गुरुग्राम: प्रद्युम्न हत्या कांड मामले की सुनवाई बुधवार को जुवेनाईल जस्टिस बोर्ड में हुई। सीबीआई द्वारा बोर्ड के समक्ष गत सप्ताह आरोपी छात्र के फिंगर प्रिंट लेने की अनुमति देने से संबंधित जो याचिका दायर की गई थी, आरोपी छात्र के अधिवक्ता ने इस याचिका जबाव जस्टिस बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत कर दिया है। जस्टिस बोर्ड इस याचिका पर बहस नहीं करा सका। याचिका पर बहस के लिए जस्टिस बोर्ड ने आगामी 8 दिसम्बर की तारीख निर्धारित कर दी है।

इस तारीख पर इस याचिका के साथ-साथ प्रद्युम्र के पिता द्वारा दायर कराई गई उस याचिका पर भी अधिवक्ताओं की बहस होगी कि नाबालिग आरोपी छात्र के मामले की बालिग के रुप में अदालत में सुनवाई कराई जाए। क्योंकि आरोपी छात्र पर मासूम छात्र की हत्या का जघन्य अपराध लगा है। सीबीआई ने फरीदाबाद स्थित बाल सुधार गृह से आरोपी छात्र को प्रात: ही जुवेनाईल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश किया। जस्टिस बोर्ड ने आरोपी छात्र की 14 दिन न्यायिक हिरासत की अवधि और बढ़ा दी है। अब सीबीआई आरोपी छात्र को आगामी 20 दिसम्बर को जुवेनाईल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश करेगी।

लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक करें।

– सतबीर, अरोड़ा