रेवाड़ी : रेवाड़ी पुलिस ने गौ-तस्करों के खिलाफ बडे स्तर पर कार्रवाई शुरू कर दी है। एसपी राजेश दुग्गल के मार्गदर्शन में इस बार दोनों सीआईए के अलावा जिला पुलिस गौ-तस्करों को धूल चटाने की तरफ बड़ चुकी है। पिछले दो दिनों में पुलिस का दो बार गौ-तस्करों के साथ कड़ा मुकाबला हो चुका है। नौ सितंबर की रात सेक्टर-18 ढालियावास कट के नजदीक पुलिस टीम पर फायरिंग करने वाले गिरोह के एक सदस्य को 24 घंटे के अंदर मॉडल टाउन थाना पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है। इसके अलावा देर रात दिल्ली-जयपुर हाईवे पर भी रेवाड़ी सीआईए की टीम ने गौ-तस्करों के साथ दो-दो हाथ किए। गनीमत यह रही कि अंधेरा ज्यादा था, वरना गौ-तस्कर पुलिस के शिकंजे में होते। सेक्टर-18 की वारदात में शामिल पकड़े गए आरोपी की पहचान हडिया निवासी कोसली के रूप में हुई है।

बुधवार आरोपी को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। जानकारी अनुसार 9 सितंबर की रात पुलिस को सूचना मिली थी कि एक पिकअप में सवार गौ-तस्कर सेक्टर-18 में गाय उठा कर ले जा रहे है। सूचना के बाद मॉडल टाउन थाना की पीसीआर-2 ने बदमाशों का पीछा शुरू कर दिया। बदमाशों ने पुलिस टीम पर पत्थराव करने के अलावा कई फायर किए थे। उसके बाद बदमाश अंधेरे का फायदा उठा कर फरार हो गए थे। 24 घंटे के अंदर-अंदर मॉडल टाउन पुलिस ने इस वारदात में शामिल हडिया को गिरफ्तार कर लिया।

गोहत्या होगी तो मॉब लिंचिंग की घटनाएं बढ़ेंगी : विनय कटियार

वहीं दूसरी तरफ देर रात कसौला चौक पर पिकअप में सवार गौ-तस्करों ने रेवाड़ी सीआईए की टीम ने गो तस्करो को रुकवाने के लिए अपनी गाड़ी को तस्करो की गाड़ी के आगे लगाकर रुकवाने का प्रयास किया, लेकिन तस्करो ने गाड़ी को टक्कर मारते हुए पुलिस टीम पर फायरिंग करने के अलावा पत्थर बरसाए, लेकिन पुलिस का हौंसला कम नहीं हुआ। सीआईए के जवानों ने बदमाशों का पीछा किया, परंतु बदमाश अंधेरे का लाभ उठाकर फरार हो गए। दोनो वारदातों में आरोपियो के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामले दर्ज कर लिए गए है। आरोपियो को दबोचने के लिये पुलिस की टीमें दबिश दे रही है। जल्द ही उन्हें काबू कर लिया जाएगा।

– शशि सैनी