BREAKING NEWS

उपचुनाव LIVE : 18 राज्यों की 51 विधानसभा और 2 लोकसभा सीटों पर वोटिंग जारी, UP में 9 बजे तक हुआ 8.43 प्रतिशत मतदान ◾हरियाणा विधानसभा चुनाव LIVE: साइकिल पर सवार होकर वोट डालने पहुंचे खट्टर, जीत का किया दावा ◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव LIVE: फडणवीस समेत कई नामी फिल्मी सितारों ने डाला वोट◾संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- बीते 90 वर्षों से हमें निशाना बनाया जा रहा है ◾हरियाणा में मुकाबला सिर्फ BJP और कांग्रेस के बीच : भूपिंदर सिंह हुड्डा◾केजरीवाल ने BJP पर साधा निशाना - बिजली सब्सिडी खत्म कर देगी भाजपा◾पोस्ट पेमेंट बैंक ने चुनौतियों को अवसर में बदला : PM मोदी ◾प्याज के मुद्दे पर भाजपा का केजरीवाल पर हमला, मुख्यमंत्री आवास का होगा घेराव◾सीमा पार तीन आतंकी शिविर ध्वस्त किये गए, 6-10 पाक सैनिक ढेर : सेना प्रमुख ◾PoK में भारतीय सेना की बड़ी कार्रवाई : सेना ने LoC पार जैश, हिजबुल के 35 आतंकी मार गिराए◾30 अक्टूबर को जामिया के दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति कोविंद होंगे मुख्य अतिथि◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए कल होगा मतदान, BJP लगातार दूसरे कार्यकाल की कोशिश में ◾वैश्विक आर्थिक जोखिमों के कारण बहुपक्षीय सहयोग को मजबूत करने की जरूरत : सीतारमण ◾मनमोहन सिंह करतारपुर गलियारे के औपचारिक उद्घाटन में नहीं होंगे शामिल : सूत्र◾TOP 20 NEWS 20 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भारत की तरफ से गोलीबारी में हमारे 4 जवान शहीद, हमने भारतीय सेना के 9 सैनिकों को मार गिराया : PAK◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: योगी से मिले परिजन, पत्नी बोली- CM ने हर संभव कार्रवाई का दिया आश्‍वासन◾भारतीय सेना ने PoK में तबाह किए आतंकी कैंप, 5 पाकिस्तानी सैनिक ढेर◾अभिजीत बनर्जी को लेकर BJP पर राहुल ने साधा निशाना, कहा- ये बड़े लोग नफरत से अंधे हो गए है◾अभिजीत बनर्जी के नोबेल पुरस्कार को राजनीतिक चश्मे से न देखा जाए : मायावती◾

हरियाणा

लापरवाही : डेंगू से बच्ची की मौत, अस्पताल ने बनाया 18 लाख का बिल, जेपी नड्डा ने मांगी रिपोर्ट

गुड़गांव के फोर्टिस अस्पताल में एक बच्ची की मौत हो गई, इसके बावजूद अस्पताल ने 18 लाख रुपये का बिल बनाया। अस्पताल के बिल में डॉक्टरों द्वारा प्रयोग किए गए 2700 दस्ताने और 660 सिरिंज के दाम भी शामिल थे। ट्विटर पर पीड़ित ने बिल की कॉपी के साथ पूरी घटना शेयर की, जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने एक्शन लेते हुए गुरुग्राम फोर्टिस हॉस्पिटल से रिपोर्ट मंगाई है, साथ ही स्वास्थ्य सचिव को जांच के आदेश दिए हैं। वहीं, ट्वीट वायरल होते ही बड़ी संख्या में लोगों ने प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, जुड़वा बहनों में से बड़ी को दो महीने पहले डेंगू हुआ था, जिसके बाद उसे द्वारका के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डेंगू होने के पांचवें दिन रॉकलैंड से फोर्टिस ले जाया गया, जहां अगले ही दिन बिना जानकारी दिए उसे वेंटिलेटर पर डाल दिया गया। जिसके बाद डेंगू के इलाज के लिए भर्ती सात साल की बच्ची के इलाज में 2700 ग्लव्स और 500 सिरिंज का इस्तेमाल करते हुए 15.59 लाख का बिल बना दिया गया, लेकिन फिर भी बच्ची की जान नहीं बची।

स्वास्थ्य मंत्री ने मांगी रिपोर्ट 

जब पीड़ित ने बिल की कॉपी के साथ पूरी घटना शेयर की,उसके बाद स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने सभी जरूरी जानकारी और रिपोर्ट ईमेल करने के लिए कहा। साथ ही उन्होंने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन भी दिया। दूसरी तरफ अस्पताल के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से भी सारी जानकारी देने के लिए कहा गया है।

क्या कहा अस्पताल ने ?

इस पूरे मामले पर अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि 'सात साल की बच्ची को एक दूसरे प्राइवेट अस्पताल से 31 अगस्त को लाया गया था। उसको डेंगू था जो शॉक सिंड्रोम की स्टेज पर थी। हमने इलाज शुरु किया लेकिन उसके ब्लड प्लेटलैट्स लगातार गिर रहे थे। हालत खराब होने पर हमने 48 घंटों के अंदर वेंटिलेटर पर रखा।’ अस्पताल का दावा है कि 14 सितंबर को डॉक्टर की सलाह के खिलाफ परिजन उसे अस्पताल से ले गए और उसी दिन बच्ची की मौत हो गई। अस्पताल की मानें तो इलाज के दौरान प्रोटोकॉल और दिशा-निर्देश का ध्यान रखा गया। साथ ही 20 पन्नों के बिल के बारे में परिवार को बताया गया था।