रोहतक : कांग्रेस में गुटबाजी रूकने का नाम ही नही ले रही है। नगर निगम चुनाव में कांग्रेस समर्थित मेयर प्रत्याशी उतारने को लेकर कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि पार्टी का निर्णय जब सिंबल पर चुनाव न लडने का हो चुका था तो प्रत्याशी उतारने का कोई औचित्य नहीं था, जो प्रत्याशी उतारा है, उससे कांग्रेस का कोई लेना देना नही है और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा का यह निजी फैसला है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का कार्यकत्र्ता भाजपा व इनेलो को हराने के लिए अपनी मर्जी से मतदान कर सकते है। तंवर के इस बयान को लेकर महम से कांग्रेस विधायक आनंद सिंह दांगी ने पलटवार किया और कहा कि हरियाणा में भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ही कांग्रेस है और वही सबकुछ है। वीरवार को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर रोहतक पहुंचे और बाबा साहब डॉ. भीम राव अम्बेडकर के 66वें परिनिर्वाण दिवस पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में शिरक्त की।

उन्होंने कहा कि भारत रत्न डॉ. अम्बेडकर बहुप्रतिभा के धनी थे। डॉ. अम्बेडकर दलित वर्गो के ही नहीं बल्कि स्त्रियों की स्थिति में सुधार लाने के पक्ष में भी थे। ऐसा देशभक्त और प्रखर राष्ट्रवादी नेता के कदमों पर आज चलने की जरूरत की, जिन्होंने हमेशा गरीबों के लिए आजीवन संघर्ष किया और यही डॉ. भीमराव अम्बेडकर को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

बाद में कांग्रेस भवन में पत्रकारो से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में मेयर व पार्षद चुनावों के लिए कार्यकत्र्ताओं में भारी उत्साह था। इसके अलावा एक-एक वार्ड पर दर्जनों कांग्रेस कार्यकत्र्ता चुनाव लडऩा चाहते थे, जिसके चलते कांग्रेस कमेटी की बैठक में यह तय हुआ कि कांग्रेस पार्टी सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ेगी।

क्योंकि इन चुनावों में स्थानीय मुद्दे हावी रहते हैं और कांग्रेस किसी भी कार्यकत्र्ता को नाराज नहीं करना चाहती थी। इसलिए यह सर्वसम्मति से तय हुआ कि पार्टी सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ेगी। उन्होंने कहा कि जो अपने आप को कांग्रेस समर्थित बताते है, उनका पार्टी से कोई लेना देना नहीं है, यह पूर्व सीएम का निजी फैसला है। डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि भाजपा सरकार ने परिसीमन के नाम पर वोटर लिस्ट में भारी गड़बड़ी की है।

उन्होंने कहा कि इस तरह की साजिशें रचकर भाजपा ने नगर निकाय चुनावों में देरी की है। यमुनानगर में कांग्रेस प्रत्याशियों को चिन्हित करके उनके वार्डों को इस तरह से काटा गया है कि पति का वोट एक वार्ड में है तो पत्नी की वोट वार्ड दूसरे वार्ड में हो गयी है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार कहती है कि वे ईमानदारों की सरकार है, लेकिन जमीनों से जुड़े हुए मामलों में भारी भ्रष्टाचार चल रहा है। गुरूग्राम में सरकारी रास्ते को भ्रष्टाचार करके निजी हाथों में सौंपने की कार्यवाही भाजपा कर रही है।

जिसका कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से विरोध करती है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि सांप्रदायिक ताकतें अगर मजबूत होंगी तो देश व प्रदेश कमजोर होगा। उन्होंने कहा कि सभी कार्यकत्र्ता मिलकर भाजपा का विरोध करेंगे। उन्होंने बताया कि कांग्रेस सेल्फी विद गारबेज अभियान चलायेगी, जिसमें भाजपा के स्वच्छता अभियान की पोल खोली जायेगी।

उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी निशाना साधा और कहा कि दिल्ली को लूटने के बाद अब वह हरियाणा की तरफ चले है, लेकिन प्रदेश की जनता उनके झांसे में नहीं आएगी। इस दौरान उनके साथ राजेन्द्र शर्मा, युवा नेता सत्यवान दहिया, पूर्व मंत्री सुभाष बत्तरा, प्रो. कुलताज सिंह, आनंद हुड्डा प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

(मनमोहन कथूरिया)