BREAKING NEWS

Lockdown 5.0 का आज पहला दिन, एक क्लिक में पढ़िए किस राज्य में क्या मिलेगी छूट, क्या रहेगा बंद◾लॉकडाउन के बीच, आज से पटरी पर दौड़ेंगी 200 नॉन एसी ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से ज्यादा यात्री करेंगे सफर ◾तनाव के बीच लद्दाख सीमा पर चीन ने भारी सैन्य उपकरण - तोप किये तैनात, भारत ने भी बढ़ाई सेना ◾जासूसी के आरोप में पाक उच्चायोग के दो अफसर गिरफ्तार, 24 घंटे के अंदर देश छोड़ने का आदेश ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,487 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 67 हजार के पार ◾दिल्ली से नोएडा-गाजियाबाद जाने पर जारी रहेगी पाबंदी, बॉर्डर सील करने के आदेश लागू रहेंगे◾महाराष्ट्र सरकार का ‘मिशन बिगिन अगेन’, जानिये नए लॉकडाउन में कहां मिली राहत और क्या रहेगा बंद ◾Covid-19 : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 1295 मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 20 हजार के करीब ◾वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी उद्योग जगत को देंगे वृद्धि की राह का मंत्र◾UP अनलॉक-1 : योगी सरकार ने जारी की गाइडलाइन, खुलेंगें सैलून और पार्लर, साप्ताहिक बाजारों को भी अनुमति◾श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 80 मजदूरों की मौत पर बोलीं प्रियंका-शुरू से की गई उपेक्षा◾कपिल सिब्बल का प्रधानमंत्री पर वार, कहा-PM Cares Fund से प्रवासी मजदूरों को कितने रुपए दिए बताएं◾कोरोना संकट : दिल्ली सरकार ने राजस्व की कमी के कारण केंद्र से मांगी 5000 करोड़ रुपए की मदद ◾मन की बात में PM मोदी ने योग के महत्व का किया जिक्र, बोले- भारत की इस धरोहर को आशा से देख रहा है विश्व◾'मन की बात' में PM मोदी ने देशवासियों की सेवाशक्ति को कोरोना जंग में बताया सबसे बड़ी ताकत◾तमिलनाडु सरकार ने 30 जून तक बढ़ाया लॉकडाउन, सार्वजनिक परिवहन की आंशिक बहाली की दी अनुमति ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 82 हजार के पार, महामारी से 5164 लोगों ने गंवाई जान ◾विश्व में कोरोना मरीजों का बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के पार◾महाराष्ट्र में लॉकडाउन बढ़ाए जाने के बाद शरद पवार ने CM उद्धव ठाकरे से की मुलाकात ◾दिल्ली में कोविड-19 के 1163 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 18 हजार को पार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मेहनत का 23 को आएगा सुखद परिणाम : तंवर

सिरसा : हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं सिरसा लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि देश और प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिस कठोर परिश्रम और मजबूती से कार्य किया है, उसके परिणाम आगामी 23 मई को सुखद आएंगे और केंद्र में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में यूपीए की सरकार बनेगी।वे सोमवार को कांग्रेस भवन में सिरसा एवं कालांवाली हलके के बूथ एजेंटों एवं कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

डॉ. तंवर ने कहा कि चुनावों के बाद मतगणना में बूथ एजेंटों की भूमिका सदैव महत्वपूर्ण रहती है और अपनी इसी महत्ती भूमिका का अनुसरण कांग्रेस के बूथ एजेंट 23 मई को भी करेंगे। उन्होंने न्यूज चैनल्स पर दिखाए जा रहे एग्जिट पोल की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हुए कहा कि ये एग्जिट पोल पहले भी गलत साबित हुए हैं और इस बार भी ये गलत ही साबित होंगे।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा ने पूरे देश में संसदीय चुनावों के दौरान सरकारी मशीनरी व खजाने का दुरूपयोग किया है मगर देश की जनता ने अपना आशीर्वाद कांग्रेस को ही दिया है जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण 23 मई को नतीजों में साबित होगा। डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि हरियाणा में जहां इनेलो ने अपनी परंपराओं के मुताबिक कार्य करते हुए गुंडागर्दी को बढ़ावा दिया वहीं कांग्रेस ने सबका सम्मान और आत्मीयता से कार्य किया है जिसका परिणाम सफलता के रूप में प्रदर्शित होगा।

डॉ. तंवर ने दावा किया कि हर प्रदेश में कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन कर रही है और सिरसा में भी कांग्रेस की बड़े मार्जिन से जीत होगी जिसका पूरा श्रेय कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मेहनत को जाएगा। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि पूरे हरियाणा में कांग्रेस के उम्मीदवार गंभीरता से चुनाव लड़े हैं और इसके आशातीत परिणाम आएंगे।

इस दौरान भाजपा पर बरसते हुए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि पूरे पांच साल तक भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने देश को भ्रम में रखने और झूठ बोलने का काम किया है, उसका बदला लोगोंं ने लिया है। देश में गरीबी, बेरोजगारी, महिला सम्मान, स्मार्ट सिटी, बुलेट ट्रेन, काला धन, सीमाओं की रक्षा सहित तमाम सारे मुद्दे हैं जिन पर भाजपा ने लोगों को गुमराह किया और पांच साल में उनका झूठ जनता के सामने आ गया। चुनावों में भाजपा के पास कोई मुद्दा नहीं था बल्कि केवल राष्ट्रवाद के नाम पर लोगों की भावनाएं भड़काकर वोट लेने की कोशिश की गई।