BREAKING NEWS

'असंवैधानिक' नागरिकता विधेयक पर लड़ाई सुप्रीम कोर्ट में होगी : चिदंबरम◾हरियाणा : होमवर्क पूरा न करने पर दलित लड़की का मुंह काला कर स्कूल में घुमाया गया ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को JDU के समर्थन से प्रशांत किशोर निराश◾अनुच्छेद 370 को खत्म किये जाने के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट आज से करेगा सुनवाई ◾PM मोदी ने की शाह की तारीफ, बोले- नागरिकता विधेयक समावेश करने की भारत की सदियों पुरानी प्रकृति के अनुरूप◾नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में आज छात्र संगठनों की तरफ से पूर्वात्तर भारत में बंद ◾लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित, पक्ष में पड़े 311 वोट, विपक्ष में 80◾जब तक मोदी प्रधानमंत्री हैं, किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं : शाह ◾महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, चिंताजनक और शर्मनाक : नायडू ◾ओवैसी ने लोकसभा में नागरिकता विधेयक की प्रति फाड़ी भाजपा सदस्यों ने संसद का अपमान बताया ◾पूर्वोत्तर के अधिकतर राज्यों के दलों ने नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन किया ◾अनुच्छेद 370 को रद्द किये जाने के खिलाफ याचिकाओं पर संविधान पीठ कल से करेगी सुनवाई ◾दुष्कर्म की राजधानी बना भारत, फिर भी चुप हैं मोदी : राहुल गांधी◾कांग्रेस कभी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरती : नरेन्द्र मोदी ◾TOP 20 NEWS 09 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भीकाजी कामा प्लेस मेट्रो स्टेशन के नजदीक जेएनयू के छात्रों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज ◾नागरिकता संशोधन विधेयक भाजपा के घोषणापत्र का हिस्सा रहा, जनता ने इसे मंजूर किया : अमित शाह◾कर्नाटक उपचुनाव : BJP को 12 सीटों पर जीत मिली, विधानसभा में मिला स्पष्ट बहुमत ◾कर्नाटक : सिद्धारमैया ने कांग्रेस विधायक दल के नेता पद से दिया इस्तीफा◾JNU छात्रों ने राष्ट्रपति भवन तक शुरू किया मार्च, पुलिस ने की शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील◾

हरियाणा

हरियाणा में बेरोजगारी दर 28.7 प्रतिशत पर पहुंची : सुरजेवाला

 randeep surjewala

चंडीगढ़ : हरियाणा की भाजपा सरकार बेरोजगारी को काबू करने में पूरी तरह विफल रही है और सरकार की गलत नीतियों के चलते आज हरियाणा में बेरोजगारी की समस्या ने इतना विकराल रुप ले लिया है कि आज हरियाणा में बेरोजगारी दर अभूतपूर्व रुप से 28.7 प्रतिशत पर पहुँच गई है, जो आज देश में सबसे ज्यादा है। ये बयान भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने दिया है। 

उन्होने कहा सैंटर फार मॉनिटरिंग ऑफ इंडियन इकोनॉमी (सी.एम.आई.ई.) द्वारा अगस्त, 2019 में देश की बेरोजगारी की स्थिति पर जारी रिपोर्ट से पूरे देश में वर्तमान बेरोजगारी की दर घोर निराशापूर्ण स्थिति का पता चलता है, जो 8.37 प्रतिशत पर है, लेकिन इसी रिपोर्ट के अनुसार हरियाणा में बेरोजगारी की दर देश में व्याप्त गंभीर बेरोजगारी से भी साढ़े तीन गुना से कहीं ज्यादा दर से बढ़ते हुए भयावह स्थिति में पहुँच गई है। 

इस सब के बावजूद प्रदेश की सरकार लोक सभा चुनाव में मिली जीत की खुमारी व सत्ता के घमंड में इस समस्या की ओर से आँखे मूँद कर गहन निद्रा में लीन है। हरियाणा के साथ लगते प्रदेश पंजाब में बेरोजगारी 8.7 प्रतिशत, दिल्ली में 13.6 प्रतिशत, उत्तराखंड में 6.6 प्रतिशत और उत्तर प्रदेश में 12.3 प्रतिशत दर्शाई गई है, जिससे हरियाणा में निरंतर विकराल रुप ले रही बेरोजगारी की स्थिति का सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। 

देश में आ रही मंदी के चलते आने वाले महीनों में बेरोजगारी की स्थिति के और भी बदतर होने के आसार हैं, लेकिन हरियाणा की सरकार इस समस्या के समाधान के लिए ठोस उपाय करने के प्रयास करना तो दूर इस समस्या को स्वीकार करने से ही इंकार कर रही है। गुड़गांव में मारुति कंपनी में उत्पादन कम हो चुका है और इसकी अनुषंगी इकाईयों का उत्पादन भी बुरी तरह प्रभावित है। परिणाम स्वरुप गुडग़ांव और इसके आस-पास के गांवों के हजारों कामगार बेरोजगार हो गये हैं।