BREAKING NEWS

सीएए और एनआरसी के खिलाफ लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन जारी◾NIA ने संभाली आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह मामले की जांच की जिम्मेदारी◾वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें◾ट्रंप ने ईरान के 'सुप्रीम लीडर' को दी संभल कर बात करने की नसीहत◾ राजधानी में छाया कोहरा, दिल्ली आने वाली 20 ट्रेनें 2 से 5 घंटे तक लेट◾निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट◾PM मोदी ने मंत्रियों से कहा, कश्मीर में विकास का संदेश फैलाएं और गांवों का दौरा करें ◾भाजपा ने अब तक 8 पूर्वांचलियों पर लगाया दांव◾यूरोपीय संघ के उच्च प्रतिनिधि ने PM मोदी से भेंट की◾दिल्ली पुलिस आयुक्त को NSA के तहत मिला किसी को भी हिरासत में लेने का अधिकार◾न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾ममता ने एनपीआर,जनसंख्या पर केन्द्र की बैठक में नहीं लिया भाग◾सिंध में हिंदू समुदाय की लड़कियों के अपहरण को लेकर भारत ने पाक अधिकारी को किया तलब◾नड्डा का 20 जनवरी को निर्विरोध भाजपा अध्यक्ष चुना जाना तय◾हमें कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर कोई शंका नहीं है : रूसी राजदूत◾IND vs AUS : भारत की दमदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी◾दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 48 और नामांकन दाखिल◾राउत को इंदिरा गांधी के बारे में टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी : पवार◾कश्मीर में शहीद सलारिया का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार, दो महीने की बेटी ने दी मुखाग्नि ◾बुलेट ट्रेन परियोजना के लिये भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के खिलाफ याचिकाओं पर न्यायालय करेगा सुनवाई ◾

भाजपा सरकार बताए की नौकरियों में दलितों व पिछड़ों को मिले आरक्षण को आज तक पूरा क्यों नहीं किया : सैनी

लाडवा : लोसुपा सुप्रीमो राजकुमार सैनी ने मनोहर सरकार पर निशाना साधाते हुए कहा कि सबका साथ सबका विकास का नारा देने वाली खट्टर सरकार बताए की सरकारी नौकरियों में दलितों व पिछड़ों को मिले आरक्षण को आज तक क्यों पूरा नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रोफेसरो के पदों, केंद्रीय कैबिनेट मंत्रियों, प्रदेशों के हाईकोर्ट व देश के सुप्रीम कोर्ट में जजों, प्रदेशों के राज्यपालों व विदेशों में भारतीय राजदूतों जैसे महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्ति करने में दलितों व पिछड़ा वर्ग के लोगों की क्यों उपेक्षा की जा रही है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में अधिकांश समय तक एक ही समाज के मुख्यमंत्री रहने के कारण प्रदेश की 50 प्रतिशत से अधिक सरकारी नौकरियों पर उन्हीं के समाज का कब्जा हो गया है जबकि उनकी आबादी प्रदेश में मात्र 10 प्रतिशत ही है। उन्होंने कहा कि दलितों को 23 प्रतिशत व पिछड़ों को 27 प्रतिशत आरक्षण मिला हुआ है लेकिन उन्हें आज भी लगभग 25 प्रतिशत नौकरियों पर ही संतोष करना पड़ रहा है जो दलितों व पिछड़ों के साथ घोर अन्याय है। 

उन्होंने कहा कि विधानसभा के चुनावों में प्रदेश की जनता ने यदि लोसुपा को सरकार बनाने का मौका दिया तो सरकारी नौकरियों में 100 प्रतिशत आरक्षण लागू करने के अलावा एक परिवार-एक रोजगार की नीति लागू की जाएगी और जिस परिवार को सरकारी रोजगार नहीं मिलेगा उसे 10 हजार रुपये प्रतिमाह गुजारा भत्ता दिया जाएगा। वृद्धों को 5 हजार रुपये मासिक पैंशन देने के अलावा किसानों व मजदूरों को मनरेगा से जोड़ा जाएगा ताकि किसान व मजदूर का आर्थिक उत्थान हो सके। 

लोसुपा की सरकार बनने पर किसानों के कर्ज के अलावा भूमिहीन मजदूरों, छोटे दुकानदारों व थ्री व्हीलर चालकों का कर्ज भी माफ किया जाएगा और कर्मचारियों की पुरानी पैंशन स्कीम को फिर से बहाल किया जाएगा। आज भाजपा में वहीं लोग शामिल हो गए है जिनके खिलाफ प्रदेश की जनता ने भाजपा को जनादेश दिया था लेकिन अब उन लोगों के कारण ही भाजपा के जहाज का भी डूबना तय है।