BREAKING NEWS

न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾ममता ने एनपीआर,जनसंख्या पर केन्द्र की बैठक में नहीं लिया भाग◾सिंध में हिंदू समुदाय की लड़कियों के अपहरण को लेकर भारत ने पाक अधिकारी को किया तलब◾नड्डा का 20 जनवरी को निर्विरोध भाजपा अध्यक्ष चुना जाना तय◾हमें कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर कोई शंका नहीं है : रूसी राजदूत◾IND vs AUS : भारत की दमदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी◾दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 48 और नामांकन दाखिल◾राउत को इंदिरा गांधी के बारे में टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी : पवार◾कश्मीर में शहीद सलारिया का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार, दो महीने की बेटी ने दी मुखाग्नि ◾बुलेट ट्रेन परियोजना के लिये भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के खिलाफ याचिकाओं पर न्यायालय करेगा सुनवाई ◾चुनाव में ‘कांग्रेस वाली दिल्ली’ के नारे के साथ प्रचार में उतरी कांग्रेस◾यूपी सीएम योगी ने हिमस्खलन में कुशीनगर के शहीद जवान की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया◾TOP 20 NEWS 17 January : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾निर्भया के गुनहगारों का नया डेथ वारंट जारी, 1 फरवरी को सुबह 6 बजे होगी फांसी◾दिल्ली चुनाव के लिए BJP ने जारी की 57 उम्मीदवारों की पहली सूची◾निर्भया केस : स्मृति ईरानी ने राष्ट्रपति का जताया आभार, केजरीवाल पर साधा निशाना◾CAA के विरोध प्रदर्शन में जामा मस्जिद पहुंचे चंद्रशेखर, समर्थकों के साथ मिलकर पढ़ी संविधान प्रस्तावना◾आरोपी की दया याचिका को पर राष्ट्रपति के फैसले का निर्भया के पिता ने किया स्वागत◾आजम खान के बेटे को सुप्रीम कोर्ट से झटका, हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार◾शिवाजी या इंदिरा का नाम कभी भी सियासी फायदे के लिए नहीं लिया : शिवसेना◾

गौतस्करों के खिलाफ सख्ती और पांच जातियां घुमंतु और अर्ध घुमंतु में शामिल

चंडीगढ़ : हरियाणा मंत्रिमंडल की मंगलवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। जिसमें मुख्यरुप से हरियाणा गौवंश संरक्षण और गौसंवर्धन अधिनियम को लागू करने के बाद अब सरकार ने इसे और सख्त बनाकर पुलिस को कई तरह के अधिकार दे दिए हैं। 

जिसके चलते आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश व राजस्थान के रास्ते होने वाली गौ तस्करी के खिलाफ बड़ा अभियान शुरू किए जाने की तैयारी है। अभी तक सिर्फ एसडीएम को ही गायों और गोमांस की तस्करी रोकने के लिए वाहनों की चेकिंग करने की पावर थी, मगर अब पुलिस अधिकारियों को भी यह अधिकार प्रदान कर दिया गया है। 

इसके साथ ही प्रदेश ही नहीं, अपितु देशभर में बेगाने रहे विमुक्त, घुमंतु, अर्ध घुमंतु और टपरीवास समुदाय के साथ अपने रिश्ते को धार देने में जुटी मनोहर सरकार ने पांच जातियों को घुमंतु में शामिल होने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है। सिलसिलेवार तरीके से इस समुदाय केा सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक, राजनीतिक उत्थान देने की दिशा में मनोहर सरकार ने बडा कदम उठा दिया है। 

देश में 15 करोड और प्रदेश में 18 से 20 लाख की आबादी वाले विमुक्त, घुमंतु, अर्ध घुमंतु और टपरीवास समुदाय को समाज की मुख्यधारा में लाने का जो सपना मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वर्ष 2015 में देखा था, वह अब जमीन पर उतरने लगा है। 


- आहूजा