BREAKING NEWS

अयोध्या के विवादित ढांचा को ढहाए जाने के मामले में कल्याण सिह को समन जारी◾‘Howdy Modi’ के लिए ह्यूस्टन तैयार, 50 हजार टिकट बिके ◾‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए PM मोदी पहुंचे ह्यूस्टन◾प्रधानमंत्री का ह्यूस्टन दौरा : भारत, अमेरिका ऊर्जा सहयोग बढ़ाएंगे ◾क्या किसी प्रधानमंत्री को ऐसे बोलना चाहिए : पाक को लेकर मोदी के बयान पर पवार ने पूछा◾कश्मीर पर भारत की निंदा करने के लिये पाकिस्तान सबसे ‘अयोग्य’ : थरूर◾राजीव कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज ◾AAP ने अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने में देरी पर ‘धोखा दिवस’ मनाया ◾ शिवसेना, भाजपा को महाराष्ट्र चुनावों में 220 से ज्यादा सीटें जीतने का भरोसा◾आधारहीन है रिहाई के लिए मीरवाइज द्वारा बॉन्ड पर दस्तखत करने की रिपोर्ट : हुर्रियत ◾TOP 20 NEWS 21 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामदास अठावले ने किया दावा - गठबंधन महाराष्ट्र में 240-250 सीटें जीतेगा ◾कृषि मंत्रालय से मिले आश्वासन के बाद किसानों ने खत्म किया आंदोलन ◾फडणवीस बोले- भाजपा और शिवसेना साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, मैं दोबारा मुख्यमंत्री बनूंगा◾चुनावों में जनता के मुद्दे उठाएंगे, लोग भाजपा को सत्ता से बाहर करने को तैयार : कांग्रेस◾चुनाव आयोग का ऐलान, महाराष्ट्र-हरियाणा के साथ इन राज्यों की 64 सीटों पर भी होंगे उपचुनाव◾महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग, 24 को आएंगे नतीजे◾ISRO प्रमुख सिवन ने कहा - चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर अच्छे से कर रहा है काम◾विमान में तकनीकी खामी के चलते जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में रुके PM मोदी, राजदूत मुक्ता तोमर ने की अगवानी◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन◾

हरियाणा

नैना चौटाला सहित 5 विधायकों की सदस्यता रद्द

चंडीगढ़ : हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने दलबदल कानून के तहत पांच विधायकों की सदस्यता रद कर दी है। इन विधायकों में नैना चौटाला, राजदीप फौगाट, अनूप धानक, पिरथी नम्बरदार और नसीम अहमद शामिल हैंं। बता देें, यह सभी इनेलो के विधायक थे, लेकिन बाद में इनमें से चार ने जेजेपी और एक ने कांग्रेस ज्वाइन कर दी थी। हालांकि दल-बदल के आरोपों का सामना कर रहे इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के चार विधायकों नैना चौटाला, राजदीप फौगाट, अनूप धानक तथा पिरथी सिंह नंबरदार ने विधानसभा की सदस्यता से कुछ दिन पूर्व इस्तीफा दे दिया था। 

स्पीकर कंवर पाल गुर्जर ने इस्तीफे स्वीकार करते हुए दल-बदल मामले में सुनवाई की और दोनों पक्षों की बहस के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। चारों विधायक दल-बदल मामले में सुनवाई के लिए विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष पेश हुए थे। स्पीकर ने जब विधायकों से जवाब मांगा तो उन्होंने कहा, वे तो पहले ही अपना इस्तीफा दे चुके हैं। अब वे विधायक नहीं रहे। ऐसे में इस केस का भी कोई औचित्य नहीं। 

इस पर स्पीकर ने कहा, जिस समय याचिका दायर हुई उस समय वे विधायक थे। ऐसे में उस स्थिति के हिसाब से अपना जवाब दें। विधायकों ने अभय द्वारा लगाए गए आरोपों को भी खारिज किया। उन्होंने दोटूक कहा कि इनेलो नहीं छोड़ी है। न ही उन्होंने जजपा की सदस्यता ग्रहण की है। वैचारिक तौर पर किसी पार्टी की नीतियों का समर्थन करना दल-बदल नहीं हो सकता। आरोप है कि चारों विधायक इनेलो से इस्तीफा दिए बगैर ही जजपा के कार्यक्रमों में शामिल होते रहे। 

इसके चलते इनेलो विधायक रामचंद्र कांबोज ने स्पीकर के समक्ष याचिका दायर करके चारों विधायकों के खिलाफ दल-बदल विरोधी कानून के तहत कार्रवाई किए जाने की मांग की थी। बाद में रामचंद्र कांबोज भी अन्य साथियों की तरह भाजपा में शामिल हो गए। इसके बाद अभय चौटाला खुद आगे आए और चारों विधायकों के खिलाफ नए सिरे से याचिका दायर की। अभय ने चारों विधायकों द्वारा जजपा के मंच पर दिए गए भाषणों की सीडी, समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरें स्पीकर को दी थी। 

अब इनेलो विधायक दल के नेता अभय सिंह चौटाला के साथ सिर्फ दो विधायक लोहारू से ओमप्रकाश बरवा और बरवाला से वेद नारंग बचे हैं। वहीं, हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस के उस प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है, जिसमें पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा को नेता विपक्ष चुना गया है।