BREAKING NEWS

दिल्ली : भजनपुरा में हुआ दर्दनाक हादसा, कोचिंग सेंटर की छत गिरने से 5 छात्रों की दबकर मौत ◾TOP 20 NEWS 25 January : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾गृह मंत्री अमित शाह बोले- भ्रांति फैलाकर 2015 का विधानसभा चुनाव जीते केजरीवाल, इस बार विफल रहेंगे◾दिल्ली विधानसभा चुनाव : CM केजरीवाल बोले- संविधान की रक्षा करने का दायित्व देश के नागरिकों पर है◾राहुल ने भीमा-कोरेगांव मामले की NIA जांच को लेकर केंद्र सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने वरिष्ठ नेता आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी से मुलाकात की ◾दिल्ली विधानसभा चुनाव: भाजपा के पूर्व विधायक हरशरण सिंह बल्ली AAP में शामिल◾बुर्के को लेकर बवाल बढ़ने पर पटना के जेडी वीमेंस कॉलेज का यू-टर्न, जारी किया नया ड्रेस कोड◾प्रधानमंत्री मोदी और ब्राजील के राष्ट्रपति ने द्विपक्षीय संबंधों को प्रगाढ़ करने के मुद्दों पर चर्चा की, 15 समझौतों पर किये हस्ताक्षर ◾निर्भया मामला : कोर्ट ने कहा किसी नए दिशा-निर्देश की जरूरत नहीं, दोषियों के वकील की याचिका निपटाई ◾प्रशांत किशोर ने सुशील मोदी पर साधा निशाना, कहा- लोगों को चरित्र प्रमाणपत्र देने में इनका कोई जोड़ नहीं ◾देश में घुसे पाक और बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालो : शिवसेना ◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर PM मोदी और उपराष्ट्रपति नायडू ने दी बधाई, देशवासियों से की ये अपील◾मौलाना कल्बे सादिक बोले- देश मोदी-शाह की मर्जी से नहीं, संविधान से चलेगा◾तुर्की में 6.8 तीव्रता का भूकंप, 18 लोगों की मौत◾...जब दिल्ली में चुनाव प्रचार खत्म कर कार्यकर्ता के घर पहुंचे अमित शाह, खाया खाना◾केंद्र सरकार ने भीमा कोरेगांव मामले की जांच NIA को सौंपी, महाराष्ट्र के गृहमंत्री देशमुख ने की निंदा◾पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी बोले- SCO बैठक के लिए भारत के आमंत्रण का है इंतजार◾फांसी टलवाने के लिए सभी हथकंडे आजमा रहे निर्भया के दोषी, तिहाड़ जेल प्रशासन के खिलाफ आज होगी सुनवाई◾रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ PMLA मामला : प्रवासी कारोबारी थम्पी की हिरासत 4 दिनों के लिए बढ़ी ◾

आज नार्दन जोनल काउंसिल की बैठक में शाह

चंडीगढ़ : नॉर्दन जोनल काउंसिल की 29वीं मीटिंग शुक्रवार को चंडीगढ़ में होने जा रही है। गृह मंत्री अमित शाह यह मीटिंग लेने चंडीगढ़ आ रहे हैं। इंडस्ट्रियल एरिया फेज-वन स्थित होटल हयात में होने वाली इस मीटिंग को इस बार हरियाणा होस्ट कर रहा है। केंद्रीय गृह मंत्री काउंसिल के चेयरमैन हैं तो होस्ट स्टेट यानी हरियाणा के मुख्यमंत्री वाइस चेयरमैन हैं। जोन में शामिल सभी राज्यों के राज्यपाल दो मंत्रियों को सदस्य मनोनीत कर भेजेंगे, जबकि यूटी से प्रशासक प्रतिनिधित्व करेंगे। 

हरियाणा ही सभी तरह की तैयारियां और व्यवस्था करने में जुटा है। पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, जम्मू, कश्मीर, लद्दाख और चंडीगढ़ इस जोन में आते हैं। अब लद्दाख के केंद्रशासित प्रदेश बनने से उसे भी काउंसिल में शामिल कर लिया गया है। हर साल काउंसिल की मीटिंग होनी होती है। 

2018 में बैठक नहीं हो सकी थी 28वीं मीटिंग भी मई 2017 को चंडीगढ़ में ही हुई थी जिसकी अध्यक्षता तत्कालीन गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने की थी। गृह मंत्री बनने के बाद अमित शाह का यह पहला चंडीगढ़ दौरा था। इससे पहले वह लोकसभा चुनाव के दौरान सांसद किरण खेर के लिए प्रचार करने सेक्टर-27 के रामलीला मैदान आए थे।

एयरपोर्ट, रिंग रोड और ग्रांट जैसे मुद्दों पर होगी चर्चा

इस मीटिंग में राज्यों के आपसी मुद्दों पर चर्चा होगी। चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट का नाम तय करने, ट्राइसिटी में रिंग रोड डेवलप करने पर भी चर्चा होगी। पंजाब और हरियाणा रिंग रोड पर अपनी रिपोर्ट पेश करेंगे। इससे ट्राइसिटी में ट्रैफिक की समस्या हल होगी। पंजाब यूनिवर्सिटी को मिलने वाली ग्रांट को लेकर भी बैठक में चर्चा होगी।

एसवाईएल को लेकर भी मंथन

पंजाब और हरियाणा का पानी विवाद एसवाइएल से हरियाणा को पानी मिलने का एजेंडा भी इसमें शामिल है। साथ ही पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश के सीमा विवाद पर भी चर्चा होती। राज्यों के सीमा संबंधी विवाद, सुरक्षा, इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे रोड, ट्रांसपोर्ट, इंडस्ट्रीज, वॉटर एंड पावर जैसे मुद्दों पर चर्चा होगी। इसके अलावा फॉरेस्ट, इन्वायरमेंट, हाउसिंग, एजुकेशन, फूड सिक्योरिटी, टूरिज्म और ट्रांसपोर्ट जैसे मामले भी काउंसिल में उठाए जा सकते हैं।

अर्बन ट्रांसपोर्ट पॉलिसी पर विचार

ट्राइसिटी में ट्रैफिक अर्बन ट्रांसपोर्ट पॉलिसी बनाने और उसकी प्लानिंग कर 100 करोड़ रुपये खर्च किए जाने का प्रस्ताव तैयार होना है। ट्रैफिक कंजेशन कम करने के साथ ही वाहनों के संचालन को बेहतर बनाने के लिए साल 2016 में केंद्र सरकार के साथ तीनों प्रदेशों का एक एग्रीमेंट हुआ था। इसके तहत अर्बन ट्रांसपोर्ट पॉलिसी पर चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा और केंद्र सरकार को मिलकर 25-25 करोड़ खर्च करने हैं।