BREAKING NEWS

ट्रंप को भेंट की जाएगी 90 वर्षीय दर्जी की सिली हुई खादी की कमीज◾‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में हिस्सा लेने से पहले साबरमती आश्रम जाएंगे राष्ट्रपति ट्रम्प ◾तंबाकू सेवन की उम्र बढ़ाने पर विचार कर रही है केंद्र सरकार ◾TOP 20 NEWS 23 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मौजपुर में CAA को लेकर दो गुटों में झड़प, जमकर हुई पत्थरबाजी, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले◾दिल्ली : सरिता विहार और जसोला में शाहीन बाग प्रदर्शन के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग◾पहले शाहीन बाग, फिर जाफराबाद और अब चांद बाग में CAA के खिलाफ धरने पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾ट्रम्प की भारत यात्रा पहले से मोदी ने किया ट्वीट, लिखा- अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करने के लिए उत्साहित है भारत◾सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसलों ने देश के कानूनी और संवैधानिक ढांचे को किया मजबूत : राष्ट्रपति कोविंद ◾Coronavirus के प्रकोप से चीन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 2400 पार ◾शाहीन बाग प्रदर्शन को लेकर वार्ताकार ने SC में दायर किया हलफनामा, धरने को बताया शांतिपूर्ण◾मन की बात में बोले PM मोदी- देश की बेटियां नकारात्मक बंधनों को तोड़ बढ़ रही हैं आगे◾बिहार में बेरोजगारी हटाओ यात्रा के खिलाफ लगे पोस्टर, लिखा-हाइटैक बस तैयार, अतिपिछड़ा शिकार◾भारत दौरे से पहले दिखा राष्ट्रपति ट्रंप का बाहुबली अवतार, शेयर किया Video◾CAA के विरोध में दिल्ली के जाफराबाद में प्रदर्शन जारी, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात ◾जाफराबाद में CAA के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर कपिल मिश्रा का ट्वीट, लिखा-मोदी जी ने सही कहा था◾US में निवेश कर रहे भारतीय निवेशकों से मुलाकात करेंगे Trump◾कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पाक राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से की मुलाकात◾J&K के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों की जल्द रिहाई के लिए प्रार्थना करता हूं : राजनाथ सिंह◾1 मार्च से नहीं मिलेंगे 2000 रुपये के नोट, इस सरकारी बैंक ने लिया बड़ा फैसला !◾

मोहन भागवत ने 5 प्रदेशों के लगभग 35 संतों के साथ की मंत्रणा

कुरुक्षेत्र : पांच दिन के प्रवास के बाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक के सर संघचालक मोहन भागवत कुरुक्षेत्र से वापिस रवाना हो गए। अपने प्रवास के अंतिम दिन मोहन भागवत ने पंजाब, हरियाणा, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर तथा दिल्ली से बुलाए गए लगभग 35 संतों के साथ बैठक की। यह बैठक पूर्ण रूप से गुप्त रखी गई। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार इन संतो मे से कोई भी नामी-घरामी संत नही था। संघ के सूत्रों के अनुसार एक सुनियोजित रणनीति के तहत केवल ऐसे संतों को बैठक में बुलाया गया जो बडे नामी-घरामी संत नही हैं लेकिन उनका जनता से बडा जुडाव है। पता चला है कि संघ प्रमुख संतों के साथ लगभग 4 घंटे तक रहे और जलपान किया। मंत्रणा के डेढ़-डेढ़ घंटे के दो सत्र रखे गए थे, जबकि एक घंटा संघ प्रमुख ने संतों के साथ अनौपचारिक रूप से वार्तालाप की। 

पता चला है कि मोहन भागवत को संतों के बीच हुई इस बैठक में अध्यात्म पर चर्चा की गई। राम जन्म भूमि और जम्मू-कश्मीर पर चर्चा के साथ विशेष नागरिकता संसोधन बिल पर चर्चा हुई। बैठक में संतों की समाज में भूमिका पर भी गहन चर्चा हुए। संघ की सोच है कि पूरे हिंदू समाज को एक झंडे के नीचे इकट्ठा कर ही राष्ट्र को मजबूत किया जा सकता है और इस कार्य में उन्होने संतों से भी सहयोग मांगा। 

उल्लेखनीय है कि आरएसएस के सर संघचालक मोहन भागवत 12 दिसंबर की रात्रि को कुरुक्षेत्र पहुंचे थे। 13 दिसंबर से 17 दिसबर तक मोहन भागवत ने पांच प्रदेशों से आए संघ प्रचारकों, संघ प्रतिनिधियों के साथ मंत्रणा करके हिंदू समाज को संगठित करने और संघ की शाखाओं का विस्तार करने पर बल दिया। पांचों प्रदेशों से आए संत प्रतिनिधियों से उनके प्रदेशों में संघ की गतिविधियों का ब्यौरा प्राप्त किया।

मनोहर लाल ने की संघ प्रमुख से मुलाकात 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी गत रात्रि अचानक कुरुक्षेत्र पहुंचे और अपने सुरक्षाकर्मियों को बाहर छोडकर सर संघचालक के साथ उन्होने लगभग आधे घंटे तक मंत्रणा की। यह बताया जाता है कि दोनो के बीच हुई इस बैठक में कोई तीसरा व्यक्ति मौजूद नही था। 

संघ के पदाधिकारी इसे समान्य शिष्टाचार की भेंट बता रहे हैं लेकिन सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री की ओर से संघ प्रमुख से मिलने की इच्छा व्यक्त की गई थी पिछले दो दिनों से अटकलें लगाई जा रही थी की मनोहर किसी भी समय संघ प्रमुख से मिलने पहुंच सकते हैं। 

सूत्रों का कहना है कि इस बैठक में संघ प्रमुख ने मनोहर लाल को जनता की आशाओं के अनुरूप चलने की नासीहत दी। बैठक में गत विधानसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन पर भी चर्चा हुई।