चंडीगढ : इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और चौटाला परिवार में हुए बिखराव के बीच अब हिसार सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला रविवार को जींद के पांडु-पिंडारा गांव में अपनी ताकत दिखाएंगे। पांडु-पिंडारा में ‘समस्त हरियाणा’ सम्मेलन के नाम पर दुष्यंत प्रदेश स्तर की रैली करेंगे।

रैली में ही वे अपनी नई राजनीतिक पार्टी का ऐलान करेंगे। वहीं दूसरी ओर, नेता प्रतिपक्ष और दुष्यंत के चाचा अभय सिंह चौटाला ने इसी दिन यानी 9 दिसंबर को चंडीगढ़ में इनेलो की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुला ली है। अभय चौटाला के इस फैसले को सीधे तौर पर जींद में दुष्यंत की रैली से जोड?र देखा जा रहा है।

जिस तरह से दुष्यंत चौटाला, उनके छोटे भाई व इनेसो के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला और माता व डबवाली विधायक नैना सिंह चौटाला सहित उनके खेमे के अधिकांश नेता रैली की कामयाबी के लिए प्रदेशभर में प्रचार कर चुके हैं। वहीं अभय ने भी इसी दौरान पहली दिसंबर से कुरुक्षेत्र में पांच दिन की एसवाईएल मुद्दे पर जन-अधिकार यात्रा की शुरूआत की।

इससे पहले भी जब पूर्व सांसद डॉ. अजय सिंह चौटाला ने 17 नवंबर को जींद में प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुलाने का फैसला लिया था तो अभय ने इसी दिन चंडीगढ़ में इनेलो की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुलाई थी।

उस समय अभय पार्टी के 14 विधायकों को अपने साथ लाकर यह संदेश देने में सफल रहे थे कि पार्टी के विधायक उनके ही साथ हैं। यही नहीं, राष्ट्रीय व प्रदेश पदाधिकारियों के अलावा जिला व ब्लाक के पदाधिकारी भी अभय के साथ ही नजऱ आए थे।

(राजेश जैन)