BREAKING NEWS

World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 25 लाख के करीब, साढ़े पांच लाख से अधिक की मौत ◾विकास दुबे के एनकाउंटर को लेकर जल्द ही आधिकारिक बयान जारी करेंगे ADG प्रशांत कुमार◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले दिग्विजय-जिसका शक था वह हो गया◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले अखिलेश- कार नहीं पलटी बल्कि सरकार पलटने से बचाई गयी◾देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 8 लाख के करीब, अब तक 21604 लोगों ने गंवाई जान ◾STF की गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे ने की भागने की कोशिश, एनकाउंटर में मारा गया हिस्ट्रीशीटर ◾भारत-चीन सीमा विवाद: गलवान घाटी पर चीन के दावे को भारत ने एक बार फिर ठुकराया, शुक्रवार को हो सकती है वार्ता◾यूपी में कल रात 10 बजे से 13 जुलाई की सुबह 5 बजे तक फिर से लॉकडाउन, आवश्यक सेवाओं पर कोई रोक नहीं ◾दिल्‍ली में 24 घंटे में कोरोना के 2187 नए मामले, 45 की मौत, 105 इलाके सील◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे 219 लोगों की मौत, 6875 नए मामले◾उप्र एसटीएफ ने उज्जैन से गिरफ्तार विकास दुबे को अपनी हिरासत में लिया, कानपुर लेकर आ रही पुलिस◾वार्ता के जरिए एलएसी पर अमन-चैन का भरोसा, जारी रहेगी सैन्य और राजनयिक बातचीत : विदेश मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार, रिकवरी रेट 72% से अधिक : गृह मंत्रालय◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले-देश में नहीं हुआ कोरोना वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन◾ इंडिया ग्लोबल वीक में बोले PM मोदी-वैश्विक पुनरुत्थान की कहानी में भारत की होगी अग्रणी भूमिका◾कुख्यात अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद मां ने कहा- हर वर्ष जाते है महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए ◾मोस्ट वांटेड गैंगस्टर विकास दुबे के बारे में शुरुआत से लेकर गिफ्तारी तक का जानिए पूरा घटनाक्रम◾काशीवासियों से बोले PM मोदी- जो शहर दुनिया को गति देता हो, उसके आगे कोरोना क्या चीज है◾ कांग्रेस ने PM मोदी से किया सवाल, पूछा- क्या गलवान घाटी पर भारत का दावा कमजोर किया जा रहा?◾उज्जैन पुलिस की पीठ थपथपाते हुए बोले CM शिवराज-जल्दी UP पुलिस को सौंपा जाएगा विकास दुबे◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

खिलाड़ियों ने चुनाव में भाजपा से मांगी हिस्सेदारी

चंडीगढ़ : हरियाणा में निकट भविष्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में खिलाड़ियों ने भी अपनी हिस्सेदारी मांग ली है। भाजपा खेल प्रकोष्ठ के बैनर तले एकजुटता दिखाते हुए खिलाड़ियों ने जहां मनोहर सरकार की खेल नीति की जमकर प्रशंसा की वहीं चुनाव के दौरान उन्हें भी टिकट दिए जाने की मांग करते हुए दावा किया कि अगर कोई पेशेवर खिलाड़ी विधानसभा में पहुंचेगा तो वह प्रदेश के खिलाड़ियों की आवाज बेहतर तरीके से उठा सकेगा। 

पूर्व टेस्ट क्रिकेटर एवं भाजपा खेल प्रकोष्ठ के संयोजक चेतन शर्मा, हरियाणा फुटबाल संघ व हरियाणा जिमनास्टिक संघ के अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू, पुलिस की नौकरी छोड़कर खिलाड़ी से नेता बनी बबीता फौगाट व द्रोर्णाचार्य अवार्डी एवं क्रिकेट कोच संजय भारद्वाज ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में संयुक्त पत्रकार वार्ता के दौरान हरियाणा की मनोहर सरकार द्वारा स्पोर्टस विश्वविद्यालय राई में कपिल देव को वीसी नियुक्त किए जाने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि राई में अब से पहले अधिकारी वर्ग को अहम जिम्मेदारी मिलती रही है लेकिन कपिल देव के राई विश्वविद्यालय में पहुंचने से खिलाड़ियों को न केवल लाभ मिलेगा बल्कि पहले के मुकाबले अधिक संख्या में नए खिलाड़ी भी पैदा होंगे। 

हरियाणा सरकार द्वारा खेलों का बजट बढ़ाए जाने तथा उसका बड़ा हिस्सा ईनामी राशि के लिए आरक्षित रखे जाने पर सरकार का आभार व्यक्त करते हुए सूरजपाल अम्मू व चेतन शर्मा ने कहा कि मनोहर सरकार के कार्यकाल के दौरान झज्जर में जहां क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण शुरू हो चुका है वहीं अंबाला में भी अंतरराष्ट्रीय स्तर का एक फुटबॉल स्टेडियम बन रहा है। 

चेतन शर्मा ने बताया कि हरियाणा सरकार का खेल बजट आज जहां 400 करोड़ तक पहुंच गया है वहीं भाजपा द्वारा प्रदेश के सभी 22 जिलों में चलाए जा रहे खेल प्रकोष्ठ भी सरकार के सहयोगी बनकर काम कर रहे हैं। भाजपा में शामिल होने से पहले पुलिस की नौकरी छोडऩे तथा बाढड़ा विधानसभा क्षेत्र से चुनाव प्रचार शुरू करने वाली बबीता फौगाट ने अम्मू के सुझाव का समर्थन करते हुए कहा कि वह बगैर किसी पूर्व समझौते के भाजपा में आई हैं। पार्टी उन्हें जो जिम्मेदारी देगी वह उसे पूरा करने के लिए हमेशा तैयार हैं। 

बबीता फौगाट ने कहा कि कपिल देव के स्पोर्टस विश्वविद्यालय में अहम पद पर पहुंचने से यह साफ हो गया है कि हरियाणा में खेलों व खिलाड़ियों का भविष्य उज्जवल है। इस अवसर पर बोलते हुए द्रोणाचार्य अवार्डी एवं प्रसिद्ध क्रिकेट कोच संजय भारद्वाज ने दिल्ली सरकार की खेल नीति व हरियाणा सरकार की खेल नीति की तुलना करते हुए कहा कि देश की राजधानी में आज एक भी नियमित कोच नहीं है। वहां पार्ट टाइम कोच के सहारे ही काम चलाया जा रहा है। उन्होंने हरियाणा सरकार की खेल नीति की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि आज देश के अन्य राज्यों को हरियाणा सरकार की खेल नीति का अनुसरण करने की जरूरत है।