रेवाड़ी : दिल्ली के बुराड़ी कांड के बाद मोक्ष प्राप्ति के लिए जान देने का एक बड़ा मामला रेवाड़ी में भी सामने आया है। यहां के गांव भैरामपुर भड़ंगी निवासी तथा दिल्ली पुलिस के जवान ने 30 जुलाई को फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली थी। पुलिस जवान द्वारा आत्महत्या करने के करीब सप्ताहभर बाद उसकी पत्नी ने दिल्ली के ही रहने वाले एक तांत्रिक व उसकी पत्नी पर पति को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए बावल थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। मृतक पुलिसकर्मी की पत्नी का कहना है कि तांत्रिक व उसकी पत्नी ने उसके पति को मोक्ष प्राप्ति का झांसा दिया हुआ था और मोक्ष प्राप्ति के लिए ही उन्होंने अपनी जान दे दी। इस गंभीर मामले के सामने आने के बाद पुलिस भी जांच में जुट गई है।

भूत प्रेत का भी दिखाया जाता था डर : 30 जुलाई को गांव भैरामपुर भड़ंगी निवासी कर्मबीर ने गांव के मंदिर में खड़े एक पेड़ से फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी। मृतक दिल्ली पुलिस में हैडकांस्टेबल के पद पर कार्यरत थे तथा वर्तमान में मालवीय नगर पुलिस लाइन में तैनात थे। कर्मबीर की पत्नी शकुंतला ने बुधवार को इस मामले में पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल से मुलाकात करके दिल्ली विवेक विहार निवासी तांत्रिक उदय व उसकी पत्नी साधना के खिलाफ शिकायत दी।

बुराड़ी फांसीकांड : तांत्रिक महिला को पुलिस ने लिया हिरासत में, कबूला- सुसाइड के लिए उकसाया था मैंने

शिकायत में कहा है कि वर्ष 2009 में उसके पति कर्मबीर विवेक विहार थाना में तैनात थे। इसी दौरान उनकी तांत्रिक उदय सिंह से मुलाकात हुई थी। उदय दो-तीन बार उनके घर भी आ चुका था। उदय ने बताया कि उसके घर पर भूत-प्रेत का साया है तथा इसका समाधान कर देगा। समाधान के बहाने वह उसके पति को परेशान करने लगा तथा पैसे भी ऐंठता रहा। कई बार उसके पति का उदय के साथ झगड़ा भी हो गया था। उदय ने धमकी दी थी कि वह उस पर भूत-प्रेत छोड़ देगा। इसके बाद उदय ने उसके पति की मुलाकात अपनी पत्नी साधना से कराई। दोनों पति-पत्नी ने कर्मबीर को अपने जाल में फंसा लिया था तथा परेशान कर रहे थे।

मोक्ष प्राप्ति के लिए उकसाने का आरोप
शिकायत में शकुंतला ने कहा है कि कर्मबीर को उदय व उसकी पत्नी साधना मोक्ष के लिए उकसा रहे थे। 30 जुलाई को कर्मबीर ने घर पर आकर कहा था कि उसके गुरु उदय व साधना मोक्ष प्राप्ति के लिए बार.बार तंग कर रहे है। वह मोक्ष प्राप्ति के लिए जा रहा है तथा बच्चों का वह अपने आप ख्याल रखे। उदय व साधना के दबाव में कर्मबीर ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली। शकुंतला की शिकायत पर बावल थाना पुलिस ने उदय व साधना के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मेरे पति को तांत्रिक व उसकी पत्नी ने ही छीना
इस मामले में शकुंतला का कहना है कि उसके पति अकसर मोक्ष की बात करते रहते थे तथा छुट्टी वाले दिन भी तांत्रिक उदय के जाल में ही उलझे रहते थे। तांत्रिक उदय व उसकी पत्नी बुराड़ी कांड की तरफ उनके पूरे परिवार को मरवाने की तैयारी कर चुके थे लेकिन वे बच गए हैं। शकुंतला का कहना है कि आरोपितों ने कई और लोगों को अपने चुंगल में फंसा रखा है।

– शशि सैनी