BREAKING NEWS

PM मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप के बीच फोन पर हुई बात, ट्रंप ने मोदी को G-7 सम्मेलन में शामिल होने का दिया न्योता◾चक्रवात निसर्ग : राहुल गांधी बोले- महाराष्ट्र और गुजरात के लोगों के साथ पूरा देश खड़ा है ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,287 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 72 हजार के पार ◾वित्त मंत्रालय में कोरोना वायरस ने दी दस्तक, मंत्रालय के 4 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव ◾कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच, सरकार ने कहा- भारत महामारी से लड़ाई के मामले में अन्य देशों से बेहतर स्थिति में ◾जेसिका लाल हत्याकांड : उपराज्यपाल की अनुमति पर समय से पहले रिहा हुआ आरोपी मनु शर्मा ◾बाढ़ से घिरे असम के 3 जिलों में भूस्खलन, 20 लोगों की मौत, कई अन्य हुए घायल◾दिल्ली BJP अध्यक्ष पद से मनोज तिवारी का हुआ पत्ता साफ, आदेश गुप्ता को सौंपा गया कार्यभार◾दिल्ली हिंसा मामले में ताहिर हुसैन समेत 15 के खिलाफ दायर हुई चार्जशीट◾Covid-19 : अब घर बैठे मिलेगी अस्पतालों में खाली बेड की जानकारी, CM केजरीवाल ने लॉन्च किया ऐप◾कारोबारियों से बोले PM मोदी-देश को आत्मनिर्भर बनाने का लें संकल्प, सरकार आपके साथ खड़ी है◾ ‘बीएए3’ रेटिंग को लेकर राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा-अभी तो स्थिति ज्यादा खराब होगी ◾कपिल सिब्बल का केंद्र पर तंज, कहा- 6 साल का बदलाव, मूडीज का डाउनग्रेड अब कहां गए मोदी जी?◾महाराष्ट्र और गुजरात में 'निसर्ग' चक्रवात का खतरा, राज्यों में जारी किया गया अलर्ट, NDRF की टीमें तैनात◾कोरोना वायरस : देश में महामारी से 5598 लोगों ने गंवाई जान, पॉजिटिव मामलों की संख्या 2 लाख के करीब ◾Covid-19 : दुनियाभर में वैश्विक महामारी का प्रकोप जारी, मरीजों की संख्या 62 लाख के पार पहुंची ◾डॉक्टर ने की जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या की पुष्टि, कहा- गर्दन पर दबाव बनाने के कारण रुकी दिल की गति◾अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी जारी, मरीजों की आंकड़ा 18 लाख के पार हुआ ◾भारत में कोविड-19 से ठीक होने की दर पहुंची 48.19 प्रतिशत,अब तक 91,818 लोग हुए स्वस्थ : स्वास्थ्य मंत्रालय ◾महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में कोरोना के 2,361 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 70 हजार के पार, अकेले मुंबई में 40 हजार से ज्यादा केस◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

किसानों का पांच हजार करोड़ का ब्याज माफ

भिवानी/चंडीगढ़ : हरियाणा में कर्ज माफी की मांग कर रहे किसानों पर बड़ा दांव खेलते हुए सरकार ने कर्ज पर ब्याज माफ कर दिया है। जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान सोमवार को भिवानी पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कर्ज पर ब्याज माफी का ऐलान किया। मुख्यमंत्री का यह ऐलान ऐसे समय में हुआ है जब प्रदेश में चुनाव कार्यक्रम घोषित होने में दस से 15 दिन का समय बचा है। हालांकि सरकार के इस ऐलान में अभी भी ढेरों पेंच फंसे हुए हैं लेकिन अगर इस ऐलान को एक सप्ताह में लागू करके धरातल पर किसानों को लाभ पहुंचाया जाए तो सरकार को चुनाव में इसका सीधा लाभ मिलेगा। 

हरियाणा में किसानों द्वारा लंबे समय से कर्ज माफी की मांग की जा रही है। पड़ोसी राज्य पंजाब व अन्य राज्यों में सरकार द्वारा पहले ही किसानों का कर्ज माफ किया जा चुका है लेकिन हरियाणा में यह मुद्दा लंबे समय से लटका हुआ है। प्रदेश सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि वह कर्ज माफी के हक में नहीं है। विपक्षी राजनीतिक दलों द्वारा इसे मुद्दा बनाए जाने बाद अब सरकार ने बीच का रास्ता निकालते हुए किसानों को कर्ज पर ब्याज माफ करने का ऐलान कर दिया है। 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को भिवानी में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान किसानों के लिए करीब पांच हजार करोड़ रुपये का ब्याज माफी पैकेज देने का ऐलान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा प्रदेश के पैक्स, डिस्ट्रिक्ट सैंट्रल को-आपॅरेटिव बैंक व लैंड मारगेज बैंक से जुड़े नौ लाख 27 हजार किसानों को फायदा मिलेगा। जिनके खाते एनपीए घोषित किए जा चुके हैं। इस योजना का लाभ किसान 30 नवंबर तक ऋण की मूल राशि देकर उठा सकते हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि फसली कर्ज पर जुर्माना व ब्याज के रूप में 4750 करोड़ रूपये की माफी की जाएगी। सरकार की इस योजना से प्रदेश के करीब दस लाख किसानों को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि फसली ऋणों की अदायगी समय पर न करने वाले किसानों को पांच प्रतिशत की दर से ब्याज पर पैनल्टी लगाई जाती  थी, जो अब पूरी तरह माफ की जाएगी। चार प्रतिशत राज्य सरकार की ओर से वहन की जाएगी तथा नाबार्ड की तीन प्रतिशत ब्याज की दर में से 1.5 प्रतिशत हरियाणा सरकार तथा 1.5 प्रतिशत पैक्स अपने स्तर पर वहन करेगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पैक्स के ऋणी किसानों को इस घोषणा से 2500 करोड़ का लाभ मिलेगा। इसी प्रकार जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों से प्रदेश के 85 हजार किसानों ने ऋण लिए हुए है, जिनकी मूल ऋण राशि 1800 करोड़ रूपये बनती है, जिनमें से 32 हजार किसानों के खाते एनपीए हो गए है।

किसानों को इस योजना से 450 करोड़ रूपये का लाभ मिलेगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि तीसरी श्रेणी के हरियाणा भूमि सुधार एवं विकास बैंक(लैंड मोरगेज बैंक) के 1.10 लाख ऋणी किसान है, जिनमें से 70 हजार किसानों के खाते एनपीए घोषित किए जा चुके थे। इन किसानों की मूल ऋण राशि 750 करोड़ रूपये की है तथा ब्याज व जुर्माने की राशि 1400 करोड़ देय बनती है। 

उन्होंने कहा कि इन बैंकों के किसानों का पूरा पैनल ब्याज माफ कर दिया गया है। केवल सामान्य ब्याज का 50 प्रतिशत ही किसानों को देना होगा, शेष 50 प्रतिशत राज्य सरकार वहन करेंगी। लैंड मोरगेज बैंक के किसानों को इस योजना से 450 करोड़ रूपये का लाभ मिलेगा। 


13 लाख किसानों ने  लिया था पैक्स से लोन

सरकार की इस योजना के तहत प्राथमिक सहकारी, कृषि विपणन, जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों तथा हरियाणा भूमि सुधार एवं विकास बैंक के किसानों को लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री के अनुसार प्रदेशभर के 13 लाख किसानों ने पैक्स से लोन लिया था, जिसमें से आठ लाख 25 हजार किसानों के खाते एनपीए घोषित हो चुके हैं। जिनका सात प्रतिशत ब्याज और पांच प्रतिशत पैनल्टी को माफ किया जाएगा। 

इस प्रकार कुल 2500 करोड़ की ब्याज और पेनल्टी अकेले पैक्स से जुड़े किसानों की माफ की गई है। मुख्यमंत्री के इस ऐलान के बाद अटकलों का दौर शुरू हो गया है कि सरकार की इस घोषणा का लाभ सीधे तौर पर किसानों को कब मिलेगा। क्योंकि प्रदेश में चुनाव घोषित होने में बहुत कम समय बचा है।