फरीदाबाद : कुंडली-गाजियाबाद-पलवल एक्सप्रेस वे केजीपी पर गांव शाहजहांपुर के पास सोमवार की मध्य रात्रि ट्रॉला की टक्कर में कैंटर सवार चार लोगों की मौत हो गई और एक घायल हो गया। मृतकों में एक यूपी के एटा और तीन अन्य हरियाणा के नूंह जिले के फिरोजपुर झिरका क्षेत्र के हैं, जो राजस्थान से बकरियां-भेड़ लाकर उसे गाजीपुर उत्तर प्रदेश की मंडी में ले जा रहे थे। पुलिस ने अज्ञात चालक के खिलाफ लापरवाही और तेज गति से वाहन चलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर शवों का बादशाह खान अस्पताल में पोस्टमार्टम करा दिया है।

बकरियों को लादकर दिल्ली के गाजीपुर मंडी जा रहे थे। सोमवार देर रात करीब 11:00 बजे केजीपी एक्सप्रेसवे पर फज्जूपुर गांव में यमुना नदी पर बने पुल के पास कैंटर का पिछला टायर पंक्चर हो गया। इसके चलते कैंटर में सवार चालक समेत सभी नौ लोग कैंटर से उतर गए। गांव भाकडौजी तहसील फिरोजपुर झिरका जिला नूंह के रहने वाले रफीक ने थाना छांयसा पुलिस को बताया कि वे माहवा राजस्थान से कैंटर में भेड़.बकरी भरकर लाए थे और उत्तर प्रदेश की गाजीपुर मंडी में बेचने जा रहे थे।

उनके साथ 22 वर्षीय नहीम निवासी एटा उत्तर प्रदेश, 24 वर्षीय तालीम पुत्र रमजान, 25 वर्षीय मौसीम पुत्र दीनू, 30 वर्षीय पूर्ण पुत्र हरसी सभी निवासी फिरोजुपर झिरका भी थे। गांव शाहजहांपुर के पास कैंटर में बाईं तरफ का टायर पंचर हो गया। पंचर होने के कारण वे टायर बदल रहे थे और ये सभी उनके पास खड़े हुए थे। तब ही पीछे से एक 16 टायर का ट्रॉला तेज गति से आया और कैंटर में टक्कर मार दी। जिससे कैंटर पलट गया और नहीम, तालीम, मौसीम, पूर्ण कुचले गए।

इससे उनकी मौत हो गई। घटना घटने के बाद मौके पर लोग एकत्रित हो गए और पुलिस को सूचना दे दी। घटना सोमवार की रात की है। ट्रॉला चालक मौके से भाग गया हैए इसलिए यह पता नहीं चल सका है कि टक्कर कैसे हुई। क्योंकि मौसम साफ था। हो सकता है कि ट्रॉला ड्राइवर को रात को नींद आ गई हो और झपकी में उसने कैंटर में टक्कर मार दी हो। ट्रॉला को कब्जे में ले लिया है। चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है और शवों का पोस्टमार्टम करा दिया है।