चंडीगढ़ : दवाओं की ऑनलाइन हो रही सेल को लेकर दवा विक्रेताओं में खासी नाराजगी है। शुक्रवार को चंडीगढ़ केमिस्ट एसोसिएशन की ओर से शहर के सभी मेडिकल स्टोर्स 24 घंटे बंद रहे। ऑनलाइन दवाओं के विरोध में किया गया बंद शहर में पूरी तरह सफ ल रहा। वहीं मेडिकल स्टोर्स बंद रहने के चलते मरीजों और तीमारदारों को परेशानी का सामना करना पड़ा। एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी विनय जैन ने कहा कि बंद पूरी तरह सफल रहा। सुबह करीब 9 बजे 100 दुकानदारों ने सेक्टर- 19सी की मार्केट में शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन किया।

दवाओं विक्रेताओं का कहना है कि हमारा विरोध दवाओं की हो रही ऑनलाइन सेल के खिलाफ है। यह दवाओं की बिक्री ड्रग एक्ट का उल्लंघन है। बगैर डॉक्टर की सलाह के कैसे दवाएं सेल की जा रही हैं। कई दवाओं पर तो बैन लगाया गया है, लेकिन ऑनलाइन यह सब दवाएं उपलब्ध हैं। हम सरकार से इन ऑनलाइन दवाओं की हो रही सेल को बंद करने की मांग कर रहे हैं। अगर सरकार इस ओर नहीं चेती तो हम आगे और भी आंदोलन करेंगे। इससे मेडिकल स्टोर की बिक्री पर भी इसका सीधा असर पड़ा है। शहर में करीब 600 मेडिकल स्टोर्स हैं।

दवा व्यापारियों के बंद का व्यापक असर

यहां पर खुली रही दुकानें : 27 सितंबर रात 12 बजे से शुरू हुई देशव्यापी हड़ताल के दौरान 28 सितंबर को शहर की सभी मेडिकल की दुकानें बंद रहीं, मगर पीजीआई, सेक्टर- 16 और सेक्टर- 32 अस्पताल के अंदर स्थित केमिस्ट शॉप्स खुली रहीं। यहां पर शहर के मेडिकल स्टोर्स बंद होने के चलते काफी लंबी लाइनें लगी रहीं।

(अनूप कुमार)