियों को समय पर पेंशन न मिली हो। यह बात मंगलवार को चंडीगढ़ में हरियाणा की आर्थिक रिपोर्ट मीडिया के समक्ष पेश करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कही। 

उन्होंने कहा कि आर्थिक मंदी से अकेले इंडिया नहीं कई देश जूझ रहे हैं। यह ऐसा सर्कल हैं, जो कुछ वर्षों बाद आता ही है। केंद्र सरकार से इससे निपटने के लिए कई बड़े कदम उठाये हैं। पहले 27 राष्ट्रीय बैंक थे और अब इनका विलय करके इनकी संख्या 12 की गई है। बैंकों के साइज को बढ़ा किया है और बैंकों में लेन-देन बढ़ाने के लिए भी कदम उठाये हैं। उद्योगों में भी सुधार होगा। सार्वजनिक बैंकों को 70 हजार करोड़ रुपये केंद्र ने मुहैया करवाए हैं। 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा के देश के अन्य राज्यों के मुकाबले अग्रणी करार देते हुए कहा कि वर्ष 2018-2019 में देश की जीडीपी जहां 6.8 थी वहीं हरियाणा की जीडीपी 8.2 रही है। इसी तरह कृषि क्षेत्र में भारत की जीडीपी 2.9 तो हरियाणा की 5.9, औद्योगिक विकास के क्षेत्र में भारत की दर 6.9 तथा हरियाणा की दर 8.6 रही है। इसके अलावा सर्विस सेक्टर में भारत की दर जहां 7.5 रही है वहीं हरियाणा की यह दर 8.2 रही है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में पिछले पांच वर्षों के भीतर 80 हजार करोड़ का पूंजी निवेश हो चुका है। प्रत्येक एमओयू के साथ रिलेशन मैनेजर काम कर रहे हैं। इज ऑफ डुइंग बिजनेस के मामले में हरियाणा वर्ष 2014 में जहां उत्तरी भारत में 14वें स्थान पर था वहीं अब यह पहले स्थान पर आ चुका है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा ने सामाजिक सुरक्षा को बढ़ावा देते हुए बजट में छह हजार करोड़ तक बढ़ाया है। सीएम ने कहा कि हरियाणा में मानव संपदा के नया से नया मंत्रालय बनाया जाएगा।