सिरसा : हरियाणा प्रदेश की हालत बीजेपी के राज में बद से बदतर हो गई है और प्रदेश का किसान, मजदूर, व्यापारी और छात्र वर्ग अपनी मांगों को लेकर सड़क पर उतरा हुआ है। अपने सिरसा प्रवास के दौरान हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा. अशोक तंवर ने कहा कि भाजपा राज में प्रदेश का हर वर्ग अपनी मांगों को लेकर सड़क पर उतरा हुआ है। उन्होने कहा कि आज प्रदेश के आढ़ती अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे है और ऐसे में प्रदेश का किसान अपनी फसल को बेचने के लिए सड़क पर खड़ा परेशान हो रहा है।

उन्होने कहा कि आज प्रदेश के किसानों के हालात बेहद दयनीय है क्योकि किसान को उसकी फसल के उचित भाव नही मिल रहे है और जो फसल एमएसपी के दायरे में है, उनकी खरीद के लिए सरकार ने अनावश्यक शर्तो को थोप दिया है, जिस कारण किसान और आढ़ती दोनो ही सरकार की नीतियों से परेशान है। डा. अशोक तंवर ने कहा कि सरकार की इन्ही गलत नीतियों के विरोध में प्रदेश भर के आढ़ती अनिश्चिकालीन धरने पर बैठे हुए है, जिस कारण किसान भी अपनी फसल को बेचने के लिए परेशान हो रहा है। डा. तंवर ने ये भी कहा कि प्रदेश की मंडियों में फसल की खरीद के लिए अभी तक कोई पुख्ता इंतजाम नही किए गए है।

उन्होने कहा कि ना तो प्रदेश की मंडियों में अभी तक सफाई हुई है और ना ही फसल के उठान को लेकर कोई प्रबंध किए गए है। डा. तंवर ने हरियाणा की खट्टर सरकार को निकम्मी सरकार बताते हुए कहा कि ये सरकार केवल लोगों को तंग करने और झूठ बोलने में व्यस्त है, इन लोगों को प्रदेश की जनता के हितों से कोई सरोकार नही है। डा. अशोक तंवर ने करनाल में छात्रों पर लाठीचार्ज करने की घोर निंदा करते हुए कहा कि प्रदेश की खट्टर सरकार ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर लाठीचार्ज करके अग्रेजों के कुशासन की याद दिला दी है।

उन्होने कहा कि 13 अप्रैल को जालियांवाला बाग हत्याकांड के 100 साल पूरे होने पर जहाँ पूरा देश शहीदों को नमन कर रहा है वही हरियाणा की पुलिस करनाल में अपने साथी छात्र की सड़क दुर्घटना में हुई मौत पर प्रदर्शन कर न्याय मांग रहे निर्दोष छात्र-छात्राओं पर हरियाणा पुलिस द्वारा नृशंस लाठीचार्ज करके अंग्रेजी कुशासन की याद दिला रही है।