BREAKING NEWS

INX मीडिया : चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत, CJI के समक्ष जाएगा मामला ◾राहुल का केंद्र पर वार, कहा-चिदंबरम के चरित्रहनन के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही मोदी सरकार◾चिदंबरम के बचाव में प्रियंका, बोली-केंद्र की असफलताओं को उजागर करने की भुगत रहे है सजा◾उत्तर प्रदेश : योगी कैबिनेट का हुआ विस्तार, 23 मंत्रियो ने ली शपथ ◾कश्मीर मामले पर ट्रंप ने फिर की मध्यस्थता की पेशकश, कहा- PM मोदी से करूंगा बात◾INX मीडिया : चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने जारी किया लुकआउट नोटिस ◾मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के निधन पर PM मोदी ने किया शोक व्यक्त ◾भारतीय सेना ने लिया अभिनंदन का बदला, गिरफ्तार करने वाले पाक कमांडो को किया ढेर◾चिदंबरम के लिए कयामत की रात, जेल या बेल पर फैसला सुबह ◾पंजाब, हरियाणा में बनी हुई है बाढ़ की स्थिति◾अयोध्या मामला : हिंदू निकाय ने न्यायालय से कहा: 12 वीं सदी में मंदिर के अस्तित्व का उल्लेख ◾INX मीडिया घोटाला : सीबीआई और ED ने चिदंबरम पर कसा शिकंजा , घर पर लगाया नोटिस, तलाशी अभियान अब भी जारी...◾PM मोदी ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री को फोन कर लंदन में भारतीयों पर हुए हमले का उठाया मुद्दा ◾असम में NRC भारत का आंतरिक मामला : जयशंकर ◾गडकरी और जावड़ेकर ने एम्स जाकर जेटली की सेहत की जानकारी ली ◾अनुच्छेद 370 हटने के बाद बारामूला में पहली मुठभेड़ ◾आम आदमी पार्टी के विधायक संदीप कुमार अयोग्य घोषित◾कश्मीर मुद्दे पर रक्षा मंत्री की US रक्षा मंत्री से बात , राजनाथ बोले - ये हमारा अंदरूनी मसला◾चंद्रयान-2 ने चांद की कक्षा में सफलतापूर्वक किया प्रवेश , अब ISRO का ध्यान ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ पर ◾TOP 20 NEWS 20 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

हरियाणा

हरियाणा के युवाओं का भविष्य हुआ अंधकारमय

चंडीगढ़ : कांग्रेस प्रवक्ता व कैथल से कांग्रेस विधायक रणदीप सुरजेवाला ने मांग की है कि पिछले पाँच साल में हरियाणा में हुई सभी भर्तियों के सारे उम्मीदवारों के लिखित परीक्षाओं और इंटरव्यू के नम्बर सार्वजनिक किए जांए खट्टर सरकार जब से आई है तब से दिन प्रतिदिन सरकारी नौकरी की भर्तियों में फर्जीवाड़े और भष्टाचार के मामले सामने आ रहे हैं। 

सरकार एक ओर तो निष्पक्षता का दावा करती है वहीं दूसरी ओर पिछले दरवाज़े से बड़े पैमाने पर भर्तियों में फर्जीवाड़ा चल रहा है। नौकरियों में हो रहे फर्जीवाड़े को जनता से छिपाने के लिए धांधली के नए-नए तरीके आजमाए जा रहे हैं। हर रोज पेपर लीक हो रहे है, नए-नए घोटाले हो रहे हैं फिर भी फर्जीवाडों के खुलासों पर सरकार चुप्पी साधे हुए बैठी है, जिससे प्रदेश के युवाओं के सामने बड़ा संकट खड़ा हो गया है।

लिखित परीक्षाओं और इटरव्यू के नम्बर किए जाएं सार्वजनिक : युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करने में माहिर खट्टर सरकार युवाओं की आँखों में धूल झोंकने का प्रयास कर रही है। यदि सरकार अपने आपको ईमानदार होने का दावा करती है तो उसे पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय द्वारा 22 मई, 2014 को दिए फैसले के अनुसार सभी भर्तियों की लिखित परीक्षाओं और इटरव्यू के नम्बर सार्वजनिक करने चाहिए, जिससे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा और सरकार के फर्जीवाड़े का खुलासा भी हो जाएगा। दुःख की बात है की पिछले पांच साल से खट्टर सरकार उस स्पस्ट फैसले का पालन नहीं कर रही।

हरियाणा स्टाफ सलेक्शन कमीशन भर्ती घोटाले की जांच में अडंगा डालने का काम कर रही सरकार : प्रदेश सरकार ने हरियाणा स्टाफ सलेक्शन कमीशन भर्ती घोटाले के असली दोषियों को बचाने और जनता के सामने असलियत आने से रोकने के लिए पंचकुला जिला अदालत द्वारा 4 दिसंबर, 2018 को जारी आदेश के मुताबिक दो महीने में पूरी जांच करने के आदेश की अनुपालना नहीं की है। पंचकूला अदालत के बार- बार आदेशों के बावजूद जांच पूरी नहीं की जा रही और पिछले 7 महीनों से जांच को लगातार लटकाया जा रहा है। इसी प्रकार इस मामले में जब पंजाब एंव हरियाणा हाईकोर्ट ने 23 जनवरी 2019 को इसे बड़ा घोटाला बताते हुए सीबीआई जांच के आदेश देने की बात की तो प्रदेश सरकार ने सीबीआई जांच में टाल-मटोल किया, जिससे सरकार की मंशा का साफ पता चलता है।

जॉब स्कैम में गिरफ्तार एचएसएससी कर्मचारियों की कॉल डिटेल्स और ट्रांसक्रिप्शन किए जाएं सार्वजनिक : पिछले वर्ष नौकरी लगवाने के नाम पर हुए जॉब स्कैम में गिरफ्तार एचएसएससी कर्मचारियों की कॉल डिटेल्स और ट्रांसक्रिप्शन सार्वजनिक करने से सरकार क्यों हिचक रही है, क्या सरकार को डर है कि इन कॉल डिटेल्स के सार्वजनिक होने से सरकार से जुड़े बड़े-बड़े सफेदपोश लोगों के काले कारनामे उजागर हो जाएंगे? हमारी स्पष्ट मांग है की आरोपियों की सभी कॉल डिटेल्स और ट्रांसक्रिप्शन सार्वजनिक की जाएं।

सरकार ने किया परीक्षाओं में धाँधली का वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम, हरियाणा लोकसेवा आयोग की परीक्षा में नए खुलासे से एक और फर्जीवाड़े का इशारा : पिछले 5 वर्षों में प्रदेश की खट्टर सरकार ने युवाओं के साथ नौकरियों के नाम पर भद्दा मजाक किया है, युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करने में माहिर निक्कमी खट्टर सरकार ने परीक्षाओं में धांधली का वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया है। एक और फर्जीवाड़े की ओर इशारा करते हुए हाल ही में हरियाणा लोकसेवा आयोग की परीक्षा में विचित्र संयोग सामने आया है, इस परीक्षा में चुने गये 57 ऐसे परीक्षार्थी पाये गये हैं जो 'इत्तिफ़ाक़' से या तो आगे या पीछे बैठे थे। जो बेहद ही शर्मनाक और आपत्तिजनक है। 

इस प्रकरण की तुरंत जांच होनी चाहिए, दोषियों को सज़ा मिलनी चाहिए व लोकसेवा परीक्षा रद्द कर पुन: करानी चाहिये। पिछले दिनों नायब तहसीलदार पेपर लीक मामला इस सरकार के निकम्मेपन को एक बार फिर उजागर किया है, जब सरकार मान रही है कि पेपर लीक हुआ तो फिर पेपर को रद्द क्यों नहीं किया जा रहा।