BREAKING NEWS

PM मोदी को श्रीकृष्ण आयोग की रिपोर्ट पर कार्रवाई करनी चाहिए : ओवैसी ◾हिन्दू समाज पार्टी के नेता की दिनदहाड़े हत्या : SIT करेगी जांच◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : राजनाथ ने डीजीपी, डीएम से आरोपियों को तत्काल पकड़ने को कहा◾सपा-बसपा ने सत्ता को बनाया अराजकता और भ्रष्टाचार का पर्याय : CM योगी◾FBI के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल◾करतारपुर गलियारा : अमरिंदर सिंह ने 20 डॉलर का शुल्क न लेने की अपील की ◾प्रफुल्ल पटेल 12 घंटे तक चली पूछताछ के बाद ईडी कार्यालय से निकले ◾फडनवीस के नेतृत्व में फिर बनेगी गठबंधन सरकार : PM मोदी◾प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के आसपास कोई भी नेता नहीं : सर्वेक्षण ◾मोदी का विपक्ष पर वार : कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकारों ने केवल घोटालों की उपज काटी है◾ISIS के निशाने पर थे कमलेश तिवारी, सूरत से निकला ये कनेक्शन◾अमित शाह ने राहुल गांधी से पूछा, आदिवासियों के लिए आपके परिवार ने क्या किया ◾पायलट ने निकाय प्रमुखों के चुनाव संबंधी फैसले पर खड़े किये सवाल ◾राम मंदिर पर हिंदुओं के पक्ष में निर्णय की आशा : RSS ◾TOP 20 NEWS 18 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾FATF ने पाक को ‘ग्रे सूची’ में कायम रखा, कार्रवाई की चेतावनी दी ◾दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को कोर्ट ने सुनाई 6 महीने की सजा, मिली जमानत◾महेंद्रगढ़ रैली में राहुल का प्रधानमंत्री पर वार, बोले-मोदी को नहीं है अर्थव्यवस्था की कोई समझ◾मोदी को डर, 'घेराबंदी' हटने पर कश्मीर में होगा खूनखराबा : इमरान खान◾हिसार में बोले PM मोदी-कांग्रेस ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में पहले ही मान ली है हार◾

हरियाणा

तलवार दंपति को बचाने वाले वकील लड़ेंगे राम रहीम-हनीप्रीत का केस

चंडीगढ़ : आरुषि-हेमराज हत्या मामले में आरोपी तलवार दंपति को बरी कराने वाले दोनों वकील अब डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम का केस लड़ते नजर आएंगे। बलात्कार मामलों में दोषी 20 साल की सजा काट रहे राम रहीम ने हाल ही में दोनों वकीलों से संपर्क किया था। दोनों वकील तनवीर अहमद मीर और ध्रूव गुप्ता साधुओं को नपुंसक (बधियाकरण) बनाने के मामले में आरोपी राम रहीम और पंचकूला में हिंसा भड़काने के मामले में उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के बचाव में पक्ष रखेंगे। बता दें कि पिछले साल इलाहाबाद हाई कोर्ट से डॉ. राजेश तलवार और नुपुर तलवार को 2008 में आरुषि और नौकर हेमराज की हत्या मामले से बरी कर दिया गया था।

इसमें दोनों वकीलों की अहम भूमिका रही। दोनों वकीलों ने 28 मार्च को डेरा प्रमुख के बचाव में पक्ष रखने के लिए पंचकूला कोर्ट में आवेदन दाखिल किया है। बता दें कि सीबीआई ने राम रहीम के खिलाफ अपने 161 भक्तों की बधियाकरण का मामला दर्ज किया था। सीबआई ने इस साल 31 जनवरी को पंचकूला कोर्ट के समक्ष इस मामले में चार्जशीट भी दायर की थी। डेरा प्रमुख के वकीलों ने दलील दी कि सीबीआई ने 122 गवाहों में से केवल 6 के बयान रिकॉर्ड किए और साथ ही भौतिक साक्ष्यों को छुपाने की भी बात कही।

कोर्ट ने सुनवाई की तारीख 9 अप्रैल तय की है। वकील तनवीर और ध्रूव हनीप्रीत के मामले को भी देखेंगे जिन पर देशद्रोह, आपराधिक षडयंत्र और राम रहीम को दोषी करार देने के बाद पिछले साल अगस्त में पंचकूला में हिंसा भड़काने के गंभीर आरोप हैं। दोनों वकीलों ने इस बात की पुष्टि की कि वह किसी और डेरा सदस्य का किसी भी मामले में केस नहीं लड़ेंगे। राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद पंचकूला में भारी हिंसा फैली थी। यहां डेरा समर्थकों ने कार, बसों में जमकर तोडफ़ोड़ और आगजनी की। पूरे मामले में 32 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 250 घायल हुए थे।

अधिक जानकारियों के लिए यहाँ क्लिक करें। (राजेश जैन)