जींद : कांग्रेस, भाजपा, इनेलो और जजपा के दिग्गजों ने जींद में गुरुवार को डेरा डालकर अपने-अपने प्रत्याशियों का नामांकन भरवाया। प्रमुख पार्टियों के कार्यकर्ताओं की भीड़ के कारण जींद दिन भर जाम की स्थिति में दिखाई दिया। व्यवस्था को बनाये रखने के लिए पुलिस को पसीने बहाने पड़े। नामांकन का आखिरी दिन होने और प्रमुख पार्टियों के नेताओं द्वारा जींद में डेरा डालने के कारण सुबह से लेकर शाम छह बजे तक पूरी गहमा-गहमी दिखाई दी।

भाजपा ने अपने प्रत्याशी डॉ. कृष्ण मिढ़ा के नामांकन से पहले शहर के अर्जुन स्टेडियम में जमा होकर शक्ति प्रदर्शन किया। इस शक्ति प्रदर्शन में प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा, सोनीपत सांसद रमेश कौशिक, राज्य सभा सांसद डीपी वत्स, परिवहन मंत्री कृष्ण पंवार, सुरेश भट्ठ, संजय भाटिया, मास्टर नरेंद्र गोगल, डॉ. एके चावला, जवाहर सैनी, अमरपाल राणा, रामफल लौट सहित अनेकों नेताओं ने गर्जना करते हुए पार्टी प्रत्याशी डॉ. कृष्ण मिढ़ा के लिए जीत का दावा ठोंका। प्रो. रामबिलास शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार ने जो पिछले चार सालों के दौरान कार्य किये है, उसके नतीजन जींद का चुनाव जीतने जा रहे हैं।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी रणदीप सूरजेवाला तो दूर की बात, उन्होंने उनके बाप शमशेर सूरजेवाला को भी नहीं छोड़ा था। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर जींद के मैदान में उतरे विधायक एवं पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सूरजेवाला के साथ पहुंचे कांग्रेस के दिग्गजों में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, पार्टी प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर, कुलदीप बिश्रोई, कुमारी शैलजा, किरण चौधरी,पूर्व मंत्री आफताब अहमद, प्रो. धर्मेंद्र ढुल, सुरेश गोयत जैसे नेताओं ने एक मंच पर आकर जीत का दावा ठोंका। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि जींद के अंदर कांग्रेस सरकार के शासनकाल में ही विकास कार्य हुए थे।

भाजपा ने तो महज यहां के लोगों को ठगने का काम किया है। इनेलो के विधायक एवं प्रतिपक्ष नेता अभय सिंह चौटाला ने पार्टी प्रत्याशी एवं जिला परिषद के उपप्रधान उमेद सिंह रेढू को मैदान में उतारा। नामांकन के दौरान खुद अभय सिंह चौटाला लघुसचिवालय पहुंचे। इस मौके पर अभय चौटाला ने कहा कि जींद चौ. देवीलाल की कर्मभूमि रही है और यहां के लोगों से जो जुड़ाव है, उसी के नतीजन ही पार्टी के स्थानीय नेता को ही मैदान में उतारा गया है।

सांसद दुष्यंत चौटाला खुद अपने भाई दिग्विजय चौटाला का नामांकन भरवाने के लिए आएं। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जींद के हित के लिए दिग्विजय चौटाला चुनाव लडऩे जा रहे है और निश्चित तौर पर सभी विरोधी पार्टियों को हराकर यहां विकास की बयार बहायेंगे। वहीं पूर्व मंत्री बृजमोहन सिंगला के बेटे अंशुल सिंगला ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन भरा।

– संजय शर्मा