बहादुरगढ : सत्ता में बैठे भाजपा के लोग राजनैतिक प्रतिशोध और नफरत की आग में झुलसते हुए हर सयम बदला लेने के लिए जनहित पर प्रहार करने में भी शर्म नहीं करते लेकिन इन सब के बावजूद आप लोगों के प्यार और भरोसे की ताकत के चलते ये मुझे अपने कर्तव्यपथ से हिला नहीं पाएंगे। रविवार को बहादुरगढ़ में जनसमर्थन सभा को सम्बोधित करते हुए रोहतक के सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि मैं 36 बिरादरी के भाईचारे और विश्व स्तरीय विकास की बात करता हूँ इसीलिये हमेशा भाजपा की आँखों में चुभता हूँ।

लोगों से सीधा रूबरू होते हुए सांसद दीपेन्द्र ने कहा कि अब चुनाव का समय नजदीक आ गया है और आप सभी को एक जरुरी फैसला करना है। पिछले चुनाव में आपने मुझे जो जिम्मेदारी दी थी उसे मैंने पहले की तरह ही पूरी ईमानदारी से निभाने का प्रयास किया। मैंने हमेशा साफ़ नीयत से काम करने की कोशिश की है और 36 बिरादरी के भाईचारे को बनाये रखते हुए हर किसी को मान-सम्मान देने का प्रयास किया।

सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहाए पिछले साढ़े चौदह वर्षों में मैंने तमाम बाधाओं की परवाह किये बगैरए अपनी पूरी क्षमता और ताकत से आपके साथ मिलकर अपने क्षेत्रए प्रदेश और देश के लिये सच्ची लगन से काम करने की कोशिश की है। हर वक्त मेरी यही कोशिश रही कि रोहतक लोकसभा क्षेत्र को विकास के क्षेत्र में देश भर में अग्रणी पहचान मिल सके और ऐसा हुआ भी रोहतक देश के विकास के नक््शे पर चमकने लगाए जिसके कारण ही ये विरोधियों की आँखों में खटकने लगा।

सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने आगे कहा कि सत्ता में बैठे लोग राजनैतिक प्रतिशोध की भावना से काम कर रहे हैं लेकिन इन सब के बावजूद आप लोगों के प्यार और भरोसे की ताकत के चलते ये मुझे अपने कर्तव्यपथ से हिला न सके। आप सभी का प्यार और भरोसा ही मेरी असल जमा पूँजी हैए जिसके बल पर मैं इन विभाजनकारी ताकतों से टक्कर ले पाता हूँ और अपने काम को तन्मयता से करता हूँ और यही ताकत हर बार मुझे दोगुने जोश के साथ मेहनत करने की प्रेरणा भी देती है। सांसद दीपेन्द्र ने कहाए आपने तीन बार मुझ पर भरोसा जताया और मैंने भी आपका भरोसा टूटने नहीं दिया।

मुझे पूरा विश्वास है कि आगे भी आपका स्नेह मिलेगा और मैं फिर से प्रगति और भाईचारे के पुराने दिन वापस ले आऊंगा। इस दौरान उनके साथ पूर्व विधायक राजेन्द्र जून, पूर्व विधायक बादली नरेश शर्मा, चेयरमैन शीला राठी, आयोजक युवराज छिल्लर, बिजेंद्र राठी, सतीश छिकारा, राजपाल आर्यश्रीओम अहलावत, विनोद पार्षद, अशोक पार्षद रामफूल पार्षदप्रेम ,पार्षद, रविंदर जाखड़ पार्षद, धर्मेन्द्र वत्स संदीप राठीए प्रियव्रर्त समेत अनेक गणमान्य लोग मौजूद रहे।

– प्रेम शर्मा